Wednesday, September 22, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsMeerutस्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी: तैयारियों को लगेंगे पंख

स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी: तैयारियों को लगेंगे पंख

- Advertisement -
  • बुलंदशहर में जलक्रीड़ा अकादमी खोलने पर चर्चा की, जिसकी शासन से मिल सकती है अनुमति
  • गगोल में बनेगी शूटिंग रेंज, जमीन का परीक्षण करने के दिये निर्देश
    जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी को पंख लगने जा रहे हैं। सलावा (सरधना) में खेल विश्वविद्यालय की स्थापना प्रस्तावित हैं, जिसका मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मेजर ध्यानचंद खेल विश्वविद्यालय घोषणा कर चुके हैं, इसके लिए जमीन का आन रिकॉर्ड स्थानांतरण भी हो गया है।

कमिश्नर ने बिन्दुवार प्रकरणों पर चर्चा की, जिसमें क्षेत्रीय क्रीड़ाधिकारी ने बताया कि खेल विश्वविद्यालय की स्थापना के लिए प्रस्तावित भूमि 39.3409 हेक्टेयर के स्थान पर 36.9813 हेक्टेयर भूमि ही खेल विभाग को हस्तान्तरित की गयी है तथा तीन हेक्टेयर भूमि वन विभाग को हस्तान्तरित कर दी गयी है, जिसे पर्यटन विभाग को दिये जाने के सम्बन्ध में बैठक में चर्चा करते हुए निर्देश दिये गये कि प्रकरण में शीघ्र एसडीएम सरधना की रिपोर्ट प्राप्त कर प्रस्ताव शासन को भेजा जाए, इसमें किसी तरह का विलंब नहीं होना चाहिए।

जनपद मेरठ में उप्र राज्य खेल विश्व विद्यालय की स्थापना के लिए सिंचाई विभाग की भूमि हस्तान्तरण के सम्बन्ध में वन विभाग के प्रवेश पोर्टल पर पार्ट-1 की औपचारिकतायें एवं अभिलेख पूर्ण करने के लिए प्रभागीय वनाधिकारी, मेरठ को निर्देशित किया गया।

राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के सम्बन्ध में प्रस्तावित ड्राफ्ट क्षेत्रीय योजना में यथासम्भव प्राविधान सम्मिलित करने के लिए सचिव, मेरठ विकास प्राधिकरण को निर्देशित किया गया। डबल ट्रैप शूटिंग रैंज की स्थापना के लिए गगोल के ग्राम नंगला पट्टू में राजस्व विभाग की 2.60 हेक्टेयर भूमि का निरीक्षण क्षेत्रीय क्रीड़ाधिकारी द्वारा कर लिया गया है।

इस सम्बन्ध में प्रभागीय वनाधिकारी को निर्देशित किया गया कि उक्त भूमि शूटिंग रेंज के लिए उपयोगी है, अथवा नहीं, का परीक्षण करते हुए अपनी रिपोर्ट उपलब्ध करायें। सिंचाई विभाग एवं वन विभाग परियोजना से प्रभावित अपनी परिसम्पत्तियों के सम्बन्ध में एस्टीमेट बनाकर देने के लिए कमिश्नर ने कहा। खेल विभाग द्वारा उनको क्षतिपूर्ति धनराशि उपलब्ध करायी जायेगी।

जनपद मेरठ में भारतीय खेल प्राधिकरण खोले जाने के लिए भी चर्चा करते हुए डीएम से अपेक्षा की गयी कि इस सम्बन्ध में प्रस्ताव तैयार कर शासन को शीघ्र भिजवाया जाये। आवश्यकता के अनुसार भूमि का चिन्हांकन करा लिया जाये।

जनपद बुलन्दशहर में जलक्रीड़ा अकादमी खोलने के सम्बन्ध में बताया गया कि खिलाड़ियों को अकादमी खोलने के लिए अनुमति दी जा सकती है, परन्तु किसी राज्य/केन्द्र सरकारी से कार्यरत कर्मचारियों को अकादमी खोलने की अनुमति देय नहीं है।

भाजपा विधायक सत्यवीर त्यागी के ग्राम खरखौदा में मिनी स्टेडियम बनाये जाने के प्रस्ताव पर चर्चा करते हुए डीएम एवं जिला युवा कल्याण अधिकारी को आवश्यक कार्रवाई शीघ्र करने के भी कमिश्नर ने निर्देश दिये।

जनपद हापुड़ में खेल विभाग की गतिविधियों को कियान्वयन करने के लिए जिला खेल कार्यालय की स्थापना एवं ग्राम असौड़ा में खेल विभाग को आवंटित भूमि पर स्टेडियम बनाये जाने के लिए अध्यक्षा, जिला पंचायत, हापुड़ को अधिकृत किया गया। इसके अलावा मेरठ में कैलाश प्रकाश स्टेडियम में दर्शकदीर्घा की मरम्मत एवं रंगाई/पुताई कर कायाकल्प करने की जिम्मेदारी एमडीए को दी गई।

ये रहे बैठक में मौजूद

डीएम के. बालाजी, संदीप भागिया, एसडीएम, राजेश कुमार, प्रभागीय वनाधिकारी, सत्यप्रकाश, अपर जिलाधिकारी (प्रशासन), प्रवीणा अग्रवाल, सचिव, मेरठ विकास प्राधिकरण, अमिताभ कुमार, अधीक्षण अभियन्ता, प्रथम मंडल, सिंचाई (गंगा), गदाधर बारीकी, क्षेत्रीय क्रीड़ाधिकारी, डा. योगेन्द्र कुमार, क्षेत्रीय अधिकारी, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड, मेरठ, गोर्की, सहायक नगर नियोजक, मेरठ विकास प्राधिकरण।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments