Tuesday, June 25, 2024
- Advertisement -
Homeसंवादसिनेवाणी‘हद कर दी आपने’ का रीमेक बनाएंगे मनोज अग्रवाल

‘हद कर दी आपने’ का रीमेक बनाएंगे मनोज अग्रवाल

- Advertisement -

CINEWANI 1


इस सदी की शुरुआत में, 14 अप्रैल, 2000 को रिलीज हुई मनोज अग्रवाल निर्देशित सुपरहिट रोमांटिक कॉमेडी फिल्म ‘हद कर दी आपने’ ने हाल ही में अपनी रिलीज के 23 साल पूरे किए हैं। रानी मुखर्जी और गोविंदा अभिनीत यह एक ऐसी फिल्म थी, जिसने दर्शकों के दिलो दिमाग पर गहरा असर छोड़ा था। यही वजह है कि दो दशक बाद भी उस फिल्म की यादें दर्शकों के जहन में ताजा है। फिल्म में गोविंदा और रानी मुखर्जी की आॅन स्क्रीन जोड़ी को दर्शकों ने इतना पसंद किया कि उसके बाद यह जोड़ी एक के बाद एक कई फिल्मों में दोहराई गई।

दर्शकों को यह जानकर थोड़ी सी हैरत हो कि फिल्म के लिए गोविंदा के अपोजिट रानी मुखर्जी पहली पसंद नहीं थीं, बल्कि फिल्म के लिए पहले उस दौर की बेहद खूबसूरत एक्ट्रेस महिमा चौधरी का नाम तय हुआ था। लेकिन उनके बिजी शैडयूल के चलते वह फिल्म नहीं कर सकीं और फिल्म में रानी मुखर्जी की एंट्री हुई और इतिहास बन गया। ‘हद कर दी आपने’ के 23 साल पूरे किए जाने के अवसर पर फिल्म के निर्देशक मनोज अग्रवाल ने खुलासा किया कि वो इसका रीमेक बनाने की तैयारी कर रहे हैं।

फिल्म की स्क्रिप्ट पर काम लगभग पूरा कर लिया गया है, और यदि सब कछ ठीक ठाक रहा तो जल्दी फिल्म की कास्टिंग फाइनल कर, शूटिंग इस साल के आखिर तक शुरू हो जाएगी। मुंबई यूनिवर्सिटी से न्यूक्लियर फिजिक्स में एमएससी करने वाले निर्माता निर्देशक मनोज अग्रवाल ‘बात बन जाये’ (1986) में भरत रंगाचारी, ‘तन बदन’ (1986) में आनंद, ‘बहू रानी’ (1989) में मानिक चटर्जी, ‘खतरनाक’ (1990) में डेविड धवन और ‘राम जाने’ (1995) के दौरान राजीव मेहरा के साथ बतौर असिस्टेंट जुड़े। गोविंदा के साथ काम करते हुए उनके साथ, मनोज अग्रवाल के खास रिलेशन बन चुके थे।

शायद यही वजह रही कि ‘परदेसी बाबू’ (1998) के साथ जब मनोज अग्रवाल ने स्वतंत्र रूप से निर्देशन में पहला कदम रखा, तब उन्होंने गोविंदा को ही लीड रोल में लिया। गोविंदा के अपोजिट रवीना टंडन, शिल्पा शेट्टी को कास्ट किया गया। फिल्म में शशिकला, सतीश कौशिक, आसिफ शेख, मोहनीश बहल, अरूण बक्षी, सुरेश वटवाल, अवतार गिल, राजीव वर्मा, राजेश विवेक जैसे कलाकारों का उपयोग भी मनोज अग्रवाल ने बखूबी किया। उन्होंने इस फिल्म को निर्धारित बजट में, महज एक साल में पूरा किया।

‘परदेसी बाबू’ (1998) बेहद शानदार फिल्म थी। उसमें इमोशन इतना जबर्दस्त था कि दर्शक निहाल हो गए। फिल्म में गोविंदा पर क्लब में फिल्माया गया गीत, मनोज कुमार की ‘पूरब और पश्चिम’ के गीत ‘है प्रीत जहां की रीत सदा….‘ की याद दिलाता था। फिल्म क्रीटिकली और कमर्शियली दोनों मोर्चों पर सफल रही। ‘हद कर दी आपने’ (2000), मनोज अग्रवाल द्वारा स्वतंत्र रूप से निर्देशित दूसरी फिल्म थी।

इसमें गोविंदा और रानी मुखर्जी, के साथ जॉनी लीवर, परेश रावल, सतीश कौशिक, टीनू आनंद, अवतार गिल, विजू खोटे, भरत कपूर, नवनीत निशान, तनाज करीम, हेलन बोंडी, स्मिता जयकर, निर्मल पांडे, रितु शिवपुरी, पदमिनी कपिला, राकेश बेदी, हिमानी शिवपुरी जैसे कलाकार थे। इसकी कहानी सतीश जैन और पटकथा राजीव कौल, प्रफुल्ल पारेख ने लिखी थी। ‘परदेसी बाबू’ (1998) की तरह मनोज अग्रवाल की यह फिल्म भी जबर्दस्त हिट रही।

‘वाह तेरा क्या कहना’ (2000) मनोज अग्रवाल व्दारा निर्देशित तीसरी फिल्म थी। फिल्म की कहानी पटकथा राजीव कौल, प्रफुल्ल पारेख की थी। फिल्म में गोविंदा और रवीना टंडन के साथ प्रीति झंगियानी, शम्मी कपूर, कादर खान, आशीष विद्यार्थी, मोहनीश बहल, राना जंग बहादुर, नवनीत निशान, सुप्रिया कार्निक , राकेश बेद, अनिल धवन, अंजू महेन्दू , राजू श्रीवास्तव थे।

‘हद कर दी आपने’ के रीमेक को लेकर मनोज अग्रवाल के सामने सबसे बड़ी चुनौती यह होगी कि इस रीमेक में वह, पहले वाली फिल्म से सीन बाय सीन कॉपी न करके, दर्शकों के लिए कुछ नया प्रस्तुत कर सकें। मनोज अग्रवाल एक ऐसे फिल्म मेकर रहे हैं, जो हर अवसर पर अपनी प्रतिभा साबित कर चुके हैं। उनके काम और टेलेंट पर हर किसी को पूरा भरोसा है। दर्शक उनके काम को बार बार देखना चाहते हैं। दर्शकों की नब्ज को टटोलने में उन्हें महारथ हासिल है।

इसलिए उम्मीद की जा सकती है कि इस चुनौती पर वो एकदम खरे साबित होंगे। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार उन्होंने इस रीमेक के स्क्रिप्ट को जो अंतिम रूप दिया है, उसके अनुसार फिल्म का मूल सार तो पहले वाला ही रखा है, लेकिन बाकी सब कुछ एकदम नया और दो दशक बाद की परिस्थितियों के अनुकूल है। मनोज अग्रवाल ने अब तक जिस तरह का काम किया है, उसे देखकर तो यही लगता है कि उनके लिए कुछ भी असंभव नहीं । उन्होंने अब तक के कैरियर में असंभव को संभव करके ही दिखाया है।

मनोज अग्रवाल द्वारा निर्देशित फिल्मों को दर्शकों ने इतना अधिक पसंद किया कि वो लागत से ज्यादा कमाई करने में सफल रहीं। मनोज अग्रवाल, मनोज अग्रवाल प्रोडक्शन कंपनी के सीएमडी हैं। इस रीमेक को लेकर फिलहाल, उनके सामने सबसे बड़ी समस्या फिल्म की कास्टिंग की है। गोविंदा और रानी मुखर्जी जैसे टेलेंटेड एक्टर्स के विकल्प की तलाश भी किसी अजूबे से कम नहीं होगी। और यह अजूबा मनोज अग्रवाल में कर दिखाने का पूरा माद्दा है।

सुभाष शिरढोनकर


janwani address 9

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments