Friday, March 24, 2023
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMuzaffarnagarखतौली चीनी मिल द्वारा सर्वाधिक गन्ना पेराई करने से किसानों में हर्ष

खतौली चीनी मिल द्वारा सर्वाधिक गन्ना पेराई करने से किसानों में हर्ष

- Advertisement -
  • गन्ना भुगतान, और स्वास्थ्य सचल दस्ते से भी किसानों को लाभ मिला

जनवाणी संवाददाता |

खतौली: खतौली चीनी मिल द्वारा सवार्धिक गन्ना पेराई करने पर क्षेत्र के किसानों में खुशी का माहौल बना हुआ है। इसके अलावा चीनी मिल द्वारा किसानों का सवार्धिक गन्ना भुगतान करने में प्रदेश में अग्रणी है। ग्रामीण क्षेत्र में स्वास्थ्य सचल दस्ते से भी किसान लाभवन्तित हो रहे है। किसानों के सहयोग से खतौली चीनी मिल पेराई में प्रगति की और कदम बढ़ा रही है।

जीएम डॉक्टर अशोक कुमार सिंह ने बताया त्रिवेणी चीनी मिल खतौली ने 31 अक्टूबर को पेराई सत्र का शुभारम्भ कर 16 मार्च 2023 तक कुल 186.51 लाख कुन्तल गन्ने की पेराई की है। जो प्रदेश में सर्वाधिक है। विगत वर्ष की तुलना में चीनी मिल द्वारा अभी तक 38 लाख कुन्तल गन्ने की अधिक पेराई किया गया है। चीनी मिल द्वारा किसानों को 05 मार्च तक कुल गन्ना मूल्य 595 करोड 74 लाख रूपये का भुगतान कर जिले और प्रदेश में सर्वाधिक गन्ना मूल्य भुगतान करने में प्रथम स्थान पर है। चीनी मिल द्वारा क्षेत्रीय लोगो के स्वास्थ्य की जांच के लिये अनुभवी डाक्टरों की टीम के साथ सचल चिकित्सा वाहन ग्रामों में भेजकर लोगो को निशुल्क दवाईयां उपलबधकरायी जा रही है।

जिससे क्षेत्र के हजारों किसान लाभांवित हो रहे है। ओ पी सिंह उप गन्ना आयुक्त सहारनपुर द्वारा गोष्ठियों के माध्यम से किसानों को कम लागत से अधिक उत्पादन प्राप्त करने के लिए जानकारियां दी जा रही है। उपगन्ना आयुक्त ने खतौली चीनी मिल द्वारा सर्वाधिक गन्ना पिराई और गन्ना मूल्य भुगतान में अग्रणी होने पर प्रसन्नता व्यक्त की है।

चीनी मिल द्वारा किसानों के हित में विकास कार्यों में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया जा रहा है। गन्ना विकास कार्यों के लिए चीनी मिल द्वारा तीन करोड रुपए के बजट का प्रावधान किया गया है। किसानों की आय को दुगना करने के लिए किसान वैज्ञानिक गोष्ठी द्वारा किसानों को कम लागत पर अधिक उत्पादन प्राप्त करने के लिये प्रशिक्षित किया जा रहा है। उन्नतशील गन्ना बीज किसानों को उपलब्ध कराया जा रहा है।

ट्रेंच विधि द्वारा बुवाई के लिये किसानों को 150 निशुल्क ट्रैंच प्लांटर और रैटून मेनेजमेन्ट डिवाईस कृषि यन्त्रों को किसानों को उपलब्ध कराये गये है। इसी के साथ रेड रॉट रोग की रोकथाम के लिये ड्राईकोड्रार्मा जैव फॅफूंदीनाशक को लगभग 50 प्रतिशत अनुदानित दर पर उपलब्ध कराया जा रहा है। और चोटी बेधक जैसे हानिकारक कीट
के नियंत्रण के लिये किसानों को कीटनाशक अनुदानित दर पर उपलब्ध कराने के साथ-साथ किसानों को लाईट ट्रैप लगाने और चोटी बेधक ग्रशित पौधों के अण्ड समूह वाली पत्तियों को तोड़ कर नष्ट करने के लिये अभियान चलाया जा रहा है।

किसानों में सर्वाधिक गन्ना पेराई, सर्वाधिक गन्ना मूल्य भुगतान और गन्ना विकास कार्यों में सहयोग को लेकर किसानों में खुशी का माहौल है। गन्ना समिति के चैयरमैन ओमबीर सिंह, गन्ना विकास परिषद के चैयरमैन सुनील अहलावत पूर्व चेयरमैन गन्ना समिति ऋषिपाल भाटी, विशाल लोचन महेशपुर और किसान मौ० फसी खांजापुर, सुनील कुमार गालिबपुर, इनाम सिंह, राजकुमार भगत प्रधान, श्रीबीर सिंह पिपलहेडा, दुष्यन्त चैयरमेन सढेडी, कवल सिंह अन्तवाडा, सुनील प्रधान दूधली, मुकेश प्रधान लाडपुर, अशोक त्यागी खेडी तगान, आशीष सरधन आदि किसानों ने प्रसन्नता व्यक्त कर चीनी मिल जीएम डॉक्टर अशोक कुमार सिंह का आभार व्यक्त किया है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments