Friday, February 3, 2023
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutविरोध के बीच 100 एकड़ जमीन पर परिषद ने लिया कब्जा

विरोध के बीच 100 एकड़ जमीन पर परिषद ने लिया कब्जा

- Advertisement -
  • किसानों और अफसरों के बीच नोकझोंक
  • सरसों और आलू के खेत में चलाए ट्रैक्टर
  • विरोध कर रहे 25 किसानों को पुलिस ने लिया हिरासत में

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: आवास विकास परिषद ने जागृति विहार एक्सटेंशन में मुआवजा लेने के बाद भी 100 एकड़ जमीन पर कब्जा करके बैठे किसानों से जमीन मुक्त कराई। कार्रवाई के दौरान हंगामा कर रहे 25 किसानों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। बाद में आवास विकास ने संबंधित भूमालिकों को जमीन सौंप दी। मेरठ में आवास विकास परिषद की टीम गुरुवार को जगृति विहार पहुंची।

टीम ने जगृति विहार एक्सटेंशन योजना में अपनी भूमि पर कब्जा ले लिया। इस दौरान पीएसी, क्यूआरटी समेत तमाम पुलिस बल मौजूद रहा। आवास विकास ने इस दौरान करीब 100 एकड़ भूमि कब्जा मुक्त कराई। हालांकि कुछ किसानों ने अभियान का विरोध किया लेकिन, उन्हें हिरासत में लेकर मेडिकल थाने भिजवा दिया गया। आवास विकास की टीम ने सेक्टर-2, 3 और 5 में जमीन से कब्जा हटाया।

टीम दो जेसीबी और चार ट्रैक्टर के साथ पहुंची थी। वहीं जमीन पर हुई सरसों, गेहूं आदि की फसल को नष्ट कर दिया गया है। आवास विकास परिषद के अधीक्षण अभियंता राजीव कुमार ने बताया कि करीब सौ एकड़ जमीन पर किसानों ने मुआवजा भी ले लिया था। इसके बाद भी जबरन जमीन पर खेती कर रहे थे। बार बार पुलिस में शिकायत करने के बाद भी पुलिस कोई कार्रवाई नहीं कर रही थी।

जैसे ही पुलिस ने बवाल कर रहे युवकों को हिरासत में लिया, तभी जमीन पर कब्जा ले लिया गया। वहीं आवास विकास परिषद ने मेरठ पब्लिक स्कूल ग्रुप की करोड़ों की कीमत की जमीन को कब्जा मुक्त करवा दिया। स्कूल प्रबंधन कई महीनों से प्रशासन से अनुरोध करता आ रहा था लेकिन हर बार कथित किसान मुआवजे की मांग को लेकर धरना देकर कब्जा लेने नहीं दे रहे थे।

इस जमीन पर स्कूल प्रबंधन एक स्कूल खोलने जा रहा है। ग्रुप के एमडी विक्रमजीत शास्त्री ने बताया कि आवास विकास ने जमीन को कब्जा मुक्त कराकर दे दिया है। वहीं आवास विकास से जमीन कब्जा मुक्त होने के बाद एमपीएस ग्रुप ने बाउंड्री बाल बनानी की प्रक्रिया शुरु कर दी है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
2
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments