Wednesday, July 24, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh Newsलखनऊ / आस-पासनशे का कारोबार करने वालों के भी सार्वजनिक स्थानों पर लगेंगे पोस्टर:...

नशे का कारोबार करने वालों के भी सार्वजनिक स्थानों पर लगेंगे पोस्टर: सीएम योगी

- Advertisement -
  • प्रदेश भर के ड्रग माफियाओं की अवैध संपत्ति जब्त करने के सीएम योगी ने दिए निर्देश
  • अब नशे के कारोबारियों की यूपी में खैर नहीं, एंटी नारकोटिक्स टास्क फोर्स का हुआ गठन
  • अवैध शराब और ड्रग माफियाओं के खिलाफ चल रहे अभियान की सीएम योगी ने की समीक्षा
  • कहा, ये सभी राष्ट्रीय अपराधी हैं, इन्हें हर हाल में दंडित होना चाहिए

जनवाणी ब्यूरो |

लखनऊ: प्रदेश में दंगाइयों और अपराधियों पर शिकंजा कसने के बाद अब योगी सरकार प्रदेश के ड्रग माफियाओं पर चाबुक चला रही है। सीएम योगी ने आज अवैध शराब और ड्रग के खिलाफ़ चलाए जा रहे अभियान की समीक्षा की। इस दौरान सीएम योगी ने ड्रग और अवैध शराब माफियाओं के खिलाफ़ कठोरतम कार्रवाई करते हुए नशे के कारोबार में लिप्त लोगों के पोस्टर सार्वजनिक स्थानों पर लगाने के निर्देश दिए है। यही नहीं उत्तर प्रदेश सरकार ने प्रदेश में एंटी नारकोटिक्स टास्क फोर्स ( एएनटीएफ) का गठन कर दिया है। इसके तहत जोन/क्षेत्रीय स्तर पर नारकोटिक्स पुलिस थाना की स्थापना की जाएगी।

पहले चरण में होगा बाराबंकी और गाजीपुर में थाना स्थापित

पहले चरण में बाराबंकी और गाजीपुर में नारकोटिक्स थाना स्थापित किए जाएंगे। वहीं एंटी नारकोटिक्स टास्क फोर्स पूरे उत्तर प्रदेश में तीन रीजन ( वेस्ट, सेंट्रल व ईस्ट ) में विभाजित किया गया है। मुख्यालय स्तर पर एंटी नारकोटिक्स टास्क फोर्स के प्रभारी पुलिस उप महानिरीक्षक ( एएनटीएफ) होंगे। जिनके साथ पुलिस अधीक्षक ( एएनटीएफ) ऑपरेशन एवं पुलिस अधीक्षक ( एनएटीएफ) मुख्यालय नियुक्त रहेंगे। इसके साथ ही मुख्यालय स्तर पर अपर पुलिस अधीक्षक ऑपरेशन एवं अपर पुलिस अधीक्षक मुख्यालय और पुलिस उपाधीक्षक-ऑपरेशन एवं पुलिस उपाधीक्षक मुख्यालय नियुक्त होंगे। तीनों रीजन ( वेस्ट, सेंट्रल और ईस्ट) के प्रभारी पुलिस उपाधीक्षक होंगे। वेस्ट रीजन के अन्तर्गत मेरठ, बरेली, आगरा, सेंट्रल रीजन के अन्तर्गत लखनऊ, कानपुर तथा ईस्ट रीजन के अन्तर्गत प्रयागराज, गोरखपुर व वाराणसी जोन आयेंगे। इन जोनल प्रभारियों को आवश्यक संशाधन भी उपलब्ध कराये जायेंगे।

इस अभियान में चिन्हित अपराधियों की संपत्ति भी होगी जब्त

मुख्यमंत्री योगी ने निर्देश देते हुए कहा कि इस अभियान में चिन्हित अपराधियों की संपत्ति भी जब्त किया जाए और सार्वजनिक स्थानों पर इनके पोस्टर लगाए जाएं ताकि राष्ट्र के खिलाफ़ अपराध कर रहे अपराधियों को समाज में सबक सिखाया जा सके। उन्होंने कहा कि ये सभी राष्ट्रीय अपराधी हैं और इन्हें हर हाल में दंडित होना चाहिए।

साढ़े पांच करोड़ से ज्यादा की कीमत के मादक पदार्थ बरामद

पहले चरण में चलाए गए इस अभियान के तहत प्रदेश भर के 342 हुक्काबारों और अवैध मादक पदार्थ की तस्करी करने वालों के 4338 ठिकानों पर छापे मारते हुए 785 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया है। यहीं नहीं इन लोगों के पास से साढ़े पांच करोड़ रूपये से ज्यादा की कीमत के मादक पदार्थ बरामद किए गए हैं।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments