Wednesday, September 22, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsMeerutस्वास्थ्य विभाग ने कैंप लगाकर की जांच, 18 लोग निकले पॉजिटिव

स्वास्थ्य विभाग ने कैंप लगाकर की जांच, 18 लोग निकले पॉजिटिव

- Advertisement -

जनवाणी संवाददाता |

सरधना: ग्रामीण क्षेत्र में बढ़ते मौत के सिलसिले से लोगों में दहशत का माहौल है। सरधना के ईकड़ी गांव में पिछले चार दिन में करीब दर्जनभर लोगों की मौत होने का मामला सामने आया है। हालांकि सरकारी रिकॉर्ड के अनुसार इन सब में महज एक व्यक्ति की कोरोना से मौत होने की बात कही जा रही है।

साथ ही चार दिन पूर्व हुई टेस्टिंग में करीब पचास प्रतिशत ग्रामीण संक्रमित मिलने के बाद शुक्रवार को स्वास्थ्य विभाग द्वारा यहां कैंप लगाकर फिर से जांच की गई। जिनमें 18 लोग कोरोना से संक्रमित मिले। इन सभी संक्रमित लोगों को आइसोलेट कर दिया गया है। साथ ही उनके आसपास के इलाकों को सील कर दिया गया है।

सरधना क्षेत्र के ईकड़ी गांव में करीब चार दिन पूर्व स्वास्थ्य विभाग द्वारा 40 लोगों की कोरोना जांच की गई थी। जिनमें 21 लोग कोरोना पॉजिटिव मिले थे। यानी कुल टेस्टिंग के 50 प्रतिशत लोग कोरोना से संक्रमित पाए गए। पूर्व प्रधान व जिला पंचायत सदस्य के पिता एडवोकेट सोहित त्यागी ने बताया कि गांव में पिछले चार दिन में करीब दर्जनभर लोगों की मौत हो चुकी है।

हालांकि सरकारी रिकॉर्ड के अनुसार एक व्यक्ति को छोड़कर बाकी लोगों की मौत कोरोना से नहीं हुई है। लगातार हो रही मौत से ग्रामीणों में दहशत का माहौल है। शुक्रवार को स्वास्थ्य विभाग द्वारा कुल फिर से गांव में कैंप लगाया गया। यहां टीम ने कुल 146 लोगों की जांच की।

जिनमें 18 लोग कोरोना से संक्रमित मिले। जांच रिपोर्ट आने के बाद सभी को आइसोलेट कर दिया गया। साथ ही उनके आसपास के इलाके को बैरिकेट करके सील कर दिया गया। गांव में बढ़ते मौत के आंकड़े से ग्रामीणों में दहशत का माहौल है।

वहीं, इस संबंध में प्रभारी सीएचसी सरूरपुर डा. ओपी जायसवाल का कहना है कि ईकड़ी में एक व्यक्ति की कोरोना से मौत हुई है। बाकी अन्य लोगों की मौत अन्य बीमारी के कारण हुई है। चार दिन पूर्व 40 टेस्टिंग में 21 लोग पॉजिटिव मिले थे। इसलिए आज गांव में फिर से कैंप लगाया गया था।

आज 146 टेस्टिंग में 18 लोग पॉजिटिव मिले हैं। सभी को आइसोलेट कर दिया है। उनके आसपास के इलाकों को सील कर दिया गया है।

सरूरपुर में आंगनबाड़ी सहायिका की मौत

देहात क्षेत्र में कोरोना के बढ़ते प्रकोप से लगातार मौत का सिलसिला बदस्तूर जारी बना हुआ है। छुर गांव में जहां पिछले 15 दिन में 50 लोगों की मौत का दावा किया जा रहा है। वहीं, क्षेत्र के सरूरपुर, हर्रा, जसड़ सुल्तान नगर व रोहटा के नारंगपुर गांव में एक-एक दिन में पांच-सात मौत होने की बात सामने आ रही है। शुक्रवार को पिठलोकर गांव में कोरोना पॉजिटिव आंगनबाड़ी सहायिका मुनेश की भी मौत हो गई। ग्रामीणों ने बताया कि दो दिन पहले ही मुनेश की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी।

गांवों में चिह्नित किये जाएंगे कोरोना मरीज

चुनाव के बाद गांवों में कोरोना के लक्षण वाले लोगों को चिह्नित किया जाएगा और उन्हें कोरोना किट वितरित की जाएगी। इसके लिये प्रशासन की ओर से खंडवार टीम का गठन किया गया है जो गांव गांव जाकर ऐसे लोगों को चिह्नित करेंगे। इस प्रकार के लक्षण करने वाले लोगों को चिह्नित करने के लिये 12 ब्लॉकों पर 12 टीम बनाई गई हैं। जो इन विकासखंडों में जा जाकर लोगों को चिह्नित करेंगी।

रजपुरा ब्लॉक में दिग्विजय नाथ तिवारी और डा. रोहित को कमान सौंपी गई है। मेरठ ब्लॉक में अमित कुमार, डा. ओमकार सिंह को जिम्मेदारी दी गई है। खरखौदा ब्लॉक में अमित कुमार, डा. सिरोही, जानी में राजीव कुमार व महेश चन्द्र को, रोहटा में राजीव कुमार व डा. अमर सिंह को कमान सौंपी गई है। सरधना में सुनीत कुमार भाटी, डा. राजेश कुमार, सरूरपुर में दीपक तेवतिया, डा. ओम जायसवाल, दौराला में डा. साजिद अहमद, डा. आशुतोष, माछरा में गोपाल गोयल, डा. नाइक और परीक्षितगढ़ में शैलेन्द्र कमार, डा. संदीप, मवाना में सुरेन्द्र कुमार व डा. भास्कर और हस्तिनापुर में शैलेन्द्र व डा. अंकुर त्यागी को कमान सौंपी गई है।

अब यूपी के लोगों को ही लगेगी 18 पार वैक्सीन

प्रदेश के 18 से 44 वर्ष तक के लोगों को वैक्सीन लगाने का काम चल रहा है। आॅनलाइन पंजीकरण के कारण दिल्ली और अन्य राज्यों के लोग आकर वैक्सीन लगवा रहे थे। इस कारण मेरठ समेत सात शहरों के लोग वैक्सीन नहीं लगवा पा रहे हैं। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के निदेशक अपर्णा उपाध्याय ने निर्देश दिए हैं कि अब यूपी के अलावा बाहरी राज्यों के लोगों को वैक्सीन नही लगाई जाएगी। निदेशक ने बताया कि 18 पार लोगों को वैक्सीन लगाई जा रही है। आॅनलाइन पंजीकरण से ही वैक्सीन लग रही है। अन्य राज्यों के लोगों द्वारा भी वैक्सीन लगवाने की बात सामने आ रही है। अब वैक्सीन लगवाने वाले अपने साथ आधार कार्ड जरूर लाएंगे।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments