Tuesday, April 23, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutएक जनवरी से शुरू होगी सीबीएसई की प्रयोगात्मक परीक्षा

एक जनवरी से शुरू होगी सीबीएसई की प्रयोगात्मक परीक्षा

- Advertisement -
  • परीक्षा को लेकर बोर्ड की ओर से स्कूलों को जारी किए गए निर्देश

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड यानि सीबीएसई की ओर से सत्र 2022-23 की बोर्ड परीक्षाएं समय से कराने की तैयारियां शुरू कर दी गई है। देशभर के स्कूलों में इस सत्र की प्रयोगात्मक परीक्षाएं, प्रोजेक्ट व आंतरिक मूल्यांकन एक जनवरी से शुरू हो जाएंगे। वहीं, ठंड क्षेत्रों में संचालित स्कूलों की प्रयोगात्मक परीक्षाएं व आंतरिक मूल्यांकन 15 नवंबर से 14 दिसंबर के बीच ही होंगे।

सीबीएसई ने स्कूलों के लिए दिशा निर्देश जारी कर दिए हैं। विस्तृत दिशानिर्देश फिलहाल विंटर बाउंड स्कूल्स के लिए ही जारी किए गए हैं। जल्द ही देशभर के अन्य स्कूलों की प्रयोगात्मक परीक्षाओं के लिए भी विस्तृत दिशानिर्देश जारी किए जाएंगे। सूत्रों के मुताबिक प्रयोगात्मक परीक्षाएं एक माह चलेंगी।

19 22

आमतौर पर प्रयोगात्मक परीक्षाएं फरवरी में होती थी, लेकिन इस वर्ष सीबीएसई ने एक जनवरी से ही प्रयोगात्मक परीक्षाएं शुरू करने की घोषणा कर दी है। इसके अनुसार जनवरी में प्रयोगात्मक परीक्षाएं होने के बाद फरवरी मध्य से बोर्ड परीक्षाएं शुरू हो सकती हैं। संभव है कि सीबीएसई 15 फरवरी से वोकेशनल व कौशल विकास विषयों की परीक्षाएं शुरू कर देगा। वहीं मार्च में मुख्य परीक्षाएं आयोजित होंगी।

बोर्ड के दिशा निर्देश अनुरूप स्कलों ने शुरू की तैयारी

सीबीएसई के दिशा निर्देश को देखते हुए स्कूलों ने भी अपनी तैयारी शुरू कर दी है। त्योहारों की छुट्टियों के बाद सीबीएसई स्कूलों में छमाही व प्री-बोर्ड परीक्षाओं की तैयारियां भी शुरू हो जाएंगी। एक जनवरी से प्रयोगात्मक परीक्षा शुरू होने के पहले तकरीबन सभी स्कूल में कम से कम एक प्री-बोर्ड हो चुके होंगे।

कुछ स्कूल दिसंबर तक दो बार प्री-बोर्ड कराने की कोशिश कर रहे हैं जिससे जनवरी में मौका देखकर तीसरा प्री-बोर्ड भी आयोजित किया जा सके। पिछले महीने शहर के दोनों सहोदय संगठनों की बैठकों में इन बिंदुओं पर विस्तार से चर्चा कर कार्ययोजना भी तैयार की गई है।

सभी स्कूल कम से कम दो प्री-बोर्ड कराना चाह रहे हैं जिससे कक्षा 10वीं और 12वीं के परीक्षार्थियों की तैयारी बेहतर हो सके। कोविड महामारी के बाद यह पहली बोर्ड परीक्षा होगी जिसमें कोविड पूर्व की भांति तीन घंटे का पेपर होगा और तकरीबन पूरा सिलेबस पूछा जाएगा।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
2
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments