Wednesday, May 25, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -spot_img
HomeUttar Pradesh NewsMeerutस्मार्ट रोड का सपना देखते रह गये शहरवासी

स्मार्ट रोड का सपना देखते रह गये शहरवासी

- Advertisement -
  • शासन में अटका स्मार्ट रोड का प्रस्ताव, 42 करोड़ रुपये का प्रस्ताव बनाकर भेजा गया था
  • 28 करोड़ में अंडरग्राउंड होनी थी विद्युत लाइन, एक र्इंट तक नहीं रखी गई
  • गांधी आश्रम से तेजगढ़ी चौराहे तक बननी है स्मार्ट रोड

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: पिछले कई माह से शहरवासियों को आदर्श मार्ग बनाये जाने का सपना दिखाया जा रहा है, लेकिन यह आदर्श मार्ग कब बनेगा? इस बारे में कुछ भी कह पाना मुश्किल है। गांधी आश्रम से तेजगढ़ी चौराहे तक बनाये जाने वाले आदर्श मार्ग का बजट करीब 42 करोड़ रुपये हैं और इसका प्रस्ताव बनाकर शासन को भी भेज दिया गया है, लेकिन अभी तक इसका प्रस्ताव शासन में ही अटका पड़ा है। इस पर कोई निर्णय नहीं लिया गया है। जिससे आने वाले एक साल में भी यहां कोई कार्य हो जाये यह कह पाना मुश्किल होगा।

बता दें कि शहर के मुख्य मार्ग गढ़ पर गांधी आश्रम से लेकर तेजगढ़ी चौराहे तक तक स्मार्ट रोड बनाये जाने की योजना है, जिसे लेकर कार्य शुरू किये जाने की बात कही गई थी। इस समय यहां कार्य शुरू होना चाहिए था। इसे लेकर कमिश्नर ने भी नाराजगी जताई थी, लेकिन अभी तक यहां कुछ नहीं हो सका है। यहां 2.77 किमी मार्ग का चौड़ीकरण होगा और स्मार्ट रोड बनाया जायेगा, जिसमें कई विभागों की ओर से कार्य किया जायेगा।

इसमें मुख्य सड़क के किनारे टहलने के लिए फुटपाथ, लंबी बेंच, अंडरग्राउंड इलेक्ट्रिक लाइन और पार्किंग की व्यवस्था आदि विशेष सुविधाओं के साथ स्मार्ट रोड विकसित होगी। यह सपना पिछले कई सालों से शहर की जनता को दिखाया जा रहा है, लेकिन अभी तक इस पर कोई कार्य शुरू नहीं हो सका है। लोक निर्माण विभाग, नगर निगम समेत कई विभाग मिलकर यहां कार्य करेंगे। इस स्मार्ट रोड पर कई ऐसी विशेष सुविधाएं होंगी, जो शहर में कहीं नहीं हैं।

इसमें रात में रोशनी के लिए सोलर लाइट व अंडरग्राउंड बिजली लाइन आदि योजना शामिल हैं। स्मार्ट रोड के किनारे पर कहीं भी एलटी लाइन के तार, विद्युत पोल नहीं दिखाई पड़ेंगे। यह सभी अंडरग्राउंड होंगे। जिस तरह का डिवाइडर डीएम आवास के सामने बना है, ठीक उसी प्रकार से यहां भी सड़क के बीच डिवाइडर होगा और उसमें पौधों से हरियाली दिखाई देगी। लोक निर्माण विभाग ने तो इसे लेकर तैयारी भी शुरू की थी, लेकिन शासन से यह कार्य करने के निर्देश तक नहीं मिल पाये हैं।

हापुड़ रोड का भी यही हाल

हापुड़ रोड की बात करें तो यहां भी हापुड़ अड्डे से बिजली बंबा बाइपास तक सड़क का चौड़ीकरण होना था। इसका प्रस्ताव करीब पांच साल पूर्व बनाया गया था, लेकिन अभी तक इस पर कार्य शुरू नहीं हो सका है। यहां भी सड़का का चौड़ीकरण होना था और सड़क के बीच में ग्राीन बेल्ट बनाई जानी थी, लेकिन अभी तक यहां कोई कार्य नहीं हो सकता है। इसके लिये भी करीब 46 करोड़ रुपये का बजट बनाया गया था। जिस पर कुछ नहीं हो
सका है।

28 करोड़ में अंडरग्राउंड होगी बिजली की लाइन

स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के नोडल अधिकारी अमित शर्मा ने बताया कि शहर में गढ़ रोड पर गांधी आश्रम से तेजगढ़ी चौराहे तक आदर्श मार्ग बनाया जाना है। इसका अनुमानित बजट करीब 42 करोड़ रुपये हैं। जिसमें से 28 करोड़ रुपये तो यहां की विद्युत लाइन को अंडरग्राउंड करने के लिये खर्च होंगे। उन्होंने बताया कि गांधी आश्रम से लेकर तेजगढ़ी चौराहे तक करीब 2.7 किमी तक के मार्ग पर विद्युत लाइन को जमीन के नीचे बिछाया जायेगा।

इसके लिये करीब 28 करोड़ रुपये खर्च किये जाएंगे। कुल 42 करोड़ में से 28 करोड़ रुपये तो बिजली पर ही खर्च होंगे। बाकी सोलर पैनल आदि कार्य किये जाएंगे। इसके अलावा इस मार्ग को छह लेन मार्ग बनाया जायेगा। उन्होंने बताया कि प्रस्ताव बनाकर शासन में जा चुका है, लेकिन वहां से ही कोई निर्णय नहीं लिया जा रहा है। वहां से हरी झंडी मिलते ही यहां कार्य शुरू कर दिया जायेगा। जैसे ही नये नगरायुक्त आते हैं तो इस पर कार्य शुरू होने की उम्मीद है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
3
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -
spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments