Friday, January 27, 2023
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeNational Newsपरिवहन अफसर बने अनजान!, चाहे भले ही जाये यात्रियों की जान!

परिवहन अफसर बने अनजान!, चाहे भले ही जाये यात्रियों की जान!

- Advertisement -

जनवाणी ब्यूरो |

नई दिल्ली: बुलंदशहर में निजी बस संचालक लोगों को जान जोखिम में डालकर जबरन सफर करा रहे हैं। ऐसे में किसी व्यक्ति की जान भी जा सकती है। लेकिन निजी बस संचालकों की मनमानी लगातार जारी है।

जाल पर लटकर यात्रा करते लोग

गुरुवार को स्याना क्षेत्र में एक बस की छत और जाल पर लटकर यात्रा करते लोगों की वीडियो बनाकर किसी व्यक्ति द्वारा सोशल मीडिया पर वायरल कर दी गई। लेकिन मामले की जानकारी के बाद भी पुलिस और संभागीय परिवहन अफसर अनजान बने हुए है।

बुलंदशहर-स्याना-गढ़ मार्ग पर उप्र परिवहन निगम की बसों की संख्या नाममात्र होने के कारण इस रूट पर 50 से अधिक निजी बसों का संचालन प्रतिदिन होता है।

निजी बसें प्रतिदिन क्षमता से अधिक यात्रियों को बैठाकर सफर कराने के अलावा छतों पर भी जबरन सफर करवाते रहते है।

बसों की स्थिति भी खराब

साथ ही इस रूट पर कुछ बसों की स्थिति भी खराब होने के कारण वह अभी भी दौड़ लगा रही है। लेकिन इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रहा है तो न ही कोई कार्रवाई की जा रही है।

गुरुवार को स्याना क्षेत्र में एक बस की छत पर यात्रियों के बैठे होने और जाल पर लटके होने पर किसी व्यक्ति द्वारा वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया।

यह बस तीन से चार पुलिस चौकी को पार कर दूसरे क्षेत्र में पहुंची, लेकिन किसी ने भी इस ओर ध्यान नहीं दिया। एआरटीओ प्रवर्तन राजीव बंसल ने बताया कि मामले की जानकारी नहीं है और न ही कोई वीडियो मिली है।

संबंधित बस की पहचान कर कार्रवाई की जाएगी। समय-समय पर डग्गाामार और मानकों का उल्लंघन कर संचालित हो रहे वाहनों पर कार्रवाई की जा रही है।


ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले www.dainikjanwani.com पर हिंदी में जरूर पढ़ें। आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट दैनिक जनवाणी डॉट कॉम।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments