Wednesday, May 25, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -spot_img
HomeUttar Pradesh NewsMeerutभतीजे की ऐलानिया हत्या करने वाले के पैर में गोली मारी

भतीजे की ऐलानिया हत्या करने वाले के पैर में गोली मारी

- Advertisement -
  • एसओजी और सर्विलांस टीम की संयुक्त कार्रवाई
  • फलावदा के नंगला हरेरु गांव में हुई पुलिस मुठभेड़
  • दो आरोपी पकड़े, फरार आरोपियों की तलाश में ताबड़तोड़ दबिशें

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ/फलावदा: एसएसपी प्रभाकर चौधरी के 10 महीने के कार्यकाल में पहली बार किसी बदमाश को गोली मारी गई है। ब्रह्मपुरी थाना क्षेत्र के इत्तेफाक नगर में भीड़भाड़ वाली सड़क पर भतीजे साजिद को चाकुओं से गोदकर हत्या करने वाले 25 हजार के इनामी शहजाद को एसओजी और फलावदा पुलिस ने नंगला हरेरु के पास पुलिस मुठभेड़ में गोली मार दी। जबकि उसके भाई को गिरफ्तार किया गया है। आरोपी का एक भाई जावेद मौके से फरार हो गया। इस पर 25 हजार रुपये का इनाम रखा गया है।

पुलिस मुठभेड़ बुधवार शाम गांव नंगला हरेरु के पास स्थित एक आम के बाग में 5:30 बजे हुई है। बताया जा रहा है कि ब्रह्मपुरी थाना अंतर्गत इत्तेफाक नगर में सरेराह साजिद का दिनदहाड़े चाकू के वार से सनसनीखेज कत्ल किया गया था। इस घटना में नामजद तीन आरोपियों पर कप्तान प्रभाकर चौधरी ने 25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया था। बताया जा रहा है तीनों आरोपी फलावदा के रास्ते खतौली भागने के प्रयास में थे।

उनके पीछे एसओजी तथा सर्विलांस टीम लगी हुई थी। पुलिस का दावा है कि तीनों आरोपियों को घेरा बंदी कर के गांव नंगला हरेरु के पास पकड़ने का प्रयास किया। इस दौरान हुई मुठभेड़ में पुलिस की गोली लगने से हत्याकांड का मुख्य आरोपी शहजाद घायल हो गया। उसके पैर में गोली लगी है। पुलिस ने नामजद नौशाद को भी पकड़ लिया। पुलिस का दावा है कि तीसरा आरोपी जावेद फरार हो गया।

फलावदा थाना क्षेत्र में हुई मुठभेड़ की सूचना पाकर एसपी क्राइम अनित कुमार तथा सीओ मवाना उदय प्रताप सिंह भी मौके पर पहुंच गए। उन्होंने घायल बदमाश को अस्पताल भिजवा दिया। सीओ उदय प्रताप सिंह ने बताया कि पकड़े गए बदमाशों से बाइक में असलाह बरामद हुआ है। वहीं, गत 15 जून को एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने एसएसपी के पद पर कार्यभार ग्रहण किया था। तब से लेकर अब तक किसी भी थाने की पुलिस ने बदमाशों के पैर में गोली मारने की शुरुआत नहीं की थी।

जबकि पूर्व एसएसपी अजय साहनी के कार्यकाल में सैकड़ों बदमाशों के पैरों में गोली मारी गई थी। कई बदमाशों के इस कारण पैर भी काटने पड़ गये थे। जिस तरह से सरेराह साजिद की हत्या करने वाले इनामी बदमाश के पैर में गोली मारी गई है। उससे जाहिर होता है कि अब पुलिस शातिर बदमाशों को टपकाने से पीछे नहीं हटेगी। एसएसपी प्रभाकर चौधरी का कहना है कि साजिद हत्याकांड के आरोपी ने मुठभेड़ के दौरान पुलिस पर गोलियां चलाई, इसके जबाव में पुलिस ने जब गोलियां चलाई तो एक गोली इनामी शहजाद के पैर में लगी और गंभीर रूप से घायल हो गया।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
3
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -
spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments