Monday, June 27, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutअक्षय तृतीया और ईद पर बाजार लकदक

अक्षय तृतीया और ईद पर बाजार लकदक

- Advertisement -
  • सराफा बाजार भी हुआ सजकर तैयार
  • अक्षय तृतीया पर रहेगी शहर में सहालग की धूम

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: अक्षय तृतीया और ईद के त्योहार को लेकर बाजारों में अच्छीखासी भीड़ नजर आ रही है। अक्षय तृतीया और ईद पर बाजार लकदक नजर आ रहे हैं। अक्षय तृतीया यानि आखा तीज हिंदू धर्म में मनाए जाने वाले मुख्य त्योहारों में से एक हैं, जोकि आगामी तीन मई को पूरी श्रद्धा के साथ मनाई जाएगी। यह त्योहार बैसाख शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को मनाया जाता है और यह हर साल सुख-समृद्धि की सौगात लेकर आता है।

गृह नक्षत्रों की जुगलबंदी से दान-पुण्य खरीदारी करने से साधक को अक्षय पुण्य की प्राप्ति होती है। माना जाता है कि ऐसा करने पर व्यक्ति का कभी क्षय नहीं होता है। इस दिन स्वर्ण आभूषणों की खरीदारी से जहां धनधान्य में वृद्धि होती हैं। वहीं, यथा संभव दान करने से घर में सुख-समृद्धि और लोगों की कामनाएं पूरी होती है। ज्योतिषाचार्य राहुल अग्रवाल के अनुसार इस वर्ष अक्षय तृतीया पर इस साल तीन राजयोग बन रहे हैं।

मान्यता है कि इसी दिन भगवान परशुराम का जन्म हुआ था। इस दिन मांगलिक कार्य करने पर विशेष लाभ मिलेगा। इसमें बाजार से खरीदारी करना भी शुभ रहेगा। ज्योतिषाचार्य अमित गुप्ता के अनुसार बैशाख शुक्ल तृतीया पर 50 साल बाद दो ग्रह उच्च राशि में विद्यमान रहेंगे। जबकि दो प्रमुख ग्रह स्वराशि में विराजमान होंगे। शुभ संयोग और ग्रहों की विशेष स्थिति में अक्षय तृतीया पर दान करने से पुण्य की प्राप्ति होगी।

खरीदारी के लिए है विशेष संयोग

इस बार अक्षय तिथि का पूजन सुबह 5 बजकर 39 मिनट से दोपहर 12 बजकर 18 मिनट तक है। ऐसे में भगवान विष्णु और लक्ष्मी की अराधना की जा सकती है। वहीं, सोना और चांदी खरीदने के लिए अक्षय तृतीया का दिन बेहद शुभ होता है। इस दिन सोना खरीदने के लिए सुबह 5:39 से अगले दिन सुबह 5 बजकर 38 मिनट तक का शुभ मुहूर्त है। त्रिपुंड ज्वैलर के संचालक सर्वेश सर्राफ का कहना अक्षय तृतीया के लिए बाजार में एक से बढ़कर एक डिजाइन कंगन, इयरिंग आदि में उतारे गए हैं, जो महिलाओं को अपनी ओर आकर्षित करने का काम करेंगे।

10 करोड़ से अधिक कारोबार होने का अनुमान

अक्षय तृतीया और ईद का त्योहार इस वर्ष एक साथ पढ़ने की वजह से बाजार में काफी रौनक देखने को मिल रही है। क्योंकि अक्षय तृतीया पर जहां सराफा बाजार में रौनक रहती है। वहीं, दूसरी ओर अबूझ साया होने की वजह से शादियों के लिए मंडप भी फूल रहते है। सराफा व्यापारियों के मुताबिक ईद और अक्षय तृतीया दोनों ही त्योहार पर 10 करोड़ से अधिक का कारोबार होने की उम्मीद की जा रही है। क्योंकि इस दिन शहर में 800 से अधिक शादियां भी है।

अक्षय तृतीया पर ग्रहों की चाल

अक्षय तृतीया पर चंद्रमा अपनी उच्च राशि वृषभ और शुक्र अपनी उच्च राशि मीन में रहेंगे। वहीं, शनि स्वराशि कुंभ और बृहस्पति स्वराशि मीन में विराजमान रहेंगे। ज्योतिषों के मुताबिक चार ग्रहों का अनुकूल स्थिति में होना अपने आप में खास योग है।

सोने के दाम

वर्ष                                              सोना

2010                                         18 हजार 260

2011                                         22 हजार 400

2012                                         28 हजार 900

2013                                         27 हजार 400

2014                                         30 हजार

2015                                         26 हजार 950

2016                                         30 हजार 350

2017                                         29 हजार 700

2018                                         32 हजार 50

2019                                         32 हजार 950

2020                                         32 हजार 650

2021                                         43 हजार 800

2022                                         52 हजार 790

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments