Wednesday, May 29, 2024
- Advertisement -
HomeNational Newsसंजय सिंह का बड़ा आरोप, बोले- केजरीवाल के खिलाफ हुई साजिश, भाजपा...

संजय सिंह का बड़ा आरोप, बोले- केजरीवाल के खिलाफ हुई साजिश, भाजपा ने किया शराब घोटाला

- Advertisement -

जनवाणी ब्यूरो |

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट से सशर्त जमानत पर छह महीने बाद आप सांसद संजय सिंह बुधवार को जेल से बाहर आए। जमानत मिलने के बाद राज्यसभा सांसद संजय सिंह राजनीतिक तौर पर सक्रिय हो गए हैं। आज संजय सिंह ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि केजरीवाल के खिलाफ साजिश हुई है। इस साजिश में भाजपा के बड़े नेता शामिल हैं। भाजपा ने शराब घोटाला किया है।

संजय सिंह ने कहा, ‘आज मैं आपके सामने यह बताने के लिए आया हूं कि दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार करने की साजिश कैसे रची गई। यह शराब घोटाला भाजपा ने किया है। इस घोटाले में भाजपा के वरिष्ठ नेता शामिल हैं।’

संजय सिंह ने कहा, ‘एक व्यक्ति हैं, मगुंटा रेड्डी, जिन्होंने तीन बयान दिए, उनके बेटे राघव मगुंटा ने सात बयान दिए। 16 सितंबर को जब उनसे (मगुंटा रेड्डी से) पहली बार ईडी ने पूछा कि क्या वह अरविंद केजरीवाल को जानते हैं, तो उन्होंने सच बताया और कहा कि उन्होंने अरविंद केजरीवाल से मुलाकात की लेकिन चैरिटेबल ट्रस्ट की जमीन के मामले में मैं मिला था। लेकिन उसके बाद उनके बेटे को गिरफ्तार कर लिया गया और पांच महीने जेल में रखने के बाद उनके पिता ने अपना बयान बदल दिया।’

आप सांसद ने आगे कहा, ‘मगुंटा रेड्डी पर 16 सितंबर को पहली बार कार्रवाई होती है, 10 फरवरी तक उसे कहा जाता है केजरीवाल के खिलाफ बयान दो जिसके बाद उसके बेटे को गिरफ्तार किया गया। राघव मगुंटा के सात बयान लिए जाते हैं। उन्होंने सात में से छह बयानों में अरविंद केजरीवाल के खिलाफ कुछ नहीं कहा, लेकिन 16 जुलाई को सातवें बयान में उन्होंने अपना रुख बदल लिया और साजिश का हिस्सा बन जाता है। पांच महीनों की प्रताड़ना के बाद के बाद वह बदल जाता है। अरविंद केजरीवाल के खिलाफ बयान देता है।’

आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने कहा, ‘सबसे चौंकाने वाली बात यह है कि उन छह बयानों (राघव मगुंटा के) और उनके पिता के दो बयानों को हटा दिया गया और ईडी ने कहा कि हमें उस पर भरोसा नहीं है। ऐसे बयान जो अरविंद के खिलाफ नहीं थे, जिन बयानों में अरविंद केजरीवाल का नाम नहीं था, ईडी ने कहा कि हमें इसपर भरोसा नहीं है। बाप-बेटे पर दबाव बनाकर अरविंद केजरीवाल के खिलाफ बयान लिया गया। मगुंटा रेड्डी की तस्वीर पीएम मोदी के साथ है। 16 जुलाई को केजरीवाल के खिलाफ बयान देने के बाद 18 जुलाई को इनकी जमानत हो जाती है। यह बहुत बड़ी साजिश है।’

जेल से बाहर निकले संजय सिंह का कार्यकर्ताओं ने किया जोरदार स्वागत
भूरे रंग की जैकेट के साथ सफेद कुर्ता-पायजामा पहने राज्यसभा सदस्य जेल से बाहर निकले तो आप कार्यकर्ताओं ने उन्हें माला पहनाई। कार्यकर्ताओं ने नारा लगाया, देखो देखो कौन आया, शेर आया, शेर आया और संजय सिंह जिंदाबाद। उन्होंने उन पर गुलाब की पंखुड़ियां भी बरसाईं। इसके बाद संजय सिंह अपनी गाड़ी के ऊपर चढ़ गए और कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि यह जश्न मनाने का समय नहीं, बल्कि संघर्ष का समय है। तिहाड़ जेल के बाहर उनका स्वागत करने के लिए दिल्ली के मंत्री सौरभ भारद्वाज और आप विधायक दुर्गेश पाठक भी पहुंचे थे।

जेल से बाहर निकलते ही बरसे संजय सिंह
संजय सिंह ने जेल से रिहा होने के बाद मुख्यमंत्री की पत्नी सुनीता केजरीवाल व मनीष सिसोदिया की पत्नी सीमा सिसोदिया से मुलाकात की। इसके बाद वह आम आदमी पार्टी मुख्यालय पहुंचे। उन्होंने कहा कि देश के तानाशाह को अगर मेरी आवाज सुनाई दे रही है तो मैं बताना चाह रहा हूं कि यह आम आदमी पार्टी है। हम आंदोलन की कोख से पैदा हुए हैं, डरने वाले नहीं हैं।

‘केजरीवाल बिल्कुल इस्तीफा नहीं देंगे’
आप सांसद ने बुधवार को जेल से बाहर आने के बाद कहा कि केजरीवाल, मनीष सिसोदिया और सत्येंद्र जैन को जेल में भेज दिया। उनका गुनाह केवल यह है कि वे दिल्ली की दो करोड़ जनता को अच्छी शिक्षा, स्वास्थ्य, बुजुर्गों को तीर्थ यात्रा, मुफ्त में पानी, माताओं-बहनों को एक हजार रुपये की आर्थिक मदद और बसों में फ्री यात्रा देना चाहते हैं। कल भगवंत मान को गिरफ्तार कर लो, फिर कहो कि इस्तीफा दो। केरल के सीएम विजयन की बेटी पर जांच शुरू कर दी है। ममता बनर्जी के भतीजे पर जांच शुरू कर दी। कहेंगे कि विजयन और ममता बनर्जी इस्तीफा दो। केजरीवाल बिल्कुल इस्तीफा नहीं देंगे और दो करोड़ जनता के लिए काम करेंगे।

‘जो जितना बड़ा भ्रष्टाचारी, वो भाजपा का उतना बड़ा पदाधिकारी’
संजय ने कहा कि भाजपा के कार्यकर्ता 6 महीने तक गलियों में घूम-घूमकर लोगों को हिमंत बिस्वा के घोटालों के बारे में बता रहे थे और प्रधानमंत्री ने उन्हें गले लगाकर असम का सीएम बना दिया। यह लोग अजित पवार पर 70 हजार के घोटाले का आरोप लगाते थे, मोदी जी ने उन्हें भी गले लगा लिया। आज जो जितना बड़ा भ्रष्टाचारी है, वह भाजपा का उतना बड़ा पदाधिकारी है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments