Tuesday, October 26, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeBihar Newsई-गजबे बिहार बा, घंटेभर में दो-दो सरकार बा...

ई-गजबे बिहार बा, घंटेभर में दो-दो सरकार बा…

- Advertisement -

जनवाणी ब्यूरो |

पटना: बिहार के रुझानों में NDA बहुमत के पार हो गया है। हालांकि, इसमें अभी पेंच फंसा हुआ है, क्योंकि दोपहर डेढ़ बजे तक सिर्फ 22 प्रतिशत वोटों की गिनती हुई थी। यानी, 4.10 करोड़ वोट में से 92 लाख वोट काउंट हुए थे। उधर, प्लूरल्स पार्टी की पुष्पम प्रिया चौधरी EVM हैकिंग का आरोप लगा रही हैं। उनका कहना है कि हर बूथ से EVM के वोट NDA को ट्रांसफर हो रहे हैं।

इससे पहले, मंगलवार सुबह जब रुझान आना शुरू हुए तो तेजस्वी यादव का महागठबंधन आगे बना हुआ था। सुबह 9 बजे तक वह इतनी बढ़त हासिल कर चुका था कि सरकार आसानी से बन जाए, लेकिन एक घंटे बाद तस्वीर बदल गई और नीतीश कुमार ने बाजी पलट दी।

NDA 120 सीटों के करीब पहुंचता दिखा और अगले आधे घंटे में उसने रुझानों में बहुमत का आंकड़ा छू लिया। भाजपा भी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी। सिर्फ भास्कर का एग्जिट पोल सही साबित होता दिख रहा है, जिसमें हमने बताया था कि NDA को 120 से 127 सीटें मिल सकती हैं।

अपडेट्स

  • 2:30 PM: NDA 128 और महागठबंधन 105 सीटों पर आगे। भाजपा 74, जदयू 47, राजद 67, कांग्रेस 19, लेफ्ट 18 सीटों पर आगे।
  • 2:00 PM: NDA 134 और महागठबंधन 98। भाजपा 76, जदयू 52, राजद 61, कांग्रेस 18, लेफ्ट 19 सीटों पर आगे।
  • 1.00 PM: NDA 127 और महागठबंधन 105 सीटों पर आगे है।
  • 12.30 PM: NDA 129 और महागठबंधन 103 सीटों पर बढ़त लेता दिख रहा है।
  • 12.00 PM: NDA 129 और महागठबंधन 100 सीटों पर आ गया।
  • 11.30 AM: NDA 131 और महागठबंधन 101 सीटों पर लीड करता दिखा।
  • 11 AM: NDA 130 और महागठबंधन 97 पर आ गया।
  • 10.30 AM: NDA 125 पर पहुंच गया और महागठबंधन 109 पर आ गया।
  • 10 AM: NDA बढ़कर 119 पर था और महागठबंधन घटकर 114 पर आ गया था।
  • 9.00 AM: महागठबंधन 120 सीटों पर आगे था, NDA को 90+ सीटों पर बढ़त थी।
  • 8.30 AM: रुझानों में महागठबंधन 60+ और NDA 40+ पर था।

बड़े चेहरों से जुड़े अपडेट्स

  • लालू यादव के छोटे बेटे तेजस्वी राघोपुर से आगे हैं। बड़े बेटे तेज प्रताप हसनपुर सीट से 10 बजे के बाद पिछड़ गए थे, वे फिर आगे हो गए हैं।
  • मधेपुरा से उम्मीदवार पप्पू यादव तीसरे नंबर पर चल रहे हैं।
  • बिहारीगंज सीट से शरद यादव की बेटी सुभाषिनी दूसरे नंबर पर चल रही हैं।
  • बांकीपुर से शत्रुघ्न सिन्हा के बेटे लव सिन्हा पीछे चल रहे हैं।
  • परसा से जदयू के चंद्रिका राय और इमामगंज से हम प्रत्याशी जीतनराम मांझी पीछे चल रहे हैं।
  • VIP के मुकेश सहनी सिमरी बख्तियारपुर सीट पर आगे चल रहे हैं।
  • जमुई से भाजपा की श्रेयसी सिंह बढ़त बनाए हुए हैं।
  • छातापुर सीट से सुशांत सिंह राजपूत के भाई नीरज सिंह बबलू आगे चल रहे हैं।

दोपहर डेढ़ तक 22 फीसदी काउंटिंग: बिहार के चीफ इलेक्टोरल ऑफिसर एचआर श्रीनिवास ने दोपहर डेढ़ बजे मीडिया को बताया कि राज्य में 4.10 करोड़ वोट डाले गए थे। इनमें से 92 लाख वोटों की ही गिनती हुई है। आमतौर पर 25 से 26 राउंड में काउंटिंग होती है। इस बार हमें 35 राउंड तक काउंटिंग करनी होगी।

इसलिए काउंटिंग शाम तक चलेगी। सीटों पर कैसी मतगणना: 55 सीटों पर 1000 वोटों का अंतर है, जबकि 35 सीटों पर 500 से कम वोटों को मार्जिन है। देरी से पहुंचा स्टाफ: सुबह 8 बजे से काउंटिंग शुरू होनी थी, लेकिन राजधानी पटना से आधा घंटा बीतने के बाद भी कोई अपडेट नहीं आ सका। स्टाफ काउंटिंग सेंटर पर देरी से पहुंचा। कई लोग मोबाइल लेकर आ गए थे। फिर नाश्ता करने में देरी हुई। सुबह 40 मिनट बीतने के बाद भी किसी प्रकार का रुझान नहीं दिया गया।

55 काउंटिंग सेंटर: पूर्वी चंपारण, सीवान, बेगूसराय और गया में तीन-तीन, नालंदा, बांका, पूर्णिया, भागलपुर, दरभंगा, गोपालगंज, सहरसा में दो-दो काउंटिंग सेंटर बनाए गए। 55 काउंटिंग सेंटरों में 414 हॉल बनाए गए।

पुष्पम प्रिया का EVM हैकिंग का आरोप: प्लूरल्स पार्टी की पुष्पम प्रिया चौधरी ने दोपहर 2 बजे फेसबुक पर लिखा कि बिहार में EVM हैक हो गई। प्लूरल्स वोट चुराकर हर बूथ पर वोट NDA को ट्रांसफर हो गए। डेटा साफ है। हमें तो बहुमत नहीं था, पर NDA को भी बहुमत नहीं था। प्लूरल्स के वोटों की चोरी ने उनका काम बना दिया।

राजद को जीत का भरोसा: राजद सांसद मनोज झा ने दोपहर डेढ़ बजे मीडिया से कहा कि हम आपसे कुछ घंटे में मिलेंगे और यह साबित कर देंगे कि हमने जो कहा था, वह कर दिखाया।

अगर जदयू हारेगी तो कोरोना की वजह से: जनता दल यूनाइटेड के नेता केसी त्यागी ने सुबह 10 बजे कहा कि एक साल पहले राजद को लोकसभा चुनाव में एक भी सीट नहीं मिली। लोकसभा चुनाव के हिसाब से तो जदयू और सहयोगी दलों को 200 से ज्यादा सीटें मिलनी थीं। एक साल में ब्रांड नीतीश को कोई नुकसान नहीं पहुंचा है। हम अगर हार रहे हैं तो वह सिर्फ कोरोना की वजह से।

2019 लोकसभा चुनाव में 223 विधानसभा सीटों पर आगे था एनडीए

2019 में हुए लोकसभा चुनाव में बिहार की 40 में 39 सीटें एनडीए को मिली थीं। सिर्फ एक सीट पर कांग्रेस का उम्मीदवार जीता था। लोकसभा के नतीजों को अगर विधानसभा क्षेत्र के हिसाब से देखें तो एनडीए को 223 सीटों पर बढ़त मिली थी। इनमें से 96 सीटों पर भाजपा तो 92 सीटों पर जदयू आगे थी। लोजपा 35 सीटों पर आगे थी।

एक सीट जीतने वाला महागठबंधन विधानसभा के लिहाज से 17 सीटों पर आगे था। इनमें 9 सीट पर राजद, 5 पर कांग्रेस, दो पर हम (सेक्युलर) जो अब एनडीए का हिस्सा है और एक सीट पर रालोसपा को बढ़त मिली थी। अन्य दलों में दो विधानसभा क्षेत्रों में AIMIM और एक पर CPI-ML आगे थी।

2015 में साथ लड़े थे राजद और जदयू

2015 के चुनाव में राजद, जदयू और कांग्रेस ने साथ मिलकर महागठबंधन बनाया था। इस गठबंधन को 178 सीटें मिलीं थी। लेकिन, डेढ़ साल बाद ही नीतीश महागठबंधन से अलग होकर एनडीए में चले गए। इस चुनाव में एनडीए में भाजपा, VIP और हम (सेक्युलर) के साथ जदयू भी है। वहीं, पिछले चुनाव में एनडीए का हिस्सा रही रालोसपा और लोजपा के साथ है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments