Friday, May 31, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsSaharanpurफर्जी रायल्टी प्रपत्र तैयार करने वाले दो गिरफ्तार

फर्जी रायल्टी प्रपत्र तैयार करने वाले दो गिरफ्तार

- Advertisement -

जनवाणी संवाददाता |

सहारनपुर: अवैध खनन के परिवहन के लिए फर्जी प्रपत्र तैयार करने वाले एक स्टूडियों के मालिक और उसके डिजाईनर को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। उनके पास से 22 अवैध खनन रॉयल्टी प्रपत्र और लैपटाप व प्रिंटर बरामद किया है। पकड़े गए अभियुक्तों ने बताया कि उनसे यह फर्जीवाड़ा जिला पंचायत के कुछ ठेकेदार कई महीने से करा रहे थे।

मिली जानकारी के अनुसार चौकी इंचार्ज सिविल लाईन्स शैलेन्द्र चिकारा को आज सुबह मुखबीर से सूचना मिली कि जैन कालेज रोड पर डीआईजी कार्यालय के
समीप जे.के.स्टूडियो में दो व्यक्ति अवैध खनन रायल्टी प्रपत्र कम्प्यूटर प्रिन्टर द्वारा फर्जी प्रपत्र तैयार कर रहे है। चौकी इंचार्ज ने मौके पर खान अधिकारी राघवेन्द्र सिंह व क्राइम ब्रान्च टीम के उप निरीक्षक अजय प्रसाद गौड़ को मौके पर बुला लिया। खान अधिकारी व क्राइम ब्रान्च टीम और चौकी के पुलिस वालों ने संयुक्त रूप से जे. के. स्टूडियो पर दबिस दी।मौके पर दो व्यक्ति कम्प्यूर से अवैध खनन रायल्टी प्रपत्र तैयार कर रहे थे तथा प्रिन्टर से प्रिन्ट निकाल रहे थे। दोनों व्यक्ति हम पुलिस वालो को देखकर डरे तथा भागने का प्रयास करने लगे पर पुलिस टीम ने घेरकर बल प्रयोग कर स्टूडियो के अन्दर ही पकड़ लिया। पकड़े जाने पर एक ने अपना नाम तनवीर अहमद पुत्र मुन्तजिर अहमद(34) नि. बेहडेकी थाना कोतवाली देहात और दूसरे
ने अपना नाम नवीन जैन पुत्र जिनेन्द्र कुमार जैन(62) नि.बिहारी लाल का आहता खलासी लाईन थाना सदर बाजार बताया। पकड़े गये दोनों अभियुक्तों के कब्जे से वैध प्रपत्रो की कुल 17 प्रतिया तथा अवैध प्रपत्रो की कुल 22 प्रतिया, एक डेस्कटाप, एक प्रिन्टर कब्जे में लिया गया। खान अधिकारी द्वारा बरामदा प्रपत्रो की जांच की गयी तो 22 प्रतिया अवैध पायी गई।
खान अधिकारी द्वारा रॉयल्टी प्रपत्रो के बारे में जानकारी की तो
दोनों ने बताया कि साहब हम लोग असली रायल्टी पत्र को फर्जी रूप से तैयार कर दिनांक, समय मात्रा व ट्रक का नम्बर बदल देते है और असली के रूप में प्रयोग कर अनुचित लाभ प्राप्त करते है। तनवीर अहमद ने बताया कि जिला पंचायत के ठेकेदार फरमान, आशीष, मुनेश व जहाँगीर को अपने कराये गये कार्य के सम्बन्ध में वैध प्रपत्रो के दिनांक, समय व मात्रा जे.के. स्टूडियो केहमालिक नवीन जैन द्वारा बदलवाकर सम्बन्धित विभाग में प्रस्तुत किया जाता
है तथा हमारे द्वारा फर्जी रूप से रॉयल्टी प्रपत्र तैयार कर असली के रूप में प्रयोग कर अवैध लाभ अर्जित किया जाता है। खनन विभाग वाले पकड़ लेते थे पर धनमीटर कम कर अभिवहन शुल्क की चोरी हो जाती थी।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments