Tuesday, June 15, 2021
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutदर्दनाक: शव को कंधा देने के लिए नहीं मिले लोग

दर्दनाक: शव को कंधा देने के लिए नहीं मिले लोग

- Advertisement -
0
  • शव को भैंसा-बुग्गी में ले जाकर करना पड़ा श्मशान घाट में अंतिम संस्कार

जनवाणी संवाददाता |

सरधना: कोरोना महामारी के बीच इंसान के नए-नए रूप देखने को मिल रहे हैं। कहीं लोग मदद के लिए आगे आ रहे हैं तो कहीं कोरोना की दहशत से अंतिम संस्कार में भी शामिल होने से कतरा रहे हैं। दबथुवा गांव में कोरोना के डर से एक व्यक्ति का अंतिम संस्कार करने के लिए कोई नहीं आया।

गांव में शव को कंधा देने की कोई हिम्मत नहीं जुटा सका। जिसके चलते शव को भैंसा-बुग्गी में रखकर श्मशान घाट तक ले जाया गया। स्वास्थ्य विभाग की टीम व एक सामाजिक संस्था के सदस्यों ने कोविड प्रोटोकॉल के तहत शव का अंतिम संस्कार किया।

सरधना के दबथुवा गांव निवासी सुमित को कई दिन से बुखार के साथ सांस लेने में परेशानी हो रही थी। शुक्रवार को घर पर सुमित की मौत हो गई। सूचना पर स्वास्थ्य विभाग की टीम भी जांच करने पहुंचे। पता चला कि जांच नहीं होने के कारण यह स्पष्ट नहीं हो सका कि वह कोरोना पॉजिटिव था या नहीं। सुमित के परिवार में एक बूढ़ी मां है। शव के अंतिम संस्कार की उम्मीद ग्रामीणों से ही थी। मगर दोपहर तक कोई नहीं आया।

कोरोना के डर से सुमित को चार कंधे भी नसीब नहीं हो सके। एक सामाजिक संस्था के सदस्य वहां पहुंचे। स्वास्थ्यकर्मियों के साथ मिलकर वह शव को भैंसा-बुग्गी में रखकर श्मशान घाट तक ले गए। जिसके बाद कोविड प्रोटोकॉल के तहत शव को अंतिम संस्कार किया गया।

भैंसा-बुग्गी में शव ले जाते हुए गांव की वीडियो खूब वायरल हो रही है। जिसमें वीडियो बनाने वाले साफ बोल रहा है कि कोरोना के डर से कोई ग्रामीण अंतिम संस्कार में शामिल नहीं हुआ। इस संबंध में सीएचसी प्रभारी डा. ओपी जायसवाल का कहना है कि सूचना पर टीम भेजी थी। मगर मरने वाले में कोरोना की पुष्टि नहीं हुई थी। सुमित की कोई कोरोना जांच ही नहीं हुई थी।

कॉन्टिनेंटल कंपनी के छह कर्मचारियों की मौत

मोदीपुरम: टायर बनाने वाली कौन प्राइवेट लिमिटेड कंपनी का प्लांट कोरोना महामारी के चलते बंदी की कगार पर पहुंच गया है। कंपनी के छह कर्मचारियों की संक्रमण फैलने के कारण मौत हो चुकी है। इसके अलावा कई कंपनी के अफसर और कर्मचारी भयंकर बीमारी से संक्रमित है। टायर बनाने वाली कॉन्टिनेंटल इंडिया प्राइवेट लिमिटेड कंपनी का मोदीपुरम स्थित प्लांट कोरोना का केंद्र बन गया है।

कंपनी के छह कर्मचारियों की अब तक संक्रमण के फैलने से मौत हो चुकी है। जबकि 350 से अभी कंपनी के कर्मचारी और अधिकारी अब भी कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं। इस संक्रमण के चलते कंपनी के उच्च अधिकारियों ने फिलहाल कॉन्टिनेंटल प्लांट को बंद करने के बाद प्रोडक्शन को बंद कर दिया है। 17 मई को दोबारा प्लांट को चालू करने की बात कही गई है।

इस संबंध में कॉन्टिनेंटल कंपनी के प्रेस प्रवक्ता प्रदीप राय का कहना है कि कोरोना संक्रमण से कई कर्मचारियों की मौत हो चुकी है। 350 से अधिक लोग संक्रमित हैं, जो होम क्वारंटाइन है। कर्मचारी कंपनी के परिवार के सदस्य हैं। उनकी सुरक्षा को देखते हुए प्लांट बंद किया गया है। सबकुछ ठीक-ठाक रहा तो आगामी 17 मई से प्लांट दोबारा से शुरू होगा।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments