Tuesday, November 28, 2023
HomeUttar Pradesh NewsMeerutवंदे मातरम् गान से एआईएमआईएम पार्षदों के बिगड़े सुर, अखाड़ा बना शपथ...

वंदे मातरम् गान से एआईएमआईएम पार्षदों के बिगड़े सुर, अखाड़ा बना शपथ ग्रहण समारोह

- Advertisement -

नमस्कार, दैनिक जनवाणी डॉटकॉम वेबसाइट पर आपका हार्दिक अभिनंदन और स्वागत है। शासन के निर्देशानुसार आज शुक्रवार को मेरठ जिले के निकाय चुनाव में नवनिर्वाचित मेयर/अध्यक्षों/पार्षदों और सभासदों का शपथ ग्रहण समारोह आयोजित हुआ। इस दौरान मेरठ शहर के चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय में मेरठ महानगर के मेयर और निगम पार्षदों का भी शपथ ग्रहण समारोह का कार्यक्रम चल रहा था कि अचानक मामला कुछ ऐसा बिगड़ा कि समारोह अखाड़े में तब्दील हो गया। आइए जानते हैं कि क्या है पूरा मसला…

मेरठ में नगर निगम के शपथ ग्रहण का कार्यक्रम शुरू होने के साथ ही भाजपा पार्षदों ने वंदे मातरम् गाना शुरू कर दिया जिसको लेकर जमकर हंगामा आरंभ हो गया। बताया जा रहा है कि वंदे मातरम् गाने को लेकर शुरू हुए हुए विवाद में भाजपाइयों और असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम के पार्षदों के बीच जमकर मारपीट भी शुरू हो गई।

प्रशासन ने ऐसे संभाला पूरा मामला 

हालांकि जिला प्रशासन के आला-अधिकारी फौरन मौके पर पहुंच गए और एआईएमआईएम पार्षदों को बाहर निकाला। जानकारी मिली है कि एआईएमआईएम के पार्षदों ने वंदे मातरम् का विरोध शुरू कर दिया और वह इस दौरान बैठे रहे, जबकि उन्हें खड़ा होकर कम से कम सम्मान करना चाहिए था। बस, इसी बात को लेकर भाजपा के पार्षदों और एआईएमआईएम पार्षदों के बीच तू-तू मैं-मैं बढ़ती गई और अंत में गरमा गरम बहसबाजी मारपीट में तब्दील हो गई।

हालांकि पुलिस और प्रशानिक अफसरों ने बीच-बचाव करते हुए मौके की नजाकत भांप लिया और गंभीरता को देखते हुए एआईएमआईएम पार्षदों को बाहर निकाला। जबकि एआईएमआईएम पार्षद विरोध करने लगे, जिन्हें समझाने बुझाने के लिए खुद मौके पर जिलाधिकारी दीपक मीणा पहुंचे। इसके बाद एआईएमआईएम पार्षदों ने शपथ ग्रहण का बहिष्कार करते हुए चले गए।

मौजूद भाजपा नेता ने दी यह सफाई

भाजपा के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद लक्ष्मीकांत वाजपेयी ने बताया कि अगर उन्हें वंदे मातरम् से दिक्कत थी तो चुप रहना चाहिए था, वो वंदे मातरम् गीत को न गाते और चुपचाप खड़े रहते, लेकिन एआईएमआईएम पार्षदों ने गैर-वाजिब टिप्पणी की जिससे हालात गंभीर होकर बिगड़ने लगे। एआईएमआईएम पार्षदों को बहिष्कार न करके उन्हें शपथ लेना चाहिए था। अब तो केबिन में शपथ लेंगे।

नाराज भाजपा पार्षदों ने कही यह बात

भाजपा पार्षदों ने बताया कि यह जिन्ना को मानने वाले लोग हैं, यह ओवैसी के लोग हैं, यह देश को बांटना चाहते हैं, जो वंदे मातरम् नहीं गाएगा, उसको मुंहतोड़ जवाब देंगे।

जानिए- पूरे मसले पर क्या बोले एसपी सिटी

एसपी सिटी पीयूष सिंह ने पूरे मामले की जानकारी देते हुए बताया कि वंदे मातरम् गान को लेकर एआईएमआईएम के पार्षदों की तरफ से आपत्ति दर्ज कराई गई है। इसके बाद बवाल हुआ, मारपीट हुई, धक्का-मुक्की और हाथापाई भी हुई है। पुलिस ने सबको बाहर निकाल दिया है।

- Advertisement -

Recent Comments