Sunday, January 23, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh Newsअखिलेश यादव हताशा में डूबे राजनेता: सिद्धार्थ नाथ सिंह

अखिलेश यादव हताशा में डूबे राजनेता: सिद्धार्थ नाथ सिंह

- Advertisement -
  • अपने गठबंधन की गुत्थी सुलझाने के स्थान पर वह भाजपा सरकार पर अनर्गल बयान दे रहे हैं
  • अखिलेश बताएं कि सपा की 350 सीटों के अलावा वह किस सहयोगी को कितनी सीटें देंगे : सिद्धार्थ

जनवाणी ब्यूरो |

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के वरिष्ठ मंत्री तथा सरकार के प्रवक्ता सिद्धार्थ नाथ सिंह ने सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को हताशा में डूबा हुआ राजनेता करार देते हुए कहा है कि अपने गठबंधन की गुत्थी सुलझाने के स्थान पर वह भाजपा सरकार पर अनर्गल बयान देकर जनता का ध्यान भटकने का असफल प्रयास कर रहे हैं।

सिंह ने यहाँ जारी एक वक्तव्य में कहा कि अखिलेश 350 सीटों पर चुनाव लड़ने की घोषणा कर चुके हैं और शेष 53 सीटों पर वह किसको कितनी सीटें देंगे ,यह भी बताना ज़रूरी है। ओम प्रकाश राजभर, अपने चाचा शिवपाल यादव और न जाने किस किस दलों को वह अपने साथ चुनाव लड़ने का न्योता दे चुके हैं। अखिलेश ज़रा बताने का कष्ट करें कि अगले विधान सभा चुनाव में वह इन 53 सीटों में से सुभासपा और शिवपाल यादव की प्रगतिशील समाजवादी पार्टी और अन्य दलों को कितनी सीटें देंगे।

सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि सीट बॅटवारे को लेकर घमासान झेल रहे सपा अध्यक्ष भाजपा के अंदरूनी मामलों में दखल दे रहे हैं जबकि उनकी बातों को जनता गंभीरता से नहीं ले रही है। उन्होंने कहा कि वैसे भी साढ़े चार साल तक जनता से दूर रहने के कारण अखिलेश को ज़मीनी सच्चाई का पता भी अब चला है। उन्होंने अब यह देखा कि 2017 में जो प्रदेश उन्होंने छोड़ा था ,उसका स्वरुप ही बदल चूका है और जनता कितनी खुश है। उनकी हताशा का मुख्य वजह भी शायद यही है कि बढ़िया कानून व्यवस्था, महिला सुरक्षा, गुंडागर्दी का खात्मा ,ऐसे काम करके योगी सरकार जनता के दिल में जगह बन चुकी है।

यूपी सरकार के प्रवक्ता ने कहा कि उटपटांग बातें अखिलेश की फितरत हो चुकी है। कुछ नहीं समझ में आ रहा है तो नया शगूफा छोड़ दिया कि उनकी पार्टी के फ़ोन टेप हो रहे हैं। अखिलेश आत्ममुग्धता के शिकार हैं और जनता से दुत्कारे जाने के बाद ऐसे अनर्गल बयान देकर वह अपनी महत्ता दर्शा दर्शा रहे हैं जिसका कही कोई स्थान ही नहीं है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments