Saturday, June 22, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutपीईटी परीक्षार्थियों की सेवा में 708 बसों का बेड़ा

पीईटी परीक्षार्थियों की सेवा में 708 बसों का बेड़ा

- Advertisement -
  • 28-29 अक्टूबर को मेरठ के 56 केन्द्रों पर होने वाली परीक्षा में शामिल होंगे 111456 अभ्यर्थी
  • 27 की शाम से रोडवेज के अधिकारी रहेंगे अलर्ट मोड पर मांग के अनुसार हर मार्ग पर उपलब्ध कराई जाएंगी बसें

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: आगामी शनिवार और रविवार यानि 28-29 अक्टूबर को मेरठ के 56 केन्द्रों पर होने वाली पीईटी परीक्षा के लिए आने वाले परीक्षार्थियों की सुविधा और जरूरत को देखते हुए मेरठ परिक्षेत्र के सभी पांच डिपो से संबंधित 708 बसों का बेड़ा अलर्ट मोड पर रहेगा। जिस स्टेशन पर जरूरत होगी, 15 मिनट में बसें उपलब्ध कराने का प्रयास किया जाएगा। अभ्यर्थियों की सुविधा को देखते हुए परिवहन निगम ने अपनी तैयारियों को फाइनल टच देना शुरू कर दिया है।

आरएम का प्रभार देख रहे सेवा प्रबंधक लोकेश राजपूत ने बताया कि प्रशासन के स्तर से उपलब्ध कराई गई सूची के अनुसार मेरठ में बनाए गए 56 परीक्षा केन्द्रों तक मेरठ, मुजफ्फरनगर, मुरादाबाद, शामली, रामपुर, सम्भल, बदायूं, अलीगढ़, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, दिल्ली, असम, चंडीगढ़ आदि स्थानों से परीक्षार्थी देने के लिए दोनों दिन सुबह 10 से दोपहर 12 बजे और दोपहर बाद तीन बजे से शाम चार बजे की दो पालियों में एक लाख 11 हजार 456 अभ्यर्थी पहुंचेंगे।

जबकि मेरठ जिले से 31 हजार और बागपत जिले से 15 हजार परीक्षार्थी सहारनपुर परीक्षा केन्द्रों तक पहुंचेंगे। इनके लिए भैंसाली डिपो के लिए एआरएम अरविन्द कुमार और सोहराब गेट डिपो के लिए एआरएम राकेश कुमार को क्षेत्रीय स्तर पर नोडल अधिकारी नामित किया गया है। मेरठ परिक्षेत्र में निगम की 421 और अनुबंध की 287 कुल 708 बसों को अलर्ट मोड पर रखने के निर्देश सभी एआरएम को दिए गए हैं। हालांकि अनुबंधित बसों को उनके परंपरागत मार्गों पर ही संचालित किए जाने को प्राथमिकता दी जाएगी,

लेकिन जरूरत पड़ने पर अनुबंधित बसों को अन्य मार्गों पर भी भेजा जा सकता है। इसका उदाहरण देते हुए उन्होंने बताया कि मेरठ से मुजफ्फरनगर के बीच चलने वाली अनुबंधित बसों को जरूरत के अनुसार सहारनपुर तक चलाया जा सकता है। एसएम ने बताया कि हर डिपो से शिफ्टवार तीन-तीन कार्मिकों को बसों के सुचारु संचालन और पार्किंग व्यवस्था के लिए 27 अक्टूबर की शाम से लगाया जाएगा।

यह विशेष ड्यूटी परीक्षार्थियों के आगमन से लेकर उनके लौट जाने तक यात्रियों की संख्या और सुविधा के अनुसार लगाई जाएगी। इस अवधि में रोडवेज स्टाफ की छुट्टियां भी बंद रखी जाएगी। अभ्यर्थियों के मूवमेंट से संबंधित जनपदों के बस स्टेशनों पर पूछताछ कक्ष टी स्टॉल्स, वाटर कूलर और खानपान की व्यवस्था 24 घंटे सुचारू रूप से संचालित करने की विशेष निर्देश भी जारी किए गए हैं। बस स्टेशन पर प्रत्येक शिफ्ट में अनुभवी व्यवहार कुशल सुपरवाइजर तैनात किए जाएंगे।

महानगर बस सेवा भी रहेगी तत्पर

एआरएम वित्त मुकेश कुमार अग्रवाल ने बताया कि 28 और 29 अक्टूबर को मेरठ महानगर में बनाए गए 56 परीक्षा केन्द्रों तक एक लाख 11 हजार से अधिक परीक्षार्थी पहुंचेगे। महानगर के भीतर इन्हें कोई असुविधा न हो, इसके लिए सिटी सेवा की इलेक्ट्रिक और सीएनजी बसों को रिजर्व रखने के निर्देश संचालन प्रभारियों को जारी किए गए हैं। उन्होंने बताया कि महानगर सेवा नियमित रूप से सेवा में रहेगी। इस दौरान जिस स्थान पर बसों की जरूरत की जानकारी मिलेगी, वहां रिजर्व बसों को भेजा जाएगा।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments