Sunday, October 17, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsMeerut...और भी कबाड़ियों का है ‘इकबाल’ बुलंद

…और भी कबाड़ियों का है ‘इकबाल’ बुलंद

- Advertisement -

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: सोतीगंज में एक इकबाल नहीं, बल्कि कई और भी कबाड़ियों का इकबाल सोतीगंज में बुलंद है। जिन पर पुलिस कार्रवाई नहीं कर पा रही है। पुलिस ही नहीं बल्कि जीएसटी के अधिकारी भी इन कबाड़ियों पर खास मेहरबान है। क्योंकि कबाड़ी जीएसटी के दायरे में आते हैं। मगर इनके यहां जीएसटी की छापेमारी तक नहीं की जाती है।

व्यापक स्तर पर उनके गोदाम में इंजन मौजूद है। इन इंजनों की भी जांच होनी चाहिए, तभी सच सामने आ सकता है। हालांकि दुर्घटनाग्रस्त वाहनों के इंजन होने का दावा किया जाता है, लेकिन इनकी जांच पड़ताल के बाद वास्तविकता भी पुलिस को पता चल जाएगी।

पहले भी इनकी जांच करने का एक बार बीड़ा उठा था, लेकिन हाजी गल्ला के गोदाम की जांच होने के बाद मामले को ठंडे बस्ते में डाल दिया गया था। फिलहाल हाजी गल्ला, शमसूद्दीन, हाजी मुस्ताक, एचएम वाले, आबिद, हाफीज पटेलनगर आदि के बड़े-बड़े गोदाम है, जिनकी जांच पड़ताल होती है तो वहां पर व्यापक स्तर पर कार के इंजन गोदाम में रखे हुए हैं। ये इंजन चोरी के है या फिर नहीं। इसकी सच्चाई भी पता चलेगी।

क्योंकि इंजन के चेसिस नंबर व अन्य रिकॉर्ड भी खंगाले जा सकते है, ताकि सच तक पहुंचा जा सके। जिस तरह से पुलिस छानबीन कर रही है,उससे तो यही पता चलता है कि तमाम कबाड़ियों के गोदाम की जांच पड़ताल की जाएगी, जिसमें मौजूद इंजन व अन्य की जानकारी जुटाई जा सकती है।

इसमें अकेले इकबाल ही नहीं, बल्कि कई और भी बड़े कबाड़ी जांच के दायरे में आ सकते हैं। पुलिस की छानबीन के बाद कबाड़ी घबराये हुए हैं। पुलिस का इन पर शिकंजा कसा जा सकता है। हालांकि कबाड़ियों के द्वारा पुलिस को दुर्घटनाग्रस्त कार को खरीदना बताया है, जिनकी आरसी व अन्य दस्तावेज भी पुलिस को उपलब्ध कराये हैं, मगर इनकी भी पुलिस छानबीन कर रही है।

कहीं आरसी फर्जी तो नहीं बनवाई गई है। आरसी पर जो चेसिस नंबर अंकित है, वहीं इंजन पर नंबर है या फिर नहीं। इन तमाम तथ्यों की छानबीन पुलिस कर रही है।

पुलिस टीम को 20 हजार रुपये का इनाम

एसएसपी अजय साहनी के सदर बाजार एसओ दिनेश चंद को घटना के खुलासे को लेकर पुलिस टीम को 20 हजार रुपये का इनाम दिया है।

कबाड़ियों पर होगी गैंगस्टर ऐक्ट की कार्रवाई

एसपी सिटी ने सभी कबाड़ियों की हिस्ट्रीशीट खोलकर गैंगस्टर ऐक्ट की कार्रवाई की जाएगी। जो भी इस मामले में जांच कर सभी दोषियों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

लखनऊ के चिनहट थाने में मुकदमा दर्ज

बीते छह जून को राजधानी लखनऊ में थाना चिनहट में कबाड़ी अबरार, अफजाल के खिलाफ 50 चोरी की गाड़ियों का मुकदमा दर्ज किया गया था।

कई राज्यों में फैला था अवैध वाहनों का गोरखधंधा

पुलिस की पूछताछ में कबाड़ी अबरार ने बताया कि दिल्ली, एनसीआर, यूपी, हरियाणा, मुंबई, उत्तराखंड सहित कई राज्यों कबाड़ी वाहनों का अवैध गोरखधंधा जोड़ रखा था।

कबाड़ियों पर लगातार होगी कार्रवाई

एएसपी डा. ईरज रजा बोले-सोतीगंज में लगातार छापेमारी कर कबाड़ियों पर शिकंजा कसा जाएगा। लूट और चोरी के वाहन काटने वाले कई और कबाड़ी पुलिस की राडर पर है।

कबाड़ी की संपत्ति की होगी जांच

एसपी सिटी ने बताया कि कबाड़ियों की संपत्तियों की जांच कराई जा रही है। करोड़ों की संपत्ति अर्जित की गई। सभी को जब्त किया जाएगा।

अंग्रेजों के जमाने की भी गाड़ियों के पार्ट्स

गिरफ्तार कबाड़ी कई चौकाने वाले खुलासे किए उसने बताया कि अंगे्रजों के जमाने की भी गाड़ियों के पार्ट्स मिलते हैं। 1947 की जीप के कई पार्ट्स मिले हैं। उन्होंने भी जांच के लिये भेजा गया है।

ये माल हुआ बरामद

  • एक इनोवा सफे द रंग
  • एक महिन्द्रा सफेद रंग
  • हुंडई आई10 कार सफे द रंग
  • महिन्द्रा कार काला रंग
  • बुलेरो सफेद रंग
  • 51 इंजन गाड़ियों के
  • 20 वाहनों के चेसिस
  • 30 एसीएम
  • गाड़ी के काटे हुए रिम और टायर
  • 100 धुरे
  • 80 रिम

लखनऊ से चल रहा था वांछित, सदर बाजार थाने में एसपी सिटी और एएसपी ने प्रेसवार्ता कर किया बड़ा खुलासा

जनपद में लूट व चोरी वाहनों के इंजन के चेसिस नंबर बदलकर बेचने वाले सौदागार हाजी इकबाल के बेटे अबरार को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपी कबाड़ी और उसका भाई लखनऊ से भी वाहन चोरी के मुकदमे में वांछित चल रहा था। आरोपी के पास से पांच लग्जरी कारें, इंजन और चेसिस भारी मात्रा में इंजन का सामान बरामद किया है।

सोमवार को सदर बाजार थाने में एसपी सिटी डा. अखिलेश नारायण सिंह, एएसपी डा. ईरज राजा ने प्रेसवार्ता करते हुए बताया कि एएसपी के नेतृत्व में सदर बाजार पुलिस लगातार छापेमारी कर कबाड़ी हाजी इकबाल के गोदामों से इंजन व चेसिस व लग्जरी कारें बरामद की थी। सभी इंजनों व चेसिस की जांच के लिये गाजियाबाद जिला के निवाड़ी विधि विज्ञान प्रयोगशाला भेजा गया था।

जांच में पांच लग्जरी गाड़ियों के चेसिस घिसकर नए चेसिस नंबर दिए थे। बीते 13 नवंबर जांच रिपोर्ट आने पर सदर बाजार थाने में कबाड़ी हाजी इकबाल के बेटे अबरार, अफजाल, इमरान के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था। सोमवार को पुलिस ने मुकदमे में वांछित कबाड़ी इकबाल के बेटे अबरार को गिरफ्तार किया है। आरोपी के पास से पांच लग्जरी कारें, इंजन वाहनों के चेसिस, एसीएम, गाड़ियों के रिम व टायर बरामद किए हैं। फरार कबाड़ियों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments