Sunday, October 24, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsShamliनपा शामली: चार करोड़ के अंतर के बीच 11 लाख की गड़बड़ी...

नपा शामली: चार करोड़ के अंतर के बीच 11 लाख की गड़बड़ी मिली

- Advertisement -
  • 11 लाख 44 हजार एक रुपया बट्टा खाते में डाला गया
  • चेयरपर्सन पति व पूर्व विधायक ने डीएम से की शिकायत

जनवाणी ब्यूरो |

शामली: नगर पालिका परिषद शामली के खाते और बैंक खाते में चल रहे करीब चार करोड़ के अंतर के बीच 11 लाख 44 हजार एक रुपये एक ओर गड़बड़ी सामने आई है।

चेयरपर्सन अंजना बंसल के पति व पूर्व विधायक राजेश्वर बंसल ने यह गड़बड़ी पकड़ी है जिसके बाद पूर्व विधायक ने जिलाधिकारी को जांच के लिए शिकायती पत्र सौंपा है।

उन्होंने इतनी गड़बड़ियां मिलने और कार्रवाई नहीं करने के चलते चेयरपर्सन इस्तीफा दे देंगी। वहीं जिलाधिकारी ने एक सप्ताह में जांच का आश्वासन दिया है।

शनिवार को पूर्व विधायक राजेश्वर बंसल रालोद के पूर्व जिलाध्यक्ष योगेंद्र चेयरमैन और पालिका के कुछ सभासदों के साथ कलक्ट्रेट में पहुंचे और जिलाधिकारी को शिकायती पत्र सौंपा है।

जिसमें पूर्व विधायक राजेश्वर बंसल ने बताया कि एक मामला पिछले करीब दो सालों से चल रहा है जिसमें पालिका के खातें में एवं बैंक के हिसाब में चार करोड़ के करीब का अंतर चल रहा है।

इसमें 24 फरवरी 2020 नगर पालिका की बुक में 11 लाख 44 हजार एक रुपये उच्चन्त खाते में लिखे हैं, यह बहुत गंभीर मामला है। उच्चन्त खाते में कोई रकम नहीं जानी चाहिए।

इस संबंध में चेयरपर्सन अंजना बंसल ने काफी पत्र डीएम, एडीएम और कमिश्नर सहारनपुर को भेजे लेकिन दो साल तक भी कोई कार्रवाई नहीं हुई।

अधिकारी बार-बार ईओ को पत्र लिखते देते हैं कि इसे जल्द से जल्द ठीक कराए लेकिन कुछ नतीजा नहीं निकलता। पूर्व विधायक ने मांग की है कि इस मामले में तुरंत एफआइआर के आदेश करें ताकि जांच होकर कहां गलती है इसका पता चल सके।

उधर, पूर्व विधायक राजेश्वर बंसल ने बताया कि जनता की गाढ़ी कमाई को किसी भी हालत में हड़पने नहीं दिया जाएगा। इतनी बड़ी रकम का उच्चन्त खाते में जाने से साफ है कि यह गबन करने की नीयत से किया गया है।

यह तो हमने प्राइवेट सीए से जांच कराई तब मामला पकड़ में आया हम जनता के पैसे को ऐसे ही नहीं नहीं हड़पने देंगे। पूर्व विधायक ने बताया कि हमने डीएम को साफ कहा दिया कि यदि जांच या कार्रवाई नहीं होती तो चेयरपर्सन इस्तीफा दे देंगी। इतना ही नहीं वहां मौजूद सभासदों ने भी इस्तीफा देने की बात कही। डीएम ने हमसे एक सप्ताह का समय मांगा है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments