Friday, July 19, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerut10 साल से स्टेरायड बेचने का काम कर रहा था शाहरुख

10 साल से स्टेरायड बेचने का काम कर रहा था शाहरुख

- Advertisement -
  • आरोपी की जीएसटी और इनकम टैक्स के अधिकारी कर रहे जांच
  • पुलिस फरार सदस्यों की तलाश में जुटी

जनवाणी संवाददाता |

कंकरखेड़ा: शनिवार को पुलिस की कार्रवाई में पकड़ा गया नकली स्टेरायड व फूड सप्लीमेंट का सौदागर शाहरुख उर्फ आरिफ लगभग 10 साल से इस अवैध धंधे से जुड़ा है। इस अवैध धंधे से आरोपी शाहरुख 10 साल में करोड़ों रुपये की संपत्ति का मालिक बन गया। जीएसटी व इनकम टैक्स की टीम के अधिकारियों ने आरोपी से पूछताछ की। थाना पुलिस आरोपी के गैंग के फरार सदस्यों की तलाश में जुट गई है।

थाना क्षेत्र के भोला रोड पर शाहरुख उर्फ आरिफ पुत्र इस्माइल अपनी पत्नी मनीषा और दो बेटे के साथ रह रहा था। पुलिस जांच में सामने आया है कि शाहरुख आठ साल पूर्व दिल्ली छोड़कर मेरठ आ गया था। इस दौरान वह शहर के कई इलाकों में अपने परिवार के साथ रह रहा था। भोला रोड पर उसने चार साल पूर्व एक लगभग 70 गज का प्लॉट खरीद कर मकान बनाया था।

आरोपी शाहरुख पहले दिल्ली में दुकानों पर दवाइयां सप्लाई करने का काम करता था। जिसके बाद शाहरुख उर्फ आरिफ ने नकली स्टेरायड व फूड सप्लीमेंट बेचने का कारोबार शुरू किया। आरोपी ने दिल्ली से लेकर जम्मू-कश्मीर तक अपने नकली स्टेरायड व फूड सप्लीमेंट के काले साम्राज्य को बड़े स्तर पर 10 सालों के अंदर फैला दिया। आरोपी दिल्ली से कच्चा माल उठाता था। फिर तैयार कर उत्तर प्रदेश सहित अन्य कई राज्यों में सप्लाई करता था।

14 19

आरोपी कई राज्यों व जिलों के बड़े जिम ट्रेनर व कोच के संपर्क में था। इन्हीं के माध्यम से अपनी डील तय करता था। शनिवार को एसपी क्राइम अनित कुमार के नेतृत्व में सर्विलेंस, थाना पुलिस व ड्रग विभाग की टीम ने शाहरुख के घर पर छापा मारा। पुलिस को एक करोड़ रुपये से ऊपर कीमत के नकली स्टेरायड व फूड सप्लीमेंट बरामद हुए। आरोपी ने घर के अलमारी के नीचे एक तहखाने से 42 लाख रुपये भी बरामद हुए।

पुलिस को मौके से विदेशी कंपनी ब्लैक मांबा, मास अप मसल मार्क गेनर, फिश आॅयल, डेबोलोन, जाएथोजिन, स्ट्रोमबीयर, एमके-677 आईबीयूटमोरेन व मीस्कीलनयूस कंपनी के मार्का बरामद हुए। पुलिस ने मुख्य आरोपी शाहरुख उर्फ आरिफ सहित नौ आरोपियों के खिलाफ गंभीर धाराओं में रविवार को मुकदमा दर्ज कर दिया। रविवार को जीएसटी के डिप्टी कमिश्नर सीएस वर्मा व वीरेंद्र नारायण थाने पहुंचे।

दोनों अधिकारियों ने आरोपी से पूछताछ की। कंकरखेड़ा इंस्पेक्टर उत्तम सिंह राठौर ने बताया कि शाहरुख सहित नौ आरोपियों के खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है। शाहरुख पुलिस हिरासत में है। सोहेल, शाहबाज, इमरान पुत्र सईद अहमद, दाऊद सैफी व बिलाल सैफी पुत्र सलीम, यामीन, कासिम व दिल्ली का गुप्ता डीलर अभी पुलिस की पकड़ से दूर है। फरार आरोपी की तलाश में कई टीमें लगी हुई हैं।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
2
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments