Thursday, May 30, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh Newsमहाकुंभ 2025 के लिए प्रयागराज तक कनेक्टिविटी में होगा बड़ा सुधार

महाकुंभ 2025 के लिए प्रयागराज तक कनेक्टिविटी में होगा बड़ा सुधार

- Advertisement -
  • महाकुंभ की तैयारी के लिए मुख्यमंत्री ने विभागीय अधिकारियों को रोडमैप तैयार करने के दिए निर्देश
  • तीर्थयात्रियों के सुगम आवागमन के लिए प्रयागराज से लखनऊ और दिल्ली तक सुपरफास्ट ट्रेनों की होगी व्यवस्था
  • प्रयागराज की कनेक्टिविटी को भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण द्वारा सुदृढ़ कराया जाएगा
  • अक्टूबर 2024 तक सभी सड़कों को पूर्ण करने के लिए एनएचएआई को दिए निर्देश

जनवाणी ब्यूरो |

लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में 2025 का महाकुंभ भव्य होने जा रहा है। महाकुंभ की तैयारी के लिए मुख्यमंत्री ने अभी से अधिकारियों को रोडमैप तैयार करने के दिशा-निर्देश दिए हैं। हाल ही में मुख्यमंत्री ने संबंधित विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक कर प्रयागराज में होने वाले महाकुंभ-2025 की तैयारियों की समीक्षा की।

मुख्यमंत्री ने स्पष्ट कहा कि महाकुंभ-2025 के दौरान आने वाले तीर्थयात्रियों के सुगम आवागमन के लिए रेलवे मिनिस्ट्री से बात करके प्रयागराज से लखनऊ और दिल्ली तक सुपरफास्ट ट्रेनों की व्यवस्थाएं की जाएं। प्रयागराज शहर की कनेक्टिविटी को भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण द्वारा सुदृढ़ कराया जाए। प्रयागराज-अयोध्या, लखनऊ, गोरखपुर मार्ग को व्यवस्थित किया जाए। उन्होंने अक्टूबर 2024 तक सभी सड़कों को पूर्ण करने के लिए एनएचएआई को निर्देश भी दिया है।

संबंधित विभागों को दिए गए निर्देश

प्रदेश सरकार की ओर से सभी संबंधित विभागों से 2022-23 के सभी लंबित कार्यों में तेजी लाते हुए तय समय पर पूर्ण करने के निर्देश दिए गए हैं। राज्य सेतु निगम को लंबित सेतुओं के निर्माण में तेजी लाने को कहा गया है तो लोक निर्माण विभाग, जल निगम, बाढ़ कार्य खंड, यूपी पावर कारपोरेशन लि, नगर निगम प्रयागराज, राज्य सड़क परिवहन निगम और पर्यटन विभाग को समय पर सभी कार्य संपन्न कराने को कहा गया है।

वेबसाइट और एप से श्रद्धालुओं को मिलेगी सुविधा

महाकुम्भ-2025 के आयोजन पर वेबसाइट डिजाइन, मोबाइल ऐप एवं सोशल मीडिया प्रबन्धन की तैयारी की जा रही है। कुम्भ मेला-2019 के आयोजन के अवसर पर मेले में आने वाले श्रद्धालुओं, कल्पवासियों एवं पर्यटकों को बेहतर सुविधा प्रदान करने के लिए मेला प्राधिकरण द्वारा वेबसाइट डिजाइन एवं डेवलपमेन्ट हेतु निविदा के माध्यम से QCBS प्रणाली द्वारा एजेन्सी आबद्ध की गयी थी। जिसमें लगभग धनराशि रु 2.27 करोड़ कुम्भ मेला बजट से वित्त पोषित किया गया था।

महाकुम्भ 2025 के अवसर पर श्रद्धालुओं को बेहतर अनुभूति एवं सुविधा के दृष्टिगत पूर्व विकसित website को पुनः संचालित (कुम्भ मेला 2019 में विकसित वेबसाइट का सोर्सकोड प्रयागराज मेला प्राधिकरण में उपलब्ध है) कर अपग्रेड करने, मोबाइल ऐप एवं सोशल मीडिया प्रबन्धन के लिए तत्काल एजेन्सी आबद्ध किया जाना है। जल्द ही इसके लिए एजेंसी हायर करने के भी निर्देश दिए गए हैं।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments