Tuesday, July 27, 2021
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeSports Newsजीत के साथ बेल्जियम अंतिम-16 में

जीत के साथ बेल्जियम अंतिम-16 में

- Advertisement -

जनवाणी ब्यूरो |

नई दिल्ली: दुनिया की नंबर एक टीम बेल्जियम ने अपनी ख्याति के अनुरूप प्रदर्शन करते हुए यूरोपीय फुटबॉल चैंपियनशिप में जीत की हैट्रिक लगाते हुए सोमवार को फिनलैंड को 2-0 से हराया। ग्रुप चरण में इटली और नीदरलैंड के बाद लगातार तीन मैच जीतने वाली वह तीसरी टीम है।

किसी बड़े टूर्नामेंट में पहली बार खेल रही फिनलैंड तीसरे स्थान पर रही। बेल्जियम के लिए रोमेलू लुकाकू ने 81वें मिनट में दूसरा गोल किया जो टूर्नामेंट में उनका तीसरा गोल है। पहला गोल फिनलैंड के गोलकीपर लुकास राडेकी के सौजन्य से मिला जिन्होंने आत्मघाती गोल दागा। वहीं रूस को 4-1 से हराकर डेनमार्क ने यूरोपीय फुटबॉल चैंपियनशिप के अगले दौर में प्रवेश कर लिया।

गोल करने के बाद डेनमार्क के स्ट्राइकर जोकिम माहले ने टीवी कैमरे के सामने जाकर अपने हाथ से ‘10’ का इशारा किया जो क्रिस्टियन एरिक्सन का जर्सी नंबर है। एरिक्सन पहले ही मैच में दिल का दौरा पड़ने से मैदान पर गिर गए थे। इसके बाद से टीम दो मैच हार गई थी और यह उसके लिए ‘करो या मरो’ का मुकाबला था। डेनमार्क अब ग्रुप बी में दूसरे स्थान पर है और उसने अंतिम-16 में प्रवेश कर लिया है।

कोच कास्पर एच ने कहा कि हमारे खिलाड़ियों को इस जीत का पूरा श्रेय जाता है। मैं कल्पना भी नहीं कर सकता कि पहले मैच की घटना के बाद कैसे उन्होंने वापसी की। एरिक्सन को शुक्रवार को अस्पताल से छुट्टी मिल गई । डेनमार्क, रूस और फिनलैंड तीनों के तीन-तीन अंक थे लेकिन बेहतर गोल औसत के आधार पर डेनमार्क ने बाजी मारी। बेल्जियम ग्रुप में शीर्ष पर रहा। अब डेनमार्क का सामना शनिवार को एम्सटरडम में वेल्स से होगा।

आस्ट्रिया ने उक्रेन को 1-0 से हराया

क्रिस्टोफ बाउमगार्टनेर के गोल की मदद से आस्ट्रिया ने उक्रेन को हराकर यूरोपीय फुटबॉल चैंपियनशिप के अगले दौर में जगह पक्की कर ली। क्रिस्टोफ 17वें मिनट में इलिया जबारनी से टकरा गए थे और उन्हें चिकित्सा सहायता लेनी पड़ी । चार मिनट बाद उन्होंने कप्तान डेविड अलाबा से मिले क्रॉस पर गोल कर दिया। उन्हें हालांकि 32वें मिनट में मैदान छोड़ना पड़ा और वह सिर पकड़कर बाहर निकलते नजर आए।

कोच ने बाद में बताया कि उनकी हालतठीक है। आस्ट्रिया ने 2008 और 2016 यूरो चैंपियनशिप में एक भी जीत दर्ज नहीं की थी और छह मैचों में दो ड्रॉ खेलकर एक ही गोल किया था। पहले मैच में उत्तरी मेसाडोनिया पर मिली जीत 31 साल में किसी बड़े टूर्नामेंट में उसकी पहली जीत थी। नीदरलैंड से हारने के बावजूद वह ग्रुप सी में दूसरे स्थान पर रहा। अब उसका सामना शनिवार को लंदन में इटली से होगा।

नीदरलैंड ने उत्तरी मेसाडोनिया को 3-0 से हराया

मेंफिस डिपे के शानदार खेल की मदद से नीदरलैंड ने यूरोपीय फुटबॉल चैंपियनशिप में अपना अजेय अभियान कायम रखते हुए उत्तरी मेसाडोनिया को 3-0 से हराया। इटली के बाद नीदरलैंड दूसरी टीम है जिसने ग्रुप चरण में तीनों मैच जीते। मेंफिस ने 24वें मिनट में एक गोल किया और 51वें मिनट में दूसरे गोल में जार्जिनियो विजनाल्डम की मदद की।

इसके सात मिनट बाद गोलकीपर ने उनका शॉट बचा लिया लेकिन रिबाउंड पर जार्जिनियो ने गोल दाग दिया। मेंफिस ने इसी सप्ताह लियोन को छोड़कर बार्सिलोना के साथ करार किया है। वहीं जार्जिनियो अब लिवरपूल की बजाय पेरिस सेंट जर्मेन के लिए खेलेंगे। इस मैच से पहले ही नीदरलैंड अगले दौर से पहुंच चुका था और उत्तरी मेसाडोनिया बाहर हो चुका था। उत्तरी मेसाडोनिया के कप्तान गोरान पांडेव का यह आखिरी मैच था।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments