Monday, April 22, 2024
- Advertisement -
Homeसंवादसेहतअदरक को न समझें मामूली

अदरक को न समझें मामूली

- Advertisement -

Sehat 8


तरन्नुम |

अदरक, जी हां, जिसका स्वाद अपने आप में काफी कसैला होता है, उसके प्रयोग से हम कई बीमारियों का इलाज घर बैठे ही कर सकते हैं। अदरक के अंदर इतने गुण होते हैं कि भारत में एक नहीं बल्कि कई दवाइयां इसको मिला कर तैयार की जाती हैं। अदरक के अंदर आयॅरन, फॉस्फोरस, विटामिन सी आदि पाए जाते हैं जो मानव शरीर के लिए जरूरी होते हैं। ज्यादातर सब्जियां मौसमी होती हैं, पर अदरक की उपज पूरे साल होती है। घरों में भी मसालेदार व्यंजनों में अगर अदरक नहीं पड़ता तो खाने का मजा ही बदल जाता है। मामूली खांसी से लेकर बड़ी-बड़ी बीमारियों का इलाज अदरक अपने अंदर छिपाए रहता है।

प्राचीन काल से अदरक आयुर्वेदिक दवाओं में बेहद इस्तेमाल किया जाता रहा है। भारत के अलावा, चीन देश भी अदरक के फायदों से पूरी तरह वाकिफ है। आइए जानें कि आखिर क्यों अदरक घर-घर में इतना प्रचलित है:-

मामूली जुकाम, खांसी या नजला होने पर अदरक का सेवन करने से फायदा पहुंचता है। नाक बंद होने पर एक चम्मच नींबू का रस, एक चम्मच शहद और थोड़ा सा अदरक कद्दूकस कर लें और उसे गरम पानी के साथ रात में सोने से पहले खाएं। तीन से चार बार इसे दोहराने में फर्क आपको अपने आप महसूस होने लगेगा।

हल्की हरारत होने पर या गला खराब होने पर चाय बनाते समय थोड़ा सा अदरक कतर कर डाल लें और दिन में दो बार ऐसी चाय पिएं। जरूरत महसूस हो तो तुलसी की पत्तियों को भी इस चाय में मिलाइए। थोड़े ही दिनों में न सिर्फ आपका गला खुलेगा बल्कि आप गाना भी गा सकेंगे।

पत्तागोभी वगैरह बनाते समय अगर थोड़ा सा अदरक कतर कर डाल दिया जाए तो पेट से संबंधित समस्याओं जैसे गैस, अफारा, खट्टी डकार आदि से बच सकते हैं।

अदरक में दर्द खत्म करने की जबरदस्त शक्ति होती है। दांत में दर्द हो रहा हो तो अदरक का टुकड़ा दोनों दांतों के बीच में दबा लें। अदरक दर्द को खींच लेगा। सिरदर्द होने पर अदरक को पीस कर रस निकालें और दोनों कानों में एक बूंद टपकाएं। अगर दर्द जुकाम से हो रहा हो तो यह विधि जरूर कारगर सिद्ध होगी।

  • अदरक को अगर हम मिक्स अचार बनाते समय उसमें डाल देंगे तो अचार का मजा दुगुना हो जाएगा।
  • पिज्जा, सैंडविज आदि में अदरक को तराश कर उसकी टॉपिंग्स रखें। ओवन में थोड़ी देर बेक करने के बाद उन्हें खाएं।
  • गले में दर्द आदि होने पर अदरक को सादा ही चबाएं। थोड़ी ही देर में आराम आएगा।
  • जैम, जैली आदि में अदरक डालने से उनका स्वाद चरपरा हो जाता है जो बच्चों को खास पसंद होता है।

janwani address 6

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments