Monday, October 25, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsBaghpatशर्मनाक: गोशाला में मरे गोवंश को नोचते रहे कुत्ते, केयर टेकर अनजान

शर्मनाक: गोशाला में मरे गोवंश को नोचते रहे कुत्ते, केयर टेकर अनजान

- Advertisement -
  • सरूरपुर कलां गांव की गोशाला परिसर का मामला, गोवंश की मौत के बाद ठीक से नहीं दफनाया गया था
  • गोशाला में कई बार हो चुकी है ऐसी घटना, लेकिन पशु पालन विभाग बना हुआ है अनजान, नहीं दे रहे ध्यान

जनवाणी संवाददाता |

बागपत: सरूरपुर कलां गांव में बनायी गयी गोशाला की देखरेख पशु पालन विभाग द्वारा ठीक से नहीं करायी जा रही है और वहां गोवंश के साथ अन्याय के मामले सामने आते रहते है। एक बार फिर गोशाला परिसर में दबायी गये गोवंश को कुत्ते नोचते नजर आए और वहां कार्य करने वाले केयर टेकर भी इससे अनजान बन रहे।

किसी व्यक्ति ने इसकी वीडियो वायरल की तो पशु पालन विभाग में हडकंप मच गया और मौके पर पहुंचकर जेसीबी से गड्Þढा खुदवाकर गोवंश को दफनाया। केयर टेकरों को फटकार लगाते हुए ठीक से गोवंश का रख-रखाव करने के आदेश दिए।

प्रदेश सरकार के आदेश पर सरूरपुर कलां गांव में गोशाला बनायी गयी थी, ताकि सड़कों पर घूमने वाले बेसहारा गोवंश को उसमें रखकर ठीक से रख-रखाव किया जा सकें, लेकिन गोशाला में गोवंश का ठीक से ध्यान तक नहीं रखा जा रहा है। वहां आए दिन गोवंश को कुत्ते नोचते हुए नजर आते है और कभी वहां गोवंश को कीचड में बैठा दिया जाता है।

गुरूवार को भी वहां ऐसा ही नजारा देखने को मिला। कुछ दिन पहले एक गोवंश की मौत हो गयी थी तो उसको गड्ढा खोदकर दफनाया गया था, लेकिन वह पूरा नहीं दब सका था। जिसके चलते कुत्ते वहां पहुंच गए और गोवंश को बाहर निकालकर नोचने लगे। वहां रहने वाले केयर टेकरों ने भी इस तरफ ध्यान तक नहीं दिया और जब किसी व्यक्ति ने वीडियो बनाकर वायरल की तो पशु पालन विभाग के अधिकारियों में हडकंप मच गया। सीवीओ ने मौके पर पहुुंचकर कुत्तों को वहां से भगाया और जेसीबी मशीन मंगवाकर गड्ढा खुदवाकर गोवंश को दफनाया। सीवीओ ने केयर टेकरों को जमकर फटकार लगाते हुए कार्य में सुधार के आदेश दिए।

कुछ दिन पहले एक व्यक्ति मरे हुए गोवंश को गोशाला के बाहर फेंक गया था। जिसके बाद केयर टेकर ने उसको उठाकर गोशाला परिसर में दफना दिया था, लेकिन ठीक से नहीं दफनाने के कारण कुत्तों ने उसको बाहर निकाल दिया था। बाद में मौके पर पहुंचकर उसको दफना दिया गया था।
डा. रमेशचंद्रा मुख्य पशु चिकित्साधिकारी बागपत

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments