Tuesday, June 25, 2024
- Advertisement -
HomeDelhi NCRमदद को नहीं बढ़े हाथ, पीटता रहा बिभव!... बोलीं स्वाती मालीवाल- 'मैं...

मदद को नहीं बढ़े हाथ, पीटता रहा बिभव!… बोलीं स्वाती मालीवाल- ‘मैं मासिक धर्म से गुजर रही हूं’…

- Advertisement -

नमस्कार, दैनिक जनवाणी डॉटकॉम वेबसाइट डॉटकॉम पर आपका हार्दिक अभिनंदन और स्वागत है। आज शुक्रवार को आम आदमी पार्टी की नेता व राज्यसभा सांसद स्वाति मालीवाल से बदसलूकी व मारपीट मामले में नया मोड़ आ गया। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आवास के ड्राइंग रूम का एक वीडियो शुक्रवार को वायरल हुआ है। इस वीडियो में पूरी घटना को देखा जा सकता है। इस वायरल वीडियो में स्वाति मालीवाल को यह कहते हुए सुना जा सकता है कि ‘हाथ लगाकर देखो मैं तुम्हारी नौकरी ले लूंगी’।

वीडियो में वहां सुरक्षा कर्मियों को देखा जा सकता है। वीडियो में वह सुरक्षाकर्मियों से बात करती हुई दिखाई दे रहीं हैं। हालांकि दिल्ली पुलिस ने इस वीडियो के अधिकारिक होने की पुष्टि नहीं की है।

जांच में जुटे दिल्ली पुलिस के अधिकारियों का कहना है कि इस वीडियो को जब्त कर लिया गया है। मामले की छानबीन की जाएगी। इस मामले में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के निजी सचिव बिभव कुमार आरोपी हैं।

स्वाति मालीवाल सोमवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आवास पर उनसे मुलाकात करने गई थीं। आरोप है कि वहां उनके साथ सीएम के पीए ने बदसलूकी करने के साथ ही मारपीट भी की थी। इस मामले में दिल्ली पुलिस ने गंभीर धाराओं में मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।

तीन घंटे चला सांसद का मेडिकल टेस्ट

दिल्ली पुलिस ने शुक्रवार सुबह पीड़ित स्वाती मालीवाल का मेडिकल टेस्ट कराया। बताया जा रहा है की उनकी मेडिकल जांच तीन घंटे तक चली। मेडिकल जांच की आई रिपोर्ट में उनके चेहरे पर अंदरूनी चोट की बात सामने आई। उनका सिटी स्कैन भी कराया गया।

स्वाति ने एफआईआर में किया है पिटाई का जिक्र

स्वाति मालीवाल की ओर से दर्ज कराई गई एफआईआर में कहा कि बिभव कुमार ने उन्हें कई बार लात और करीब सात-आठ थप्पड़ मारे। स्वाति जब मदद के लिए चिल्लाने लगीं तब भी बिभव नहीं रुके। स्वाति ने बताया कि वह लगातार मदद के लिए चिल्ला रही थीं लेकिन बिभव नहीं रुका। आरोप लगाया कि बिभव ने उनकी छाती, पेट और शरीर के निचले हिस्सों पर लात से हमला किया। स्वाति की शिकायत पर दिल्ली पुलिस ने गुरुवार को एफआईआर दर्ज की थी, जिसमें उन्होंने बिभव कुमार को आरोपी बनाया था।

‘मैं मासिक धर्म से गुजर रही हूं’

स्वाति ने एफआईआर में बताया कि मैंने उनसे बार-बार कहा कि मैं मासिक धर्म के दौर से गुजर रही हूं। कृपया मुझे जाने दें। लेकिन जाने नहीं दिया। फिर मैं वहीं बैठ गई। मैं ड्राइंग रूम के सोफे पर गई और हमले के दौरान जमीन पर गिरे अपने चश्मे को उठाया। इसके बाद 112 नंबर पर फोन किया और पुलिस को सूचना दी।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments