Monday, June 14, 2021
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsBaghpatमिग-21 विमानों को तुरंत हटाए सरकार: कपिल

मिग-21 विमानों को तुरंत हटाए सरकार: कपिल

- Advertisement -
0
  • रालोद के पूर्व जिलाध्यक्ष कपिल चौधरी ने भाजपा सरकार पर साधा निशाना

मुख्य संवाददाता |

बागपत: रालोद के पूर्व जिलाध्यक्ष एवं पूर्व जिला पंचायत सदस्य कपिल चौधरी ने बागपत जनपद के पुसार गांव निवासी पायलट अभिनव चौधरी के शहादत पर उन्हें नमन किया और सरकार से मांग की है कि युवा पायलटों की जान बचाने के लिए सरकार को मिग-21 बेडे से हटाने चाहिए। ताकि आगे किसी अधिकारी की जान न जाए। इसके अलावा उन्होंने महंगाई को लेकर भी भाजपा पर निशाना साधा है।

रालोद के पूर्व जिलाध्यक्ष एवं पूर्व जिला पंचायत सदस्य कपिल चौधरी ने पायलट अभिनव चौधरी को नमन किया और श्रद्धांजलि अर्पित की। उन्होंने कहा कि सरकार युवा पायलटों के हाथों में पुराने पुर्जों के विमान थमा देती है। यह भी नहीं देखा जाता है कि इससे कोई दुर्घटना होगी या नहीं?

यह हवा में उड़ते ताबूत हैं। बागपत की धरती ने एक जाबांज अधिकारी को खो दिया है। उसकी शहादत के बाद सरकार को बेड़े से मिग-21 को हटा लेना चाहिए। ताकि भविष्य में कोई हादसा न हो और किसी के बेटे की जान न जाए। उन्होंने कहा कि जिसके घर से चिराग बुझता है उसका दुख को नहीं समझ पाता। इस सरकार को सिर्फ अपना ध्यान है, भले ही जनता को कितना भी नुकसान क्यों न हो जाए?

उन्होंने कहा कि अभिनव चौधरी ने अपनी जान की परवाह नहीं की और गांव के ऊपर विमान को गिरने से बचाया। शहीद अभिनव की शहादत को हमेशा याद किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सरकार को इस पर तुरंत ध्यान देना हो और मिग-21 को हटाना होगा।

उन्होंने महंगाई को लेकर सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि आज देश महंगाई की चपेट में है। पूर्व की सरकारों के समय जब महंगाई बढ़ती थी तो भाजपाई सड़कों पर विरोध करते थे, लेकिन आज खुद की सरकार में एक शब्द तक बोलने वाला कोई नहीं है। देश की अर्थ व्यवस्था पर कोई ध्यान सरकार का नहीं है। पेट्रोल-डीजल के दाम रिकार्ड बना चुके हैं। पेट्रोल-डीजल से महंगाई सातवें आसमान में पहुंच गई है।

उन्होंने कहा कि आज देश की जनता के सामने आर्थिक संकट है। देश कोरोना से जूझ रहा है। गांवों में मौतों का सिलसिला जारी है। गांवों में आंकड़े धरातल पर कुछ है और हकीकत बेहद डराने वाली है। एक-एक गांव में 30 से अधिक मौत हो चुकी हैं। अगर गांवों में सर्वे किया जाए तो तमाम गांव ऐसे मिलेंगे जहां 60 से अधिक मौत बुखार एवं कोरोना से हो चुकी है।

सरकार कोरोना घटने का दावा करती है, जबकि हकीकत यह है कि टेस्टिंग कम हो गई है। आरोप लगाया कि सरकार ने टेस्टिंग कम कर दी है। जिससे संक्रमितों का डाटा कम आ रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार स्वास्थ्य सेवा के मामले में फेल है, महंगाई रोकने में फेल है। देखा जाए तो सरकार हर मोर्चे पर फेल हो गई है। जनता की सुध सरकार को नहीं है।


What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments