Monday, November 29, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsMeerutकरनावल में आठवें दिन भी अनिश्चितकालीन धरने पर डटे रहे किसान

करनावल में आठवें दिन भी अनिश्चितकालीन धरने पर डटे रहे किसान

- Advertisement -
  • रालोद नेताओं ने भी किसानों को दिया समर्थन

जनवाणी ब्यूरो |

सरूरपुर: कृषि कानून के खिलाफ दिल्ली बॉर्डर पर एक महीने से डटे किसानों के समर्थन में कस्बा करने वालों में पिछले आठ दिनों से चल रहे अनिश्चितकालीन धरने के आठवें दिन भी किसानों का धरना जारी रहा।धरने के आठवें दिन जहां किसानों की संख्या इजाफा हुआ,तो वहीं दूसरी ओर रालोद नेता संजय चौधरी ने भी पहुंचकर किसानों को समर्थन दिया।

एमएसपी सहित तीनों कृषि कानून के विरोध में पिछले एक महीने से दिल्ली बॉर्डर पर डटे किसान के किसानों के समर्थन में कस्बा करनावल में पिछले आठ दिनों से कस्बा करनावल व क्षेत्र के किसानों का अनिश्चितकालीन धरना आठवें दिन भी जारी रहा।धरने के आठवें दिन कड़ाके की ठंड,बारिश और हवा के बावजूद किसानों के हौंसले में कोई कमी नहीं दिखाई दी। बल्कि इसके विपरीत कड़ाके की ठंड के चलते किसानों की संख्या में इजाफा हुआ, तो वहीं दूसरी और रालोद नेता संजय चौधरी ने भी पहुंचकर किसानों को अपना समर्थन दिया।

इससे पूर्व रविवार को भी कांग्रेस व रालोद के अन्य नेताओं ने भी किसानों को समर्थन दिया था। धरने के आठवें दिन किसानों ने हुंकार भरते हुए कहा कि धरने को और मजबूत करने के लिए सोमवार से जहां किसानों की संख्या में इजाफा हुआ वहीं मंगलवार से और भारी संख्या जुटाकर धरने का दायरा बढ़ाया। जाएगा धरने पर हुंकार भरते किसानों ने कहा कि सरकार के फैसले से किसान कतई खुश नहीं है।

तीनों कृषि कानून को काला कानून बताते हुए किसानों ने कहा कि सरकार को तीनों कानून किसान हित में वापस लेना चाहिएं और बातचीत के लिए आगे आकर सरकार को गतिरोध खत्म करके किसानों के हित की बात करनी चाहिए।वहीं किसानों ने सरकार द्वारा कृषि कानून के समर्थन में गांव गांव की जा रही चौपाल का विरोध जताते हो कहा कि किसान चौपाल लगाने वाले किसान नेताओं को गांव में नहीं घुसने देंगे।

इसका उदाहरण देते हुए किसानों ने कहा कि दबथुवा गांव में जिस तरह से विरोध किया गया उससे भी ज्यादा विरोध किया जाएगा। यदि किसी गांव में सरकार ने अपने नुमाइंदे को भेजकर किसानों पर दबाव बनाने की या समझाने की कोशिश की तो। सभा की अध्यक्षता इंद्रपाल मास्टर संचालन मनोज सभासद ने किया।इस दौरान मुख्य रूप से उपस्थित किसानों में रमेश दौड़ा, रामपाल सभासद, गौरव चौधरी, प्रदीप मिश्र, संदीप चौधरी, गुड्डू भाई, कुमार पाल, गुड्डू भांड, सुंदर, वीरेंद्र, ब्रह्मपाल, राजीव व योगेंद्र आदि रहे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments