Sunday, February 25, 2024
HomeUttar Pradesh NewsMeerutएडीजी ने किया पल्लवपुरम थाने का निरीक्षण

एडीजी ने किया पल्लवपुरम थाने का निरीक्षण

- Advertisement -
  • साइबर क्राइम से संबंधित प्रार्थना पत्रों, हिस्ट्रीशीटर रजिस्ट्ररों को किया चेक

जनवाणी संवाददाता |

मोदीपुरम: मेरठ जोन के नवनियुक्त एडीजी धु्रवकांत ठाकुर शनिवार सुबह पल्लवपुरम थाने पहुंच गए। एडीजी ने थाने के समस्त रजिस्ट्ररों और साइबर क्राइम से संबंधित प्रार्थना पत्रों और हिस्ट्रीशीटर रजिस्ट्ररों और आगंतुक रजिस्ट्रर को चेक किया। एडीजी की क्लास में इंस्पेक्टर पल्लवपुरम और क्षेत्राधिकारी दौराला अभिषेक पटेल फेल साबित हुए। एडीजी ने बारी-बारी से सभी का जवाब मांगा, लेकिन दोनों अधिकारी एडीजी को संतुष्ट नहीं कर पाए।

हालांकि बाद में एडीजी एक रजिस्ट्रर पर दो पन्नों का हिंदी में लिखकर गए और उक्त रजिस्ट्रर की छाया प्रति को कार्यालय में भिजवाने का निर्देश देकर चले गए। एडीजी के इस निरीक्षण से पल्लवपुरम थाने पर हड़कंप मचा रहा। शनिवार सुबह एडीजी के आने का किसी को भी नहीं पता चला। हालांकि जब एडीजी थाना परिसर में पहुंचे तो जब साफ-सफाई चल रही थी। लगभग आधा घंटे तक एडीजी ने तमात रजिस्ट्रर चेक किए और सभी दस्तावेजों से संबंधित जानकारी हासिल की और निरीक्षण करने के बाद वापस चले गए।

क्राइम मीटिंग में अपराधियों पर नजर के निर्देश

मेरठ: क्राइम मीटिंग में सभी पुलिस क्षेत्राधिकारियों लोकसभा चुनाव के मद्देनजर तैयारियों के निर्देश दिए गए हैं। जो भी अपराधी हैं उन पर नजर रखी जाए। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक रोहित सजवाण ने शनिवार रात करीब ढाई घंटे तक क्राइम मीटिंग ली। इसमें एसपी सिटी आयुष विक्रम सिंह, एसपी देहात कमलेश बहादुर सिंह, एएसपी सदर आदित्य बंसल, सीओ सिविल लाइन अभिषेक तिवारी, सीओ कोतवाली आशुतोष, सीओ सरधना संजय बंसल समेत तमाम सीओ मौजूद रहे।

एसएसपी ने लोकसभा चुनाव के मददे नजर अपडेट रहने तथा सीओ से उनके सर्किल में पड़ने वाले पोलिंग बूथों के निरीक्षण तथा उससे संबंधित सुरक्षा इंतजामों को दुरुस्त कर लेने के भी निर्देश दिए। पोलिंग बूथों पर कैमरों आदि की व्यवस्था प्रवेश व निकास द्वार दोनों ही जगह होनी चाहिए। इसके अलावा सर्किल में पड़ने वाले थाना क्षेत्रों में जो भी अपराधी हों उन पर नजर रखी जाए।

चुनाव होने तक निरंतर उनका सत्यापन किया जाए। जो भी हिस्ट्रीशीटर हैं या ऐसे अपराधी जो इन दिनों अदालत से जमानत पर जेल से बाहर हैं उनका भी सत्यापन किया जाए। थानों में अपराधियों के जो रजिस्टर हैं उसको भी अपडेट रखा जाना चाहिए।

जमीन बिक्री के बहाने छह लाख ठगे

किठौर: हसनपुर कलां में मेरठ-गढ़ रोड पर जमीन देने के बहाने मेरठ के व्यापारी से छह लाख रुपये ठग लिए गए। राजफाश होने पर व्यापारी ने रकम वापस मांगी तो उसे फर्जी चैक थमा दिया गया। पीड़ित ने एसएसपी से गुहार कर आरोपियों के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज कराई है। लिसाड़ीगेट किदवईनगर निवासी मंजूर अहमद पुत्र कलवा ने एसएसपी को दिए प्रार्थना पत्र में बताया कि वह अपने मोहल्ले में दुकान करता है।

दो अप्रैल को किठौर का गोविंदपुर निवासी रोहित उसके पास पहुंचा और कहा कि हसनपुरकलां निवासी राजदीप पुत्र धीरज मेरठ-गढ़ रोड स्थित अपनी दो बीघा जमीन बेच रहा है। मुनाफे का सौदा है और जल्द ही वह इस जमीन को दोगुने दामों में बिकवा देगा। कुछ दिन बाद रोहित जसवीर निवासी समयपुर और दीपक पुत्र राजपाल निवासी बढला को लेकर पुन: मंजूर के पास पहुंचा और मुनाफे का यकीन दिलाया।

जिस पर मंजूर ने अपने पुत्र शानमौ. व पुत्र सरफराज के साथ हसनपुर जाकर जमीन देखी और 17 अप्रैल को 16 लाख रुपये में जमीन तय कर छह लाख रुपये बयाना दे दिया। 10 लाख रुपये बैनामे पर देने तय हो गए। बताया कि एक दिन मंजूर शानमौ. और सरफराज के साथ जमीन की पैमाइश करने पहुंचा तो वहां मिले ग्रामीणों नीलम व मोहित ने जमीन अपनी बताते हुए मंजूर को ठगे जाने की जानकारी दी।

हड़बड़ाया मंजूर अपने बेटे व दामाद के साथ राजदीप के घर पहुंचा तो उसने मंजूर को और बेहतर जमीन दिलाने का भरोसा दिलाया। आरोप है कि कुछ दिन बाद आरोपी ने मंजूर का फोन रिसीव करना भी बंद कर दिया। बकौल मंजूर एक दिन जैसे-तैसे घेराबंदी कर मंजूर ने राजदीप को उसके घर पकड़ा तो उसने बयाने की रकम लौटाना कबूल कर लिया। साथ ही भारतीय स्टेट का एक लाख रुपये का चेक मंजूर को दे दिया।

पांच लाख रुपये उसी दिन शाम को अपने पिता धीरज से ले जाने की बात कही। मंजूर ने बैंक में चैक लगाया तो आरोपी के खाते में रुपये न थे। एसएसपी रोहित सिंह साजवाण के आदेश पर किठौर में आरोपियों के विरुद्ध एकराय होकर धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज हुई है। इंस्पेक्टर सुनील सिंह का कहना है जांच कर आरोपियों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई की जाएगी।

ज्वेलर्स की दुकान में डकैती का प्रयास

कंकरखेड़ा: जंगेठी गांव में शुक्रवार देर रात आधा दर्जन बदमाशों ने ज्वेलर्स की दुकान का ताला तोड़कर डकैती का प्रयास किया, लेकिन घटना के दौरान आवाज सुनकर ग्रामीण की आंख खुल गई। ग्रामीण ने शोर मचा दिया। जिसके बाद बदमाश मौके से फरार हो गए। सरधना रोड पर करनाल हाइवे स्थित ड्रीम सिटी कॉलोनी निवासी मुकेश कुमार पुत्र वेद प्रकाश ने शनिवार को थाने पर तहरीर देते हुए बताया कि उसने जंगेठी गांव में काव्य ज्वेलर्स के नाम से एक दुकान खोल रखी है।

शुक्रवार रात में दुकान बंद कर घर पर चले गए थे। शुक्रवार देर रात लगभग आधा दर्जन नकाबपोश बदमाश उसकी दुकान पर पहुंचे। जहां बदमाशों ने दुकान के शटर का ताला तोड़ दिया। इसी बीच मकान मालिक की आंख खुल गई। ग्रामीण ने शोर मचा दिया। ग्रामीण की आवाज सुनकर आसपास के अन्य लोग भी मौके पर इकट्ठा हो गए। इसके बाद बदमाश बिना घटना को अंजाम दिए मौके से भाग गए। इस दौरान ग्रामीणों ने बदमाशों की तलाश में गांव में खोजबीन की।

सूचना मिलने के बाद दुकान स्वामी भी मौके पर पहुंच गया। पीड़ित ने फोन कर पुलिस को मामले की जानकारी दी। ग्रामीण व पुलिस ने बदमाशों की तलाश में सर्च अभियान चलाया, लेकिन बदमाशों का सुराग नहीं लग सका। वहीं, बदमाश दुकान में लगे सीसीटीवी में कैद हो गए। थाना प्रभारी देवेश सिंह का कहना है की तहरीर मिल गई है। सीसीटीवी के आधार पर बदमाशों को जल्द पकड़ लिया जाएगा।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments