Wednesday, May 29, 2024
- Advertisement -
HomeDelhi NCRदिल्ली शराब घोटाले में नाम आने के बाद बौखलाईं आतिशी, बोलीं 'मैं...

दिल्ली शराब घोटाले में नाम आने के बाद बौखलाईं आतिशी, बोलीं ‘मैं और तीन अन्य आप नेता जेल में डाले जाएंगे’

- Advertisement -

जनवाणी ब्यूरो |

नई दिल्ली: आज मंगलवार को आम आदमी पार्टी की नेत्री और दिल्ली सरकार में मंत्री आतिशी बौखलाई नजर आईं। बताया जा रहा है कि दिल्ली शराब घोटाले में नाम आने के बाद आतिशी ने मीडिया से बात की। दिल्ली मंत्री आतिशी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि ईडी मेरे घर पर छापेमारी कर सकती है और आने वाले दिनों में मुझे भी जेल में डाला जा सकता है। वहीं उन्होंने यह भी कहा कि सौरभ और राघव चड्ढा को भी गिरफ्तार किया जा सकता है। आतिशी ने कहा कि अरविंद केजरीवाल अपना इस्तीफा नहीं देंगे।

आम आदमी पार्टी की नेता आतिशी ने खुलासा किया है कि भाजपा के एक नेता ने उनके करीबी से संपर्क साधा है। उनको बोला है की आतिशी को अपना करियर बचा के रखना है तो वह जल्द भाजपा में शामिल हो जाए, अन्यथा उसे भी गिरफ्तार किया जाएगा। उन्हें मालूम हुआ कि भाजपा आम आदमी पार्टी को कुचलना चाहती है। इस कड़ी में उनके साथ-साथ सौरव भारद्वाज, राघव चड्ढा और दुर्गेश पाठक को जल्दी ही गिरफ्तार किया जाएगा। उनके घरों पर भी रेड की जाएगी और फिर समन भेज कर तलब किया जाएगा। उस दौरान उन्हें गिरफ्तार करने की योजना है।

https://twitter.com/i/broadcasts/1OwxWYoBqEMGQ

आप नेता आतिशी ने कहा कि आने वाले दिनों में मुझे, दुर्गेश, सौरभ भारद्वाज और राघव चड्ढा को जेल में डाला जाएगा। आने वाले दिनों में मेरे घर, मेरे परिजनों के घर और रिश्तेदारों के यहां पर ईडी का छापा मारा जाएगा। इसे बाद हम लोगों को समन भेजा जाएगा और फिर हम सभी चारों को गिरफ्तार किया जाएगा। लेकिन हम भगत सिंह के चेले हैं। हम भाजपा की इन धमकियों से नहीं डरने वाले हैं। आप का एक एक नेता और कार्यकर्ता देश सेवा के लिए तैयार है।

वहीं प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान आप नेता सौरभ भारद्वाज ने कहा कि 31 मार्च को जो रामलीला मैदान में दिखा। उससे भाजपा के होश उड़ गए हैं। भारत के विपक्षी पार्टियों के बड़े नेता उस मंच पर एकत्रित हुए थे। हम लोगों ने सभी नेताओं को फोन करके यहां आने को कहा था। भाजपा को लग रहा है हमने सब कुछ कर लिया। लेकिन यह पार्टी अभी भी खड़ी है।

ईडी की ओर से पेश हुए एएसजी एसवी राजू ने कहा कि अरविंद केजरीवाल जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं और जांच को गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं। केजरीवाल ने बताया है कि विजय नायर ने उन्हें कभी रिपोर्ट नहीं किया। लेकिन वह आतिशी और सौरभ भारद्वाज को रिपोर्ट करता था।

गौर करने वाली बात ये है कि जब ईडी अदालत को यह बता रही थी तो केजरीवाल ने इसका खंडन तक नहीं किया और चुप्पी साधे रखी। आतिशी गोवा विधानसभा चुनाव के दौरान गोवा की प्रभारी भी रही हैं। सूत्रों की मानें तो अब इस जांच की आंच मंत्री आतिशी और सौरभ भारद्वाज तक पहुंच सकती है। ऐसे में सवाल उठता है कि आखिर कौन है विजय नायर जिसकी इतनी चर्चा बीते कुछ दिनों ने जोर शोर से हो रही है।

आपको बता दें कि अदालत की सुनवाई के दौरान प्रवर्तन निदेशालय ने यह दावा किया है कि अरविंद केजरीवाल ने यह माना है कि विजय नायर सीधे तौर पर उन्हें नहीं, बल्कि उनकी पार्टी के दो नेता आतिशी मार्लेना और सौरभ भारद्वाज को रिपोर्ट करता था।

ऐसे में यदि यह साबित हो जाता है कि विजय नायर सीधे तौर पर केजरीवाल से नहीं, बल्कि आतिशी मार्लेना और सौरभ भारद्वाज से बातचीत करता था, तो मामलों की जांच इन्हीं दोनों नेताओं की ओर मुड़ जाएगी। इससे अरविंद केजरीवाल को क्लीन चिट भले न मिले, लेकिन आम आदमी पार्टी के इन दो नेताओं से पूछताछ होने की संभावना अवश्य बढ़ जाएगी।

चूंकि, विजय नायर पर यह आरोप है कि उसने शराब व्यापारी समीर महेंद्रू से अपने एक करीबी के माध्यम से करोड़ों रुपये की लेनदेन की थी, पैसों के लेनदेन का यह मामला आतिशी मार्लेना और सौरभ भारद्वाज तक भी पहुंच सकता है। इससे इन दोनों नेताओं पर भी ईडी का शिकंजा कस सकता है। इस मामले में दिल्ली सरकार के एक और मंत्री कैलाश गहलोत से भी पूछताछ हो चुकी है। यानी इस मामले में एक के बाद एक कई बड़े आप नेताओं के घिरने की संभावना बढ़ती जा रही है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments