Sunday, February 25, 2024
HomeUttar Pradesh NewsMeerutकहर बरपाने वाले सीसीटीवी में कैद, फिर भी पकड़ से बाहर

कहर बरपाने वाले सीसीटीवी में कैद, फिर भी पकड़ से बाहर

- Advertisement -
  • ईशापुरम में एक जनवरी को गाड़ी में तोड़फोड़ कर कई राउंड किए थे फायर

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: ईशापुरम में देर रात एक मकान के बाहर खड़ी आई-10 कार में तोड़फोड़ कर वहां कई राउंड फायर कर कहर व आतंक बरपाने वालों को गंगा नगर पुलिस 24 दिन बाद भी नहीं तलाश कर सकी। यह हाल तो तब है जब इस पॉश कालोनी में कहर बरपाने वाले वहां लगे सीसीटीवी कैमरों में कैद हो गए हैं।

पुलिस वाले बजाए इन बदमाशों तक पहुंचकर उन्हें सींखचों के पीछे पहुंचाने के उल्टे पीड़ित परिवार से ही पूछ रही है कि क्या बदमाशों का कोई सुराग लगाया जा सका है। इससे आसानी से अंदाजा लगाया जा सकता है कि खुद को हाईटेक कहने वाली मेरठ पुलिस खासतौर से गंगानगर पुलिस की कार्यप्रणाली किस प्रकार की है।

गंगानगर थाना के ईशापुरम में सुरजीत सिंह जो पेशे से टीचर हैं का परिवार रहता है। उन्होंने जानकारी दी कि बीते एक जनवरी को देर रात करीब साढेÞ 11 बजे उनको बाहर से शोर शराबा व चींखने चिल्लाने की आवाजें आयीं। पटाखे बजाने जैसी आवाजें आ रही थीं। वह पहले तो काफी देर तक बिस्तर पर लेटे रहें, लेकिन जब ये आवाजें उनके गेट के बाहर से आने लगीं और वहां फायर किए गए तो वह हड़बड़ा कर उठे।

अपनी पत्नी को भी जगाया। कमरे की लाइट जलायी और बाहर निकले। घर के बाहर जाकर देखा तो उनकी आईटेन कार बुरी तरह से डेमेज कर दी गयी थी। उसके आगे पीछे के शीशों के अलावा हेड व बैक लाइट भी तोड़ दी गयी थी। इसके अलावा पिस्टल से चलायी गयी गोलियों के खोखे वहां पडेÞ थे। उन्होंने पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दी। सूचना पर थाना लालकुर्ती व गंगानगर की पुलिस मौके पर पहुंची।

पुलिस को वहां से पिस्टल से चलायी गयी गालियों के खोखे भी बरामद कराए गए। इनमें एक जिंदा कारतूस भी था। पुलिस वालों के साथ पूरी कालोनी के सीसीटीवी चैक कराए गए। एक स्थान पर दो बाइकों पर वो बदमाश नजर आए जो हुड़दंग कर रहे थे। सुरजीत सिंह ने घटना को लेकर थाना गंगानगर पर तहरीर दे दी, लेकिन पुलिस चौबीस दिन बीतने के बाद भी अभी तक बदमाशों का सुराग नहीं लगा सकी है।

लिसाड़ी गेट में महिला सफाईकर्मी के अपहरण का किया प्रयास

मेरठ: लिसाड़ी गेट क्षेत्र हापुड़ रोड स्थित वार्ड 79 में एक महिला सफाईकर्मी का कार सवार कुछ युवकों ने अपहरण कर खींचने का प्रयास किया। लेकिन महिला ने शोर मचाते हुए विरोध कर दिया। जिस पर युवकों ने सफाईकर्मी के साथ मारपीट की और मौके से फरार हो गये। उधर महिला के साथ अपहरण के प्रयास की जानकारी मिलते ही तमाम महिला सफाईकर्मी भी मौके पर पहुंची और कार सवार युवकों की गिरफ्तारी को लेकर थाने पर हंगामा किया। परिजनों ने भी पुलिस से अपहरणकर्ताओं का पता लगाने की मांग की।

लिसाड़ी गेट क्षेत्र वार्ड 79 में दीया पत्नी शिवकुमार निवासी खरखौदा नगर निगम में सफाई कर्मी है। वह वार्ड 79 में काम करती है। मंगलवार को वह जाकिर कालोनी में अपनी डयूटी पर आई थी। तभी कार में सवार युवकों ने दीया को खींचकर अपरहण करने का प्रयास किया। इस पर महिला ने शोर मचाते हुए हंगामा कर दिया। जिस पर युवकों ने दीया के साथ मारपीट की और लोगों को आता देखकर कार में सवार होकर फरार हो गये। घटना की जानकारी मिलते ही तमाम सफाईकर्मी और महिलाक र्मी भी मौके पर पहुंच गये।

उधर दीया के परिजन भी घटना की जानकारी मिलते ही वार्ड 79 में आ गये। सभी ने थाना लिसाड़ी गेट पहुंचकर आरोपियों की तलाश कर कार्रवाई की मांग की। सूचना के बाद पुलिस ने आसपास लगे सीसीटीवी कैमरो को चेक कर अपरहणकर्ताओं की पहचान का प्रयास किया। महिला सफाईकर्मी की ओर से थाने पर अज्ञात कार सवारों के खिलाफ तहरीर दी गई है। पुलिस ने कार सवार युवकों की तलाश शुरु कर दी है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments