Thursday, January 27, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeINDIA NEWSसपा ने उप्र को बना दिया था "शैतान का कारखाना": सुरेश खन्ना

सपा ने उप्र को बना दिया था “शैतान का कारखाना”: सुरेश खन्ना

- Advertisement -
  • जनता अब सपा को कभी भी ऐसा मौका देने से रही
  • मोदी-योगी की अगुवाई में तरक्की पर जा रहे प्रदेश को रसालत में नहीं जाने देगी जनता

जनवाणी ब्यूरो |

लखनऊ: अपने पिछले कार्यकाल में समाजवादी पार्टी (सपा) ने सूबे को “शैतान का कारखाना” (अपराधियों और अत्याचारियों के रहने और पैदा होने की जगह) बना दिया था। एक बार वह फिर उसी मंशा से जनता के बीच है। पर जनता सपा के इस चरित्र से भली-भांति वाकिफ हो चुकी है। लिहाजा डबल इंजन (मोदी-योगी) की सरकार की अगुवाई में तरक्की पर जा रहे प्रदेश को रसातल में ले जाने का मौका वह सपा को कभी भी देने से रही।

यह बातें भाजपा के वरिष्ठ नेता और उत्तर प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री सुरेश खन्ना ने मंगलवार को जारी एक बयान में कही। श्री खन्ना ने कहा कि लोगों को सपा के पिछले कार्यकाल में मुजफ्फरनगर के कैराना समेत पूरे प्रदेश में हुए 1500 से अधिक दंगे, उनकी भयावहता और इनमें हुई जान-माल की क्षति ठीक से याद है।

जनता ने सपा पोषित “बीपीएल कार्डधारी” गायत्री प्रजापति और इंजीनियर यादव सिंह के भ्रष्टाचार को भी देखा है। कोई भी क्षेत्र इनके भ्रष्टाचार अछूता नहीं था। गोमती रिवर फ्रंट, समाजवादी पेंशन, लैपटॉप, बेरोजगारों के भत्ते, नोएडा अथॉरिटी के घोटाले इसके कुछ प्रमाण हैं।

श्री खन्ना ने कहा कि सपा का पिछला कार्यकाल उसकी अराजकता और उसके लोगों की गुंडई के लिए ही जाना जाता है। माफिया एवं अपराधियों को संरक्षण, ऐसे तत्त्वों और अपने चहेतों को लूट की खुली छूट देना, संवैधानिक और प्रतियोगी परीक्षाएं आयोजित कराने वाली संस्थाओं की शुचिता और पारदर्शिता को तार-तार करना सपा की उपलब्धियां रहीं। ऐसे में सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव लाख जतन कर लें उनका सत्ता हासिल करने का सपना अब पूरा होने से रहा।

बीते करीब पांच साल में बीजेपी सरकार ने अपराध को समूल नष्ट करने का जो सफल कार्य किया है, वह जनभावनाओं के अनुरूप है। ऐसे में वह दोबारा भाजपा की डबल इंजन सरकार को ही नेतृत्व सौंपने का संकल्प ले चुकी है। जनता अब इस प्रदेश को दोबारा माफिया-अपराधियों का चारागाह नहीं बनने देगी और यही वजह है कि वह अखिलेश यादव को दूर-दूर तक तवज्जो नहीं दे रही है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments