Wednesday, December 1, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsMeerutमां ने तीन बेटियों का गला रेता, एक बच्ची की मौत

मां ने तीन बेटियों का गला रेता, एक बच्ची की मौत

- Advertisement -
  • बेटियों को घायल कर खुद गला रेता मां ने, हालत गंभीर
  • मानसिक रुप से बीमार मां ने दिया वारदात को अंजाम
  • मां ने सुसाइड नोट लिखा जिसमें मानसिक बीमारी का जिक्र

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: मानसिक बीमारी से परेशान एक मां ने अपनी तीन मासूम बेटियों की जान लेने के इरादे से उनके गले को ब्लेड से रेत दिया और बाद में खुद का गला रेत कर जान देने की कोशिश की। दो साल की बेटी की दर्दनाक मौत हो गई जबकि मां समेत तीन लोग घायल है जिसमें मां की हालत गंभीर बताई जा रही है।

अगर मकान के निचले हिस्से में रहने वाली जेठानी की बेटी ऊपर आकर हालात न देखती तो संभवत चारों लोगों की जान चली जाती। शोर मचने पर काफी लोग एकत्र हो गए और घायलों को बागपत रोड स्थित सांई अस्पताल में भर्ती कराया गया है। महिला ने एक सुसाइड नोट भी लिखा है जिसमें उसने मानसिक बीमारी के कारण जिंदगी को परेशान बताया है।

ब्रह्मपुरी थाना क्षेत्र के समर कालोनी के ई-ब्लाक में अतीक अपनी पत्नी आसमां, बेटियों अंशा, जोबिया और मरियम के साथ मकान के ऊपरी हिस्से में रहता है जबकि नीचे वाले हिस्से में अतीक का बड़ा भाई रहता है। अतीक कापियों और किताबों को बनाने का काम करता है।

एसपी क्राइम राम अर्ज ने बताया कि गुरुवार की शाम चार बजे के करीब अतीक की पत्नी आसमां ने ब्लेड से अपनी बेटियों के गले पर तीखे वार कर दिये जिससे वे लहुलूहान हो गई। तीनों बेटियों पर ब्लेड से हमला करने के बाद आसमां ने अपने गले में भी काफी गहराई से ब्लेड का वार कर दिया।

मां और तीनों बेटियां लहुलूहान हो गई और बिस्तर पर तड़पने लगी तभी आसमां की जेठानी शाहीन की बेटी किसी काम से ऊपर आई तो उसने चारों लोगों को लुहलूहान देख उसकी चीख निकल आई और वो शोर मचाती हुई नीचे भागी। थोड़ी देर में मौहल्ले में शोर मच गया।

देखते देखते काफी लोग एकत्र हो गई। आसमां के पति अतीक को खबर की गई। थोड़ी देर में पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। एसपी क्राइम राम अर्ज, सीओ ब्रहमपुरी अमित राय और इंस्पेक्टर सुभाष अत्री आदि मौके पर पहुंचे और आसपास के लोगों से बात की।

एसपी क्राइम ने बताया कि महिला आसमां शादी से पहले से मानसिक रुप से बीमार चल रही है। उसका इलाज शहर के कई न्यूरोलाजिस्ट से चल रहा है। कुछ साल पहले भी उसने इस तरह की कोशिश की थी। उन्होंने बताया कि दो साल की मरियम की मौत खून के काफी बहने से हुई है।

बाकी दो बहनों की हालत ठीक है और बोल रही है। जबकि मां की हालत गंभीर बताई जा रही है। पुलिस को मौके से सुसाइड नोट मिला है जो आसमां ने पहले लिखकर रखा हुआ था। सुसाइड नोट में महिला ने लिखा है कि वो बीस साल से मानसिक बीमारी का इलाज कराते हुए थक गई है और अब उसके मन में जीने की इच्छा नहीं बची है। उसने आत्महत्या के प्रयास के लिये किसी को आरोपी नहीं बनाया है। वहीं ब्रहमपुरी पुलिस का कहना है कि इस संबंध में कोई तहरीर नहीं आई है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments