Monday, June 14, 2021
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsShamliकोरोना में माता-पिता को खो चुके बच्चों को दिलाएं योजना का लाभ

कोरोना में माता-पिता को खो चुके बच्चों को दिलाएं योजना का लाभ

- Advertisement -
0
  • सभी बच्चों के घरों पर राशन, शिक्षा, स्वास्थ्य की व्यवस्था करें

जनवाणी ब्यूरो |

शामली: उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना को लेकर जिलाधिकारी ने अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए हैं कि कोरोना काल में जो बच्चे अपने माता-पिता को खो चुके हैं उन्हें योजना का पूरा लाभ दिलाया जाए।

शुक्रवार को कलक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी जसजीत कौर की अध्यक्षता में उप्र. मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना की बैठक में जिला प्रोबेशन अधिकारी प्रसून राय ने योजना के महत्वपूर्ण बिन्दुओं के बारे में जिलाधिकारी को विस्तार से जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि योजना के तहत आज तक बाल स्वराज पोर्टल पर 93 बच्चों की फीडिंग की जा चुकी है। यें ऐसे बच्चे हैं जो कोरोना या कोरोना काल में अन्य बीमारी के चलते अपने माता-पिता को खो चुके हैं। जिलाधिकारी ने जिला प्रोबेशन अधिकारी को निर्देशित किया कि सभी चिन्हित बच्चों के आवेदन पत्र यथाशीघ्र भरवाकर उन्हें लाभ दिलाया जाए। विभागीय कर्मचारियों के माध्यम से उनका भौतिक सत्यापन भी कराया जाए। साथ ही जिलाधिकारी ने कड़े निर्देश दिए कि सभी बच्चों की सूचना जिला पूर्ति कार्यालय को उपलब्ध कराकर उन्हे पर्याप्त राशन दिलाया जाए, यदि किसी का राशन कार्ड नहीं बना है, तो बनवा दिया जाए।

इसके अलावा जिलाधिकारी ने बेसिक शिक्षा अधिकारी एवं जिला विद्यालय निरीक्षक को निर्देश दिए कि उक्त बच्चों को विद्यालय में नि:शुल्क शिक्षा उपलब्ध कराई जाए। बैठक के उपरांत जिला अधिकारी ने योजना का व्यापक प्रचार प्रसार करने का निर्देश जिला प्रोबेशन अधिकारी एवं सभी खंड विकास अधिकारियों को निर्देश दिए। इस मौके पर मुख्य विकास अधिकारी शंभूनाथ तिवारी, परियोजना निदेशक ज्ञानेश्वर तिवारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी संतोष श्रीवास्तव, जिला प्रोबेशन अधिकारी प्रसून राय, समस्त खंड विकास अधिकारी, सदस्य बाल कल्याण समिति आदि उपस्थित रहे।

जिलाधिकारी ने वैक्सीनेशन सैंटर का किया निरीक्षण

कोरोना वायरस के दृष्टिगत जनपद में विभिन्न स्थानों पर एक जून से 18 से 44 वर्ष तथा 45 वर्ष तक की आयु वर्ग के व्यक्तियों को कोविड-19 वैक्सीनेशन किया जा रहा है। कोविड-19 वैक्सीनेशन के दृष्टिगत जिलाधिकारी जसजीत कौर ने विभिन्न कोविड-19 वैक्सीनेशन सेंटरों का निरीक्षण कर आवश्यक व्यवस्थाओं का जायजा लिया। डीएम ने मिल रोड स्थित हिंदू कन्या इंटर कॉलेज में अभिभावक स्पेशल हेतु बनाए गए कोविड-19 वैक्सीनेशन सेंटर का निरीक्षण किया। सेंटर पर टीकाकरण कार्य सुचारु रुप से चलता पाया गया।

महिला पॉलिटेक्निक में 18 से 44 वर्ष तथा 45 वर्ष के ऊपर वालों को टीकाकरण होता पाया गया। डीएम ने संबंधित डॉक्टरों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए साथ ही वैक्सीनेशन कराने आए लोगों का हाल भी जाना गया। जिलाधिकारी ने बताया कि जनपद में शुक्रवार को 45 वर्ष से ऊपर के व्यक्तियों का 49 प्रतिशत तथा 18 से 44 वर्ष तक की आयु वाले व्यक्तियों का 83 प्रतिशत टीकाकरण किया गया।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments