Friday, July 19, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsSaharanpurशिकायतों के निस्तारण में लापरवाही बर्दाश्त नहीं: नगरायुक्त

शिकायतों के निस्तारण में लापरवाही बर्दाश्त नहीं: नगरायुक्त

- Advertisement -
  • पार्षदों ने भी अपने वार्डो की समस्याओं के निस्तारण के लिए जनसुनवाई का उठाया लाभ

जनवाणी संवाददाता |

सहारनपुर: जनसुनवाई के चतुर्थ मंगलवार को आज नगर निगम में 26 लोग अपनी समस्याएं लेकर पहुंचे और उनका निदान कराने की मांग की। अनेक शिकायतों का त्वरित निस्तारण किया गया। नगरायुक्त ज्ञानेंद्र सिंह ने निगम अधिकारियों को चेतावनी देते हुए कहा कि सफाई, निर्माण, जल निगम या टैक्स कोई विभाग हो जन शिकायतों के निस्तारण में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी। अनेक पार्षदों ने भी अपने क्षेत्र की समस्याओं के समाधान के लिए जनसुनवाई दिवस का लाभ उठाया।

शारदानगर निवासी प्रदीप सेठी की शिकायत थी कि शारदा नगर में नाला निर्माण के बाद भी गत्ता मिल कॉलोनी के नाले से जुड़ने के स्थान पर कूड़ा जमा रहता है, उसकी सफाई कराने के साथ ही उस स्थान पर कूड़ा जमा न हो, इसका स्थायी समाधान किया जाए। सर्राफा बाजार मीरगंज निकट जैन मंदिर के नवीन चंद्रा का कहना था कि आसपास के दुकानदार उनके आवास कि निकट कचरा और मकानों का मलबा डाल रहे है जिससे वहां कूड़ा सड़ने लगा है। नगरायुक्त ने दोनों मामलों में नगर स्वास्थय अधिकारी को तुरंत समाधान के निर्देश दिए।

इसरार चौधरी के नेतृत्व में नूरबस्ती के शकूर अहमद, इनाम, हाजी अमीर व मौ.फैय्याज आदि ने नालों की सफाई कराने की मांग की। नगरायुक्त ने कहा कि नूर बस्ती के नाले नालियांे में गोबर बहाया जाता है,जिससे उनमंे गंदगी रहती है। उन्होंने साफ चेतावनी दी कि गोबर नालियों में बहाने वालों को बिल्कुल बख्शा नहीं जायेगा और सख्त कार्रवाई की जायेगी। इसरार ने नगरायुक्त को विश्वास दिलाया कि नूरबस्ती के लोगों ने अपनी गलती मानते हुए माफी मांग ली है और अब वे नालियों में गोबर नहीं बहा रहे है। नगरायुक्त ने अधिकारियों को स्थलीय निरीक्षण कर समस्या समाधान के निर्देश दिए।

जेल चुंगी मौज्जमपुरा निवासी शारदा सोनकर की शिकायत थी कि सड़क पर बना नाला टूटकर गिर गया है। बरसात में उसके घर के सामने पानी भरता है। इस स्थिति में बरसात में उसे अपना घर गिरने का डर सता रहा है। अतः नाला निर्माण कराया जाएं। नगरायुक्त ने निर्माण विभाग को स्थलीय निरीक्षण कर कार्रवाई करने के आदेश दिए। सेक्टर 34 दयाल कॉलोनी के लोगों ने एक गली में जलभराव की समस्या बताते हुए जल निकासी के लिए नाला निर्माण की मांग की। नगरायुक्त ने पंद्रहवें वित्त से उक्त कार्य कराने के निर्देश दिए।

आज की जनसुनवाई में अपने क्षेत्र की समस्याओं का निस्तारण कराने के लिए गुलशेर, राजेंद्र, अभिषेक अरोड़ा उर्फ टिंकू, यशपाल पुंडीर, नौशाद, हाजी नूरआलम व भूरासिंह प्रजापति आदि पार्षद भी पहुंचे। भूरासिंह प्रजापति का कहना था कि कलसिया रोड से सात कॉलोनियों का पानी अक्षर धाम के बराबर से होते हुए पांवधोई नदी में गिरकर उसे प्रदूषित कर रहा है। उसकी निकासी के लिए नाला निर्माण कराया जाए। नगरायुक्त ने उक्त शिकायतों के अतिरिक्त पिछले मंगलवार को आयी जनसमस्याओं के निस्तारण की भी समीक्षा की।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments