Monday, December 6, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeDelhi NCRअब फाल्ट नहीं बनेगा मेट्रो के देरी का कारण

अब फाल्ट नहीं बनेगा मेट्रो के देरी का कारण

- Advertisement -

जनवाणी ब्यूरो |

नई दिल्ली: ओवरहेड लाइन में खराबी होने पर यात्रियों को अब मेट्रो के लिए अधिक इंतजार नहीं करना पड़ेगा। अगर तकनीकी खराबी होने पर अब 2-3 मेट्रो स्टेशनों पर कम दायरे में ही सेवाएं प्रभावित होगी। पूरी लाइन पर सेवाएं नहीं प्रभावित होंगी। अब तक ओवरहेड इलेक्ट्रिक केबल (ओएचई) के खराब होने से 6-10 स्टेशनों पर यात्रियों की सेवाएं प्रभावित हो जाती हैं।

दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) की ब्लू, येलो और रेड लाइन पर 26 जगहों पर नए स्विचिंग स्टेशन बनाए जा रहे हैं। उम्मीद है इस साल के अंत तक सभी स्विचिंग स्टेशन तैयार कर लिए जाएंगे।

नए स्विचिंग स्टेशन बनाए जाने से मरम्मत का काम जल्द होगा तो कम स्टेशनों के दायरे में सेवाओं पर तकनीकी खराबी का असर पड़ेगा। इससे लंबी दूरी तक आने जाने वालों को गंतव्य तक पहुंचने में देरी नहीं होगी।

फिलहाल अगर ओएचई में अगर बाराखंभा और मंडी हाउस के बीच खराबी आती है तो इंद्रप्रस्थ से आरके आश्रम के बीच मेट्रो सेवाएं प्रभावित होती हैं। लंबी दूरी होने के बावजूद इन दो स्टेशनों पर ही स्विचिंग की सुविधा होने की वजह से छह स्टेशनों पर मेट्रो की सेवाएं प्रभावित होती हैं।

अब नए स्टेशनों के तैयार होने से ओएचई की मरम्मत में देरी नहीं होगी और न ही यात्रियों को मेट्रो के लिए अधिक इंतजार करना पड़ेगा।

दिसंबर तक 26 स्टेशनों पर बनेंगे नए स्विचिंग स्टेशन

रेड लाइन पर रिठाला, इंद्रलोक, शास्त्री पार्क, मानसरोवर पार्क और दिलशाद गार्डन पर नए स्टेशन बनाए जाएंगे।
येलो लाइन पर जहांगीरपुरी, विश्वविद्यालय, सिविल लाइन, चांदनी चौक, पटेल चौक, केंद्रीय सचिवालय, लोक कल्याण मार्ग, ग्रीन पार्क, कुतुब मीनार, सुल्तानपुर और सिकंदरपुर में स्टेशन बनाए जाएंगे।

यात्रियों की नहीं होगी भीड़भाड़ 

बाराखंभा रोड मेट्रो स्टेशन पर कुछ दिनों पहले नए स्विचिंग स्टेशन का शुभारंभ किया गया। इससे ओएचई में खराबी होने पर राजीव चौक मेट्रो स्टेशन पर न तो यात्रियों की अधिक भीड़ होती है और न ही एक ही स्टेशन के आसपास ट्रेनों को एक साथ रोकने की जरूरत होती है। इससे यात्रियों की सुविधाएं भी बढ़ रही हैं।

ब्लू लाइन पर होंगे सर्वाधिक स्विचिंग स्टेशन

26 स्टेशनों पर नए स्विचिंग स्टेशन बनाने का काम चल रहा है। दिसंबर के अंत तक अलग अलग कॉरिडोर पर चरणों में नए स्टेशन बनाए जाएंगे ताकि मेट्रो के आवागमन में सहूलियतें बढ़ सकें। फिलहाल रेड लाइन पर 18 है जबकि छह नए स्विचिंग स्टेशन बनने से संख्या 24 हो जाएगी। येलो लाइन पर 11 नए स्विचिंग स्टेशन बनने से संख्या 35 होगी जबकि ब्लू लाइन पर स्टेशनों की संख्या बढ़कर 38 हो जाएगी।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments