Saturday, June 15, 2024
- Advertisement -
HomeNational Newsक्या है अल अक्सा मस्जिद का इतिहास?, पढ़िए- क्यों छिड़ा है नया...

क्या है अल अक्सा मस्जिद का इतिहास?, पढ़िए- क्यों छिड़ा है नया विवाद, देखें फोटो फीचर

- Advertisement -

जनवाणी ब्यूरो |

नई दिल्ली: इजरायल के राष्ट्रीय सुरक्षा मंत्री इतामार बेन-ग्विर ने येरूशलम स्थिल अल-अक्सा मस्जिद में पिछले दिनों दौरा किया था। अब इसके बाद कई इस्लामिक देशों ने इजरायल के इस कदम की निंदा की है और इसे अंतरराष्ट्रीय मानदंड का उल्लंघन बताया है।

पूर्वी यरुशलम में स्थित अल-अक्सा मस्जिद एक बार फिर चर्चाओं में है। काफी वक्त से इस मस्जिद को लेकर विवाद रहा है। अल-अक्सा मस्जिद को इस्लाम का एक पवित्र स्थल माना जाता है। यहूदी और मुस्लिम, दोनों समुदाय धार्मिक लिहाज से इस स्थल को काफी अहम मानते हैं।

63

इजरायल के दक्षिणपंथी राष्ट्रीय सुरक्षा मंत्री इतामार बेन-ग्विर ने पिछले दिनों अल-अक्सा मस्जिद परिसर के पवित्र स्थल का दौरा किया था। उनके इस दौरे के बाद कई मुस्लिम देशों ने इसकी निंदी की थी। (Credit/Twitter/@itamarbengvir)

65

अल अक्सा मस्जिद को यहूदियों द्वारा ‘टेंपल माउंट’ और मुसलमानों द्वारा ‘नोबल सेंचुरी’ के तौर पर जाना जाता है. दोनों समूदाय इस पवित्र स्थल पर अपना-अपना दावा पेश करते रहे हैं। (AFP)

66

प्राचीन फिलिस्तीन को 1947 में दो भागों में बांट दिया गया था। विभागजन के बाद कुछ हिस्सा यहूदियों को और कुछ हिस्सा फिलिस्तीनों को मिला था। फिर 1967 में इजरायल के गाजा पट्टी और यरूशलम में कब्जे के बाद यह विवाद और बढ़ गया। (AFP)

67

इसके बाद जॉर्डन और इजरायल के बीच सहमति बनी की अल-अक्सा मस्जिद के भीतर के मामलों पर इस्लामिक ट्रस्ट का नियंत्रण होगा और बाहरी सुरक्षा की जिम्मेदारी इजरायल की होगी। इस बात पर भी सहमति बनी की गैर मुस्लिमों को मस्जिद के अंदर आने की अनुमति तो होगी, लेकिन वे प्रार्थना नहीं कर पाएंगी। कुछ वक्त बाद यहूदियों ने यहां प्रार्थना की जिससे बाद विवाद और बढ़ गया। (AFP)

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments