Sunday, January 23, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsShamliहाइवे पर अंडरपास के विरोध में किसानों का बेमियादी धरना

हाइवे पर अंडरपास के विरोध में किसानों का बेमियादी धरना

- Advertisement -
  • मवी के स्थान पर पंजीठ के सामने अंडरपास बनाने की मांग
  • किसानों ने निर्माणाधीन अंडरपास का कार्य रुकवाया

जनवाणी संवाददाता |

कैराना: पानीपत से हरिद्वार के कोटद्वार तक 709 एडी का निर्माण कार्य तेजी से चल रहा हैं। जीआर इंफ्रा कंपनी द्वारा फोरलेन की सड़कों सहित पुल एवं अंडरपास का निर्माण कार्य कराया जा रहा है। कैराना क्षेत्र के गांव मवी के निकट बालाजी आईटीआई के सामने तीव्र घूम पर सर्विस रोड के लिए अंडरपास एवं पुल का निर्माण कार्य चल रहा है।

शुक्रवार को गांव मवी के पास पंजीठ चौराहा संघर्ष समिति के बैनर तले गांव पंजीठ, बुच्चाखेड़ी, झाड़खेड़ी मामोर, मवी, हैदरपुर, नगलाराई, रामडा, काकोर आदि करीब एक दर्जन गांवों के किसान व ग्रामीण अनिश्चितकालीन धरने पर बैठ गए। ग्रामीणों ने बताया कि पानीपत-खटीमा राजमार्ग पर गांव पंजीठ व रामडा के सामने पंजीठ चौराहा बना हुआ है। उक्त चौराहे से करीब एक दर्जन गांवों का आवागमन होता हैं।

साथ ही, कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय एवं जूनियर हाईस्कूल पंजीठ व गांवों के किसानों की कृषि भूमि भी मौजूद है। ग्रामीणों ने बताया कि गांवों के बच्चे शिक्षा ग्रहण करने के लिए स्कूलों में जाते हैं, जबकि नेशनल हाईवे का निर्माण कर रही कंपनी द्वारा मवी के पास एक पुल का निर्माण कार्य कराया जा रहा है। जिससे किसी भी गांव को फायदा नहीं होगा और पुल तीव्र मोड़ पर बनाया जा रहा हैं। आए दिन दुर्घटना होने की आशंका बनी हुई है।

ग्रामीणों ने कहा कि अंडरपास पंजीठ चौराहे पर बनने से करीब एक दर्जन गांवों के किसानों एवं ग्रामीणों को फायदा होगा। साथ ही, दुर्घटना होने से भी बच सकती हैं। ग्रामीणों ने जीआर इंफ्रा कंपनी के पीडी बागपत, शामली एडीएम व अन्य जनप्रतिनिाियों को शिकायत की है।

ग्रामीणों ने कहा कि जब तक नेशनल हाईवे का निर्माण कराने वाली कंपनी द्वारा पंजीठ चौराहे पर पुल का निर्माण नहीं शुरू नहीं कराया जाता तब तक उनका अनिश्चितकालीन धरना जारी रहेगा। इस दौरान पहल सिंह सैनी, मैनपाल पंवार, संजय, रमेश प्राान, बिल्लू प्रधान, अफसर, यामीन, प्रहलाद सैनी, अमित राणा आदि मौजूद रहें।

विरोध के करने के बाद बनाया गया था कट

नेशनल हाईवे 709 एडी का निर्माण शुरू होने के बाद पंजीठ चौराहे के पास कट नहीं बनाया गया था। जिस कारण आसपास के ग्रामीणों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा था। उस दौरान भी ग्रामीणों ने अधिकारियों को शिकायती पत्र देकर कट बनवाने की मांग की थी। जिसके बाद नेशनल हाईवे का निर्माण करा रही जीआर इंफ्रा कंपनी के ठेकेदारों ने पंजीठ चौराहे पर ग्रामीणों के पार होने के लिए कट बना दिया गया था।

पंजीठ निवासी पहलसिंह सैनी ने बताया कि नेशनल हाईवे के नक्शे में पंजीठ चौराहे पर कट भी नहीं दिखाया गया है। उन्होंने कहा कि फोरलेन का निर्माण कार्य पूरा होने के बाद कट को भी बंद कर दिया जाएगा। जिससे उनको परेशानी का सामना करना पड़ेगा।

केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान से लगाई गुहार

कई दिन पहले आसपास के गांवो के किसानों का एक प्रतिनिधि मंडल भाजपा के केंद्रीय मंत्री डा. संजीव बालियान से मिला था। बताया गया कि संजीव बालियान द्वारा किसानों की शिकायत से सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी को मामले से अवगत कराने का आश्वासन दिया हैं।

किसानों ने पुल का निर्माण कार्य बंद कराया

शुक्रवार को करीब एक दर्जन गांवों के किसान व ग्रामीण सुबह करीब 10 बजे निर्माणाधीन पुल के पास पहुंचे तथा पुल का निर्माण कर रहें कर्मचारियों को कार्य बंद करने को कहा। जिसके बाद जीआर इंफ्रा कंपनी के दो इंजीनियर किसानों के पास पहुंचे तथा उनकी समस्या जानी। किसानों द्वारा इंजीनियरों को समस्या से अवगत कराया गया। जिसके बाद इंजीनियर ने किसानों से पूछा कि पुल का निर्माण कार्य शुरू होने के बाद उनके द्वारा विरोा क्यों नहीं किया गया।

किसानों ने कहा कि जीआर इंफ्रा कंपनी के अािकारियों ने उनको पानी की निकासी के लिए केवल अंडरपास बनाने की बात कही थी, लेकिन अब पंजीठ चौराहे पर पुल का निर्माण न कराकर करीब 600 मीटर पहले तीव्र मोड़ पर पुल का निर्माण कराया जा रहा हैं जो कि पूरी तरह गलत हैं।

इंजीनियर ने पूछा कि अब उनको कार्य करना है या वें कार्य बंद कर दें। जिस पर किसानों ने कहा कि जब तक उनकी समस्या का समााान नहीं हो जाता तब तक निर्माण कार्य बंद कर दिया जाए। जिसके बाद कंपनी के इंजीनियरों ने निर्माण कार्य बंद कर दिया।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments