Sunday, July 21, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsSaharanpurमच्छरों के लिए जलभराव वाले क्षेत्र सबसे बड़ा वरदान: नगररायुक्त

मच्छरों के लिए जलभराव वाले क्षेत्र सबसे बड़ा वरदान: नगररायुक्त

- Advertisement -
  • नगर निगम में संक्रामक रोग उपचार अभियान को लेकर हुयी बैठक

जनवाणी संवाददाता |

सहारनपुर: नगरायुक्त ज्ञानेंद्र सिंह ने निगम के स्वास्थय विभाग को निर्देश दिए है कि कहीं भी जलभराव न होने पायें। जलभराव वाले स्थान मलेरिया, डेंगू व मस्तिष्क ज्वर आदि वेक्टर जनित रोगों को फैलाने वाले मच्छरों के लिए सबसे बड़ा वरदान होते हैं। उन्होंने सभी वार्डो में पूरी तरह साफ सफाई, चूना व एंटीलार्वा आदि के छिड़काव के साथ झाड़ियां और नाले नालियों के किनारे खड़ी घास साफ कराने के निर्देश दिए।

नगरायुक्त मंगलवार को नगर निगम में संक्रामक रोग उपचार अभियान को गति देने के लिए निगम के सफाई निरीक्षकों को संबोधित कर रहे थे। बैठक में नगर स्वास्थय अधिकारी डॉ.कुनाल जैन व जिला मलेरिया अधिकारी डॉ.शिवांका गौड भी मौजूद रही। शिवांका गौड़ ने सफाई निरीक्षकों से कहा कि वह अपने अपने वार्डो में यह सुनिश्चित कर ले कि घरों की छतों पर खाली डिब्बों व बर्तनों, पुरानी गाड़ियों और टायरों में जलभराव तो नहीं हो रहा है। उन्होंने कहा कि कूलरों में भी पानी ज्यादा दिन न जमा रखा जाएं। उन्होंने तालाबों में दवा का छिड़काव, गड्ढ़ों या पोखरो में जमा पानी पर जला हुआ डीजल आदि छिड़कवाने का सुझाव दिया।

नगरायुक्त ज्ञानेंद्र सिंह ने वेक्टर जनित रोगों के नियंत्रण के लिए लोगों के बीच व्यापक प्रचार प्रसार करने पर बल देते हुए कहा कि निगम की सभी गाड़ियों से लोगों को इसके प्रति जागरुक किया जाए। उन्होंने पार्को आदि सार्वजनिक स्थलों पर आने वाले लोगों के बीच इश्तहार वितरित करने का सुझाव दिया। उन्होंने कहा कि अभी कोरोना भी समाप्त नहीं हुआ है,ऐसी परिस्थितियों में हमें हर हाल में वेक्टर जनित रोगों के प्रति सतर्क रहना होगा। उन्होंने बार बार कहने के बावजूद भी गंदगी फैलाने तथा जलभराव करने वाले लोगों पर जुर्माना लगाने के निर्देश दिए।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments