Sunday, May 26, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutठंड @ 4.8, प्रदूषण 300 के पास

ठंड @ 4.8, प्रदूषण 300 के पास

- Advertisement -
  • सबसे सर्द रही शुक्रवार की रात, रात के तापमान में आयी भारी गिरावट

जनवाणी संवाददाता |

मोदीपुरम: बदलते मौसम के साथ प्रदूषण का स्तर फिर से 300 के पास पहुंच गया है। जबकि रात सबसे सर्द रही और रात का तापमान गिरते हुए 4.8 डिग्री दर्ज किया गया। आगामी चार पांच दिन में और ठंड बढ़ेगी। वेस्ट यूपी में ठंड का असर तेजी से बढ़ता जा रहा है। कभी शीतलहर तो कभी सुबह के समय कोहरे के साथ ठंड बढ़ रही है। शनिवार का दिन भी ठंडा रहा और सुबह के समय कोहरा भी दिखाई दिया।

दिन में धूप ने थोड़ी राहत दी, लेकिन शाम के समय फिर से ठंड बढ़ गई। शुक्रवार की रात भी सबसे सर्द रही है। यहां तापमान गिरते हुए 4.8 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया, जोकि अब तक का सबसे कम दर्ज किया गया। मौसम कार्यालय पर शनिवार को अधिकतम तापमान 23.7 डिग्री व रात का न्यूनतम तापमान 4.8 डिग्री दर्ज किया गया। अधिकतम आर्द्रता 92 व न्यूनतम 29 प्रतिशत दर्ज की गई।

शनिवार को प्रदूषण बढ़ते हुए 280 पर पहुंच गया। बागपत में 260, गाजियाबाद में 316, मुजफ्फरनगर में 310, जयभीमनगर में 261, पल्लवपुरम में 287, गंगानगर में 292 दर्ज किया गया। मौसम वैज्ञानिक डा. यूपी शाही का कहना है कि 18 दिसंबर से ठंड और भी अधिक बढ़ेगी और कोहरा भी बढ़ेगा, रात-दिन के तापमान में भारी गिरावट आएगी। दिसंबर का अंतिम सप्ताह सबसे सर्द रहेगा।

देहात में कोहरे ने किया बेहाल

दिसंबर माह के दूसरे सप्ताह में मौसम सर्द हो चला है। बढ़ती सर्दी के साथ ही कोहरे ने भी असर दिखाना आरंभ कर दिया। शनिवार सुबह गांव देहात के रास्तों पर कोहरे की चादर छाई रही। कोहरे के चलते दिन भर सर्दी में लोग गर्म कपड़ों में लिपटे रहे। कोहरे के चलते वाहन चालको को परेशानी का सामना करना पड़ा। कोहरे के चलते गांव देहात के रास्तो पर वाहन धीमी गति से रेंगते रहे। कोहरे के चलते शुगर मिल में गन्ना लेकर जाने वाले ट्रैक्टर-ट्रॉली और भैंसा-बुग्गी सवार किसानों परेशानी का सामना करना पड़ा।

प्रदूषण विभाग ने आधा दर्जन कोल्हुओं पर की छापेमारी

मोदीपुरम: क्षेत्र में लगभग एक दर्जन कोल्हू संचालित हैं। जिनमें आधा दर्जन से अधिक कोल्हू पर प्रतिबंधित पॉलीथिन जलाई जा रही है। जिससे एक्यूआई का स्तर बढ़ने की पूरी संभावना बनी रहती है। अकेले खरदौनी गांव में ऐसे आधा दर्जन कोल्हू हैं, जिन पर खुलेआम पॉलीथिन जलाकर क्षेत्र में प्रदूषण का स्तर बढ़ाया जा रहा है। कोल्हू स्वामियों को जरा भी खौफ नहीं है। प्रदूषण विभाग के अधिकारी महज खाना पूर्ति करके चले जाते हैं।

शनिवार को प्रदूषण विभाग की टीम ने क्षेत्र के खरदौनी गांव में लगभग आधा दर्जन कोल्हुओं पर छापा मारा। इस दौरान कोल्हू संचालकों में हड़कंप मच गया। प्रदूषण विभाग की छापेमारी के दौरान टीम को कोल्हुओं पर पॉलीथिन जलती हुई मिली। जिस पर टीम ने वीडियोग्राफी भी की। टीम में मौजूद एई योगेश मिश्रा ने बताया की उन्हे क्षेत्रीय प्रदूषण नियंत्रण अधिकारी द्वारा छापेमारी के लिए भेजा गया है।

छापेमारी के बाद भी कोल्हू स्वामियों ने टीम के जाने के बाद फिर से पॉलीथिन जलानी शुरू कर दी। इससे साफ जाहिर होता है कि कोल्हू स्वामियों को प्रदूषण टीम द्वारा किसी भी कार्रवाई का कोई डर नहीं है वो खुलेआम पॉलीथिन जलाकर लोगों की जिंदगी के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। अब देखना होगा की विभाग द्वारा इन कोल्हू स्वामियों पर कोई कार्रवाई होगी या इनके हौसले ऐसे ही बुलंद रहेंगे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments