Thursday, April 25, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsSaharanpurएकीकृत निक्षय दिवस: टीबी के छह और मरीज मिले

एकीकृत निक्षय दिवस: टीबी के छह और मरीज मिले

- Advertisement -
  • ओपीडी में 6716 लोग आये, 258 लोगों के बलगम के  नमूने जांच को भेजे

जनवाणी संवाददाता |

सहारनपुर: टीबी उन्मूलन को लेकर स्वास्थ्य विभाग संजीदा है। सरकार के वर्ष 2025 तक देश से टीबी उन्मूलन के लिए तरह-तरह की योजनाएं संचालित हैं। पिछली 24 मार्च को आयोजित विश्व क्षय रोग दिवस पर भी टीबी उन्मूलन का संकल्प लिया गया और इसी कड़ी में गत 15 अप्रैल को एकीकृत निक्षय दिवस का आयोजन किया गया। जिला क्षय रोग अधिकारी (डीटीओ) डा. सर्वेश सिंह ने बताया कि इस दिवस पर छह और रोगी पॉजिटिव पाए गए। इनका तुरंत इलाज शुरू कर दिया गया है। अभी कुछ लोगों की रिपोर्ट आना बाकी है।

डा. सर्वेश सिंह ने बताया कि  15 अप्रैल को आयोजित निक्षय दिवस पर 6716 लोग ओपीडी में आये, जिनमें से लक्षण वाले संभावित 258 मरीजों के  नमूने जांच के लिए एकत्र किए गए। इनमें से छह लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है। कुछ लोगों की रिपोर्ट आना बाकी है। उन्होंने बताया कि फिलहाल, सहारनपुर में टीबी के 4952 मरीज सामने आ चुके हैं। सन् 2022 में टीबी के 6346 मरीज ठीक हुए हैं।

जनपद में कुल 82 टीबी चैंपियन हैं। अब हर हेल्थ एवं वेलनेस सेंटर पर दो-दो टीबी चैंपियन चयनित कर उनका सहयोग लिया जाएगा। इस दिशा में प्रक्रिया तेज कर दी गई है। विश्व क्षयरोग दिवस पर 232 तथा इसके पहले 1650 टीबी के मरीजों को गोद लिया जा चुका है। अकेले इंडियन टोबैको कंपनी ने 1500 मरीजों को गोद लिया है।

जिला क्षय रोग अधिकारी ने बताया कि क्षय रोग (ट्यूबरक्लोसिस) संक्रामक बीमारी है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक दुनिया भर में होने वाली मौतों के शीर्ष दस कारणों में टीबी भी है। समय पर पता चलने और इलाज से टीबी को पूरी तरह से खत्म किया जा सकता है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments