Thursday, January 27, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsSaharanpurचुनाव से पहले वोटरों का दिल जीतने का योगी का जतन

चुनाव से पहले वोटरों का दिल जीतने का योगी का जतन

- Advertisement -
  • युवाओं, नारी शक्ति पर खास फोकस, प्रखर हिंदुत्व को दी धार
  • जनलुभावन शैली में सभी वर्गों को साधते नजर आए योगी आदित्यनाथ

जनवाणी संवाददाता  |

सहारनपुर:  ठंड हाड़ कंपा देने वाली थी। सूरज बादलों में दुबका था। सड़कों पर पुलिस के साथ सर्द हवाओं की गश्त जारी थी। यूं कि बिल्कुल धुंध में मंगलवार तीसरे पहर सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ जब देवबंद के जड़ौदाजट्ट के पास हाईवे किनार बने विशाल मंच पर पहुंचे तो अचानक गर्माहट सी आ गई। भीड़ से जयश्रीराम के उद्घोष होते रहे। ऐसे में अपने 22 मिनट के जोशीले भाषण में मुख्यमंत्री ने खास तौर पर सपा पर निशाना साधा।

अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाईं। चतुर सुजान की तरह सीएम ने हिंदुत्व को धार दी। युवाओं को रिझाया और नारी शक्ति का भरोसा जीतने की हर चंद कोशिश की। उदाहरण देकर जनलुभावन शैली में योगी ने दलितों की दुखती रगों पर हाथ रखा। किसानों-नौजवानों का दिल जीतने का प्रयास करते हुए योगी ने चुनाव जीतने का मंच से मंत्र फूंका।

सबसे पहले सीएम योगी आदित्यनाथ ने देवबंद में एटीएस सेंटर ( आतंकवादी निरोधक दस्ते ) का शिलान्यास करने के पीछे का मकसद समझाया। उन्होंने कहा कि आतंकवादी गतिविधियों पर पूरी तरह विराम लगेगा। दहशतगर्दों को लादेन की तरह उनकी मांद में मार गिराया जाएगा। एटीएस सेंटर इसलिए और इसीलिए शुरू किया जा रहा है। लगे हाथ योगी ने पलायन के मुद्दे को भी छुआ और कहा कि अब पलायन करने वाले अगर ठेले पर फल और सब्जी बेच रहे हैं तो इसके पीछे सरकार की मजबूत इच्छा शक्ति और पुख्ता कानून व्यवस्था है।

योगी ने पूर्व की सपा सरकार और वर्तमान की अपनी भाजपा सरकार का तुलनात्मक ब्यौरा भी पेश किया और यह कहा कि-सपा सरकार आतंकवादियों के मुकदमे वापस लेती थी और हमारी सरकार आतंकवादियों को ठोकने के लिए कमांडों सेंटर बना रही है। प्रदेश की जनता और बेटियों की सुरक्षा से कोई समझौता नहीं किया जाएगा। एटीएस सेंटर में 56 कमांडों हमेशा तैनात रहेंगे।

अगर किसी आतंकी ने थोड़े से भी पंख फड़फड़ाने की कोशिश की तो तुरंत पर काट दिए जाएंगे। इसी कड़ी में मुख्यमंत्री ने युवाओं पर भी फोकस किया। भाषण से पहले छात्र-छात्राओं को टेबलेट और स्मार्ट फोन वितरित करते योगी ने जब ये कहा कि प्रदेश के एक करोड़ युवाओं को टेबलेट और स्मार्ट फोन दिए जा रहे हैं, तो जाहिर है कि यूथ को योगी अपने पाले में करना चाह रहे थे। उनका यह कहना कि यूपी का युवा अब सिर्फ युवा ही नहीं रहेगा बल्कि स्मार्ट युवा कहलाएगा, इसके पीछे उनका मकसद समझ से परे कतई नहीं था।

पूर्व सीएम और सपा मुखिया अखिलेश यादव पर योगी ने तंज कसे और चुटकी लेते हुए यह कहा कि अब अखिलेश के सपने मेंं भगवान श्रीकृष्ण आ रहे हैं, जब उनकी सरकार थी तो कोसीकला में दंगा कराया जा रहा था। एक तरह से योगी ने अखिलेश यादव और उनकी पार्टी को कठघरे में खड़ा किया। योगी आदित्यनाथ ने बीच-बीच में अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाईं। कहा कि-शाकुंभरी देवी विश्व विद्यालय सहारनपुर के विकास में मील का पत्थर साबित होगा। इसके जरिये सहारनपुर का नाम देश-दुनिया में रोशन होगा।

दलित वोटरों को लुभाने में भी योगी ने कसर बाकी नहीं लगाई। उन्होेंने बताया कि किस तरह सपा सरकार में कांशीराम के नाम पर बने मेडिकल कालेज का नाम बदल दिया गया। बाबा साहब भीमराव अंबेडकर के सम्मान में भाजपा द्वारा किए गए कार्यों को भी योगी ने गिनाने में चूक नहीं की। एक तरह से अपने भाषण मेंं सीएम ने सभी वर्गों को साधने की कोशिश की। अब चुनाव में भाजपा को इसका कितना लाभ मिलेगा, यह तो वक्त बताएगा। फिलवक्त योगी ने जनसभा में जनता-जनार्दन का भरोसा जीतने का भरसक प्रयास किया। चुनाव जीतने के लिए भरोसा तो जीतना ही होता है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments