Wednesday, December 1, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsShamli12 को ऊन तहसील कार्यालय व आवासीय भवन का सीएम योगी करेंगे...

12 को ऊन तहसील कार्यालय व आवासीय भवन का सीएम योगी करेंगे लोकार्पण

- Advertisement -

लखनऊ से मुख्यमंत्री आनलाइन करेंगे भवनों का लोकार्पण

जनवाणी संवाददाता |

ऊन: तहसील के भवन का निर्माण कार्य पूरा हो चुका है। 12 दिसंबर को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लखनऊ से तहसील कार्यालय एवं आवासीय भवनों का आॅनलाइन लोकार्पण करेंगे। जिसके लिए तैयारियां तेजी से चल रही है। जनपद की ऊन तहसील 4 जुलाई 2015 को अस्तित्व में आई थी।

जिसके बाद गत सपा सरकार द्वारा आवासीय एवं कार्यालय भवनों के निर्माण के लिए धनराशि जारी की गई थी। तहसील के आवासीय एवं कार्यालय भवन का निर्माण कार्य का ठेका उत्तर प्रदेश राज्य निर्माण सहकारी संघ लिमिटेड को दिया गया था।

सरकार बदलने के बाद योगी सरकार द्वारा भवनों के निर्माण के लिए दूसरी किस्त जारी की गई। भवनों का निर्माण कार्य अगस्त 2018 में पूरा हो गया था। जिसके बाद तत्कालीन जिलाधिकारी इंद्र विक्रम सिंह ने तहसील को ब्लॉक कार्यालय से नवीन भवन में शिफ्ट कर दिया था।

तहसील कार्यालय भवन में 571.70 लाख तथा आवासीय भवनों में 541.29 लाख रुपये की लागत आई है। पैकफेड कंपनी के परियोजना अभियंता संदीप कुमार इंदौरिया ने बताया कि तहसील के आवासीय एवं कार्यालय भवनों का निर्माण कार्य पूरा हो चुका है।

जनवरी 2020 में इसे प्रशासन को हस्तांतरित किया जा चुका है। शासन द्वारा संपूर्ण भुगतान भी किया जा चुका है। लेकिन अभी तक तहसील भवनों का लोकार्पण नहीं हो पाया था। 12 दिसंबर को अन्य विकास कार्यों के साथ मुख्यमंत्री तहसील ऊन के कार्यालय एवं आवासीय भवनों का लोकार्पण करेंगे हालांकि अभी कोई लिखित आदेश नहीं आया है। इस संबंध में उप जिलाधिकारी मणि अरोड़ा ने बताया कि तहसील कार्यालय एवं आवासीय भवनों का 12 दिसंबर को मुख्यमंत्री आॅनलाइन वीसी के द्वारा लोकार्पण करेंगे जिसके लिए तैयारियां चल रही है।

रोडवेज बसों के संचालन की मांग

तहसील मुख्यालय तक पहुंचने के लिए यातायात के संसाधनों की कमी के चलते क्षेत्रवासी परेशान हैं। ऊन से चौसाना, थानाभवन की तरफ आने जाने वाले क्षेत्रवासियों को भारी परेशानी उठानी पड़ती है दोनों मार्गों पर बसों का अभाव है। प्राइवेट बसें शाम 4 बजे बंद हो जाती है।

जिसके बाद यातायात का कोई साधन नहीं है। पूर्व में रोडवेज बसें चलनी शुरू हुई थी लेकिन वह भी बंद हो गई है। इस संबंध में टोडा निवासी विकास गिल ने मुख्यमंत्री पोर्टल पर शिकायत की। जिसके बाद सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक रोडवेज शामली डिपो ने बताया कि शामली डिपो में मात्र 23 अनुबंधित बसें हैं।

पूर्व में ऊन चौसाना व ऊन थानाभवन मार्ग पर मुजफ्फरनगर, खतौली डिपो की बसें चलती थी जो अब बंद है उन्होंने बताया कि दोनों डिपो के सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक को पत्र भेजकर बसें चलाने का अनुरोध किया गया है। अब देखना यह है कि बस कब तक संचालन शुरू करती है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments