Saturday, May 21, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -spot_img
HomeUttar Pradesh NewsMeerutडाकघर में मासिक आय योजना में बेहतर ब्याज दर

डाकघर में मासिक आय योजना में बेहतर ब्याज दर

- Advertisement -
  • जमाकर्ता को बेहतर ब्याज दर का मिलता है लाभ, मिलता है सरकारी सुरक्षा का भी लाभ

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: डाकघर मासिक आय योजना खाता योजना के तहत न केवल आपको बेहतर ब्याज दर का फायदा मिलता है बल्कि आपको सरकारी सुरक्षा का लाभ भी मिलता है। इंडियन पोस्ट छोटी बचत योजनाओं के तहत पैसा जमा करने वालों के लिए नो छोटी सेविंग स्कीम की पेशकश करता है। अगर आप छोटी बचत योजनाओं में अपना पैसा जमा करना चाह रहे हैं, तो डाकघर की छोटी सेविंग योजनाएं आपके लिए सबसे बेहतर आपरेशन में से एक साबित हो सकती है।

इंडियन पोस्ट छोटी बचत योजनाओं ते तहत पैसा जमा करने वालों के लिए नौ छोटी सेविंग स्कीम की पेशकश करता है। डाकघर की इन्हीं योजनाओं में से एक है, डाकघर मासिक आय योजना खाता (एमआईएस)। इसके तहत जमा पर जमाकर्ता को न केवल बेहतर ब्याज दर का लाभ मिलता है, बल्कि सरकारी सुरक्षा भी हासिल होती है। इस योजना में निवेश से पहले ग्राहक को पोस्ट आफिस में एक बचत खाता खुलवाना होता है। पोस्ट आफिस मासिक आय योजना में फिलहाल 6.6 फीसदी सालाना ब्याज मिलता है, जो दूसरे फिक्स्ड डिपॉजिट से बेहतर है। इस योजना का फार्म भरते समय आपको पहचान पत्र, रेजिडेंशियल प्रूफ, दो पासपोर्ट साइज फोटो की जरूरत होगी।

कौन खोल सकता है अपना खाता?

इसके तहत कोई भी एक साल से अधिक की उम्र का भारतीय नागरिक अपना खाता सुलवा सकता है। यदि किसी का मानसिक स्वास्थ्य सही नहीं है तो उसके अभिभावक की तरफ से खाता खोला जा सकता है। इसके तहत ज्वाइंट अकाउंट खोलने की सुविधा भी दी जाती है। अपने नजदीकी डाकघर में आवश्यक दस्तावेज जमा कर कोई भी एमआईएस खाता खोल सकता है। 10 वर्ष से अधिक आयु का नाबालिग अपने नाम से यह खाता खोल सकता है, लेकिन दस्तावेजों के तौर पर इसे अपने पैरेंटस का दस्तावेज भी देना होगा।

क्या है डिपॉजिट की रकम?

इसके तहत कम से कम 1000 रुपये और उसके बाद 100 रुपये की रकम को जमा करके खाता खोला जा सकता है। एकल खाते में अधिकतम 4.5 लाख रुपये और संयुक्त खाते में अधिकतम नौ लाख रुपये तक की रकम डिपॉजिट की जा सकती है।

ब्याज की दर

इसके तहत जमा पर आपको सालाना 6.6 फीसद ब्याज दर का लाभ हासिल होता है। हालांकि इस योजना के तहत जमाकर्ता को मिलने वाला टैक्स योग्य होता है। अगर खाताधारक की तरफ से हर महीने देय ब्याज का दावा नहीं किया जाता है तो इस तरह का ब्याज पर कोई अतिरिक्त ब्याज अर्जित नहीं होगा।

क्या है मेच्योरिटी टाइम?

इस योजना के तहत मेच्योरिटी पीरियड, खाता खोलने की तारीख से पांच साल तक निर्धारित किया गया है। ब्याज खाता खोलने की तिथि से एक माह के पूरा होने पर व परिपक्वता तक देय होगा। हालांकि, इस खाते को संबंधित डाकघर में पासबुक के साथ निर्धारित आवेदन पत्र जमा करके समय से पहले बंद किया जा सकता है।

क्या है मासिक आय योजना?

यह योजना पांच साल की लॉक इन अवधि के साथ आती है। इस योजना में न्यूनतम 1000 से लेकर 4.50 लाख तक का निवेश किया जा सकता है। वहीं, अगर आपका संयुक्त खाता है तो आप इसमें नौ लाख रुपये का निवेश कर सकते हैं। इस योजना में आपको 6.6 प्रतिशत का ब्याज दर वार्षिकी पर मिलता है। यह योजना आपको निवेश के दौरान या बाद, जब आप लेना चाहें, हर महीने पैसे देती है। ब्याज खोलने की तारीख से एक महीने के पूरा होने पर और इसी तरह परपिक्वता तक देय होगा और एक निवेशक को इसके लिए दावा करना होगा।

गारंटीड रिटर्न योजना

यह डाकघर योजना जोखिम मुक्त गारंटीड रिटर्न योजना है। अगर कोई निवेशक आज इस डाकघर मासिक आय योजना में निवेश करता है तो उसे मेच्योरिटी के समय अपने निवेश पर 6.6 फीसदी का रिटर्न मिलेगा। यदि खाताधारक की परपिक्वता अवधि से पहले मृत्यु हो जाती है, तो खाता बंद किया जा सकता है और राशि नामांकित व्यक्ति या कानूनी उत्तराधिकायिों को वापस कर दी जाएगी। पिछले महीने तक ब्याज का भुगतान किया जाएगा, जिसमें रिफंड किया जाता है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
2
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -
spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments