Wednesday, May 25, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -spot_img
HomeUttar Pradesh NewsMeerutअब शरीर की सफाई पर भी पड़ी महंगाई की मार

अब शरीर की सफाई पर भी पड़ी महंगाई की मार

- Advertisement -
  • चार माह में साबुन के दामों में 50 रुपये से अधिक की उछाल
  • कुछ साबुनों के दाम बढ़े और वजन भी कम हुआ

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: महंगाई ने मध्यम वर्गीय परिवारों के लिए मुसीबत खड़ी कर दी है। पेट्रोल-डीजल के अलावा गैस सिलेंडर के दाम बढ़ने से लोग जूझ रहे हैं। ऐसे में अब शरीर साफ करने के लिये साबुन खरीदने से पहले लोगों को सोचना पड़ रहा है। चार महीने में साबुन के दामों में बेइंतहा उछाल आया है। वहीं, साबुन बनाने वाली कम्पनियों ने एक तरफ दाम बढ़ाये तो दूसरी तरफ वजन भी कम कर दिया।

रिफाइंड तेल और सरसों के तेल बढ़ने से लोग परेशान हो रहे हैं, लेकिन बहुत कम लोगों का ध्यान साबुन और सर्फ के दामों में तेजी से हो रही वृद्धि की तरफ नहीं जा रहा है। साबुन के दामों में हर महीने वृद्धि हो रही है। लक्स के 100 ग्राम वाले पांच साबुन का सेट जो पहले 100 रुपये का आ रहा था, वो अब 150 रुपये का हो गया है। इसी तरह लाइफबॉय की 125 ग्राम में चार साबुन का सेट 90 रुपये का था।

जोकि अब 125 रुपये का बिक रहा है। गोदरेज नंबर वन के 5 साबुन का सेट 90 रुपये में आता था, अब 130 रुपये का बिक रहा है। डायना एंकर साबुन पहले 125 ग्राम का आता था और चार साबुन का सेट 82 रुपये का था। अब वहीं साबुन 124 रुपये में बिक रहा है। संतूर की मांग अधिक है। 92 रुपये में मिलने वाले चार साबुन अब 148 रुपये का मिल रहा है। कोटला में साबुन के होलसेल व्यापारी रेशु स्टोर के रेशु गोयल ने बताया कि साबुन के दामों में चार महीनों में बेइंतहा वृद्धि हुई है।

साबुन की तरह कपड़े धोने वाले पाउडर के दाम भी आसमान छू रहे हैं। सिर्फ एक्सेल 90 रुपये प्रति किलो से बढ़ कर 124 तक पहुंच गया है। फेना पाउडर 50 रुपये से 65 रुपये, निरमा 42 रुपये से 55 रुपये प्रति किलो बिक रहा है। उन्होंने बताया पहले निरमा लाइट्स पहले 90 रुपये में 600 ग्राम मिलता था, जो अब 124 रुपये में 500 ग्राम मिल रहा है। रेशु गोयल ने बताया कि गोदरेज नंबर वन की एक पेटी जो 2000 रुपये में आती थी, अब वो 4100 रुपये में आ रही है। रिटेल विक्रेता गुप्ता स्टोर्स के नितिन गुप्ता ने बताया कि साबुनों के दाम लगातार बढ़ रहे है।

साबुन की 10 रुपये वाली छोटी टिक्की के दाम भले नहीं बढ़े, लेकिन उनके वजन 75 ग्राम से 50 ग्राम कर दिए गए हैं। नहाने और कपड़ा धोने के साबुनों के अलावा लिक्विड साबुनों के दाम भी लगातार बढ़ रहे हैं। महंगाई की चौतरफा मार से शरीर को साफ रखना भी चुनौतीपूर्ण बन गया है। व्यापारियों का कहना है आने वाले समय मे कीमतों में और भी वृद्धि होगी।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -
spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments