Tuesday, June 25, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMuzaffarnagarप्रियंका का हमला, बोलीं, भाजपा सरकार ने किसानों का अपमान किया

प्रियंका का हमला, बोलीं, भाजपा सरकार ने किसानों का अपमान किया

- Advertisement -

जनवाणी ब्यूरो |

मुजफ्फरनगर: किसान महासभा में पहुंचीं कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने भाजपा सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा किसान तड़प रहा है, लेकिन सरकार उनके गन्ने का भुगतान नहीं कर रही है।

उन्होंने कहा दिल्ली में किसान आंदोलन के दौरान बिजली काटी गई, पानी रोका गया और किसानों को पीटा गया। उन्होंने कहा जो किसान अपने बेटे को देश की सीमा पर रक्षा के लिए भेजता है। उस किसान को अपमानित किया गया। उस किसान को आतंकवादी, देशद्रोह, आंदोलनजीवी और परजीवी कहा गया।

19 23

उन्होंने कहा आज देश में किसानों की कोई सुनवाई नहीं हो रही है। प्रियंका ने कहा जिस तरह से इन्होंने अपने दो- तीन मित्रों को पूरा देश बेच दिया है। उसी तरह ये आपके खेतों को भी बेचना चाहते हैं। प्रियंका ने कहा जैसे पुरानी कहानियों में राजा-महाराजा होते थे, ऐसे ही हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी हो गए हैं।

दो बार प्रधानमंत्री बनने के बाद उन्हें अहंकार हो गया है। उन्होंने कहा सरकार को किसानों का सम्मान करना चाहिए। जिन किसानों ने मोदी जी को प्रधानमंत्री बनाया है, वे उनसे बात क्यों नहीं कर रहे हैं। किसानों से बात करनी चाहिए और उनकी समस्याओं का समाधान करना चाहिए।

उन्होंने कहा कि इन कृषि कानूनों से सरकारी मंडिया बंद हो जाएंगी और बड़े उद्योगपतियों को इसका फायदा होगा। इन नए कानूनों से एमएसपी खत्म होगी। प्रियंका गांधी ने कहा देश में गैस, बिजली और पेट्रोल-डीजल के दाम लगातार बढ़ते जा रहे हैं।

वहीं दिल्ली में महीनों से किसानों का आंदोलन चल रहा है लेकिन, सरकार ने उनसे बात करना तो दूर बल्कि उनका अपमानित किया गया। किसानों को आंदोलनजीवी तक कहा गया है। उन्होंने कहा कांग्रेस किसानों के साथ खड़ी है।

प्रियंका गांधी ने कहा यहां आना मेरा कर्तव्य और धर्म है। यहां आकर मैं किसी पर एहसान नहीं कर रही हूं। उन्होंने कहा हर नेता को यह एहसास होना चाहिए कि उस पर सबसे बड़ा एहसान जनता करती है। उन्होंने कहा मुझे यह एहसास अच्छी तरह है।

प्रियंका ने किसानों से कहा इस समय देश की जो स्थिति है उसे आप मुझसे ज्यादा जानते होंगे। उन्होंने कहा किसान आंदोलन में 215 किसान शहीद हो गए, लेकिन सरकार को इसकी कोई परवाह नहीं।

उन्होंने कहा किसान नेता राकेश टिकैत जी की आंखों में आंसू आते हैं तो पीएम मोदी के होंठों पर हंसी आती है। किसानों का मजाक उड़ाते हैं। वहीं प्रियंका ने किसानों से पूछा कि क्या आपकी आय दोगुनी हुई? क्या आपके गन्ने का भुगतान हुआ?

प्रियंका गांधी की रैली को लेकर जिले में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। वहीं इससे पहले मेरठ में उनका जोरदार स्वागत किया गया। मेरठ से बड़ी संख्या में किसान ट्रैक्टर-ट्रॉली लेकर महासभा में पहुंच रहे हैं। उधर, कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने भी शुक्रवार से ही रैली स्थल पर डेरा जमा रखा है।

बघरा के कल्याणकारी इंटर कॉलेज के मैदान में हो रही किसान महापंचायत में वक्ताओं ने तीन कृषि कानूनों और बढ़ती महंगाई को लेकर भाजपा की केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा।

इस दौरान पूर्व मंत्री दीपक कुमार, पूर्व सांसद संजय कपूर, राष्ट्रीय प्रवक्ता सुप्रिया त्रिनेत्र ने पंचायत में कांग्रेस सरकार की उपलब्धियों को गिनाया। वहीं पंचायत में रागिनी का भी कार्यक्रम रखा गया है।

इससे पहले प्रियंका गांधी ने बिजनौर में किसान महासभा को संबोधित किया था। उन्होंने भाजपा पर तीखा हमला बोला और पूछा मोदी सरकार में क्या किसानों की आय दोगुनी हुई? प्रियंका ने कहा माना आपने भलाई के लिए कानून बनाए हैं, पर जब वो नहीं चाहते तो कानूनों को वापस लो।

उन्होंने कहा, क्या मोदी सरकार जबरदस्ती किसानों की भलाई करेगी। मैं भाषण देने नहीं आई हूं, आपसे बातचीत करने आई हूं। उन्होंने किसानों से कहा आप हमें बनाते हैं। आप और हमारे बीच भरोसे का रिश्ता है और उसी रिश्ते के बल पर आप एक नेता को आगे बढ़ाते हैं। उन्होंने कहा आपको इस बात की उम्मीद होती है कि वो नेता आपकी समस्याओं को उठाएगा और आपकी बात की सुनवाई होगी।

उन्होंने किसानों से बात करते हुए कहा कि जनता ने मोदी को दो-दो बार क्यों पीएम बनाया। प्रियंका ने कहा लोगों के मन में भरोसा रहा होगा कि वो आपके लिए काम करेंगे। उन्होंने कहा पहली बार मोदी की सरकार आई तो बड़ी बड़ी बातें हुईं।

प्रियंका गांधी ने यहां सवाल किया कि 2017 से यहां गन्ने का मूल्य ही नहीं बढ़ा है। पीएम मोदी ने किसानों का बकाया पूरा नहीं किया, लेकिन अपने लिए 16 हजार करोड़ में हवाई जहाज खरीद लिया है। कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने कहा कि मोदी सरकार जो नए कानून लाई हैं, उससे उद्योगपति जमाखोरी कर सकते हैं।

पीएम मोदी अमेरिका, चीन और पाकिस्तान जा सकते हैं, लेकिन दिल्ली में बैठे किसानों से नहीं मिल सकते हैं। पीएम मोदी ने किसानों का मजाक उड़ाया और उन्हें आंदोलनजीवी और परजीवी बताया। मोदी जी देशभक्त और देशद्रोही में फर्क नहीं पहचान पाए।

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने किसानों की मांग नहीं सुनने को लेकर सरकार से कहा जिस किसान का आप अपमान कर रहे हैं उसका बेटा सीमा पर आपकी सुरक्षा कर रहा है, आपको उनका अपमान करने का हक नहीं है।

यह भी पढ़ें: पंचायत चुनाव के लिए बन रही थी शराब, अफसरों के निर्देश पर बड़ी कार्रवाई, देखें तस्वीरें
केंद्र के नए कृषि कानूनों पर प्रियंका ने कहा कि प्रधानमंत्री जी आपने जो यह कानून बनाया है, उससे देश का किसान, इस देश का गरीब संकट में है, रो रहा है अपना अधिकार मांग रहा है। आप उस कानून को वापस लीजिये, इन कानूनों को रद्द कीजिये। जिन्होंने आपको सत्ता दी है उनका आदर कीजिये, उनको अपमानित मत कीजिए।

सरकार को अहंकारी बताते हुए प्रियंका गांधी ने कहा नेता दो तरह के होते हैं, कुछ ऐसे होते हैं जिन्हें बहुत अहंकार हो जाता है, वह भूल जाते हैं कि उन्हें सत्ता देने वाला कौन है। देश के इतिहास में बार-बार ऐसा हुआ है जबकि नेता को अहंकार होने पर देशवासी उसे सबक सिखाते हैं। और जब देशवासी उसे सबक सिखाते है तब वह शर्मिंदा होता है, वह समझता है कि उसका धर्म क्या था।

उन्होंने केन्द्र सरकार पर जनता से किए गए वादे पूरे नहीं करने का आरोप लगाते हुए कहा सात साल में जितने वादे किए सारे तोड़ दिए। छोटा व्यापारी था उसकी कमर तोड़ दी। किसान की कमर तोड़ दी, गरीब की मदद नहीं की।

प्रियंका गांधी ने कहा इस सरकार के कार्यकाल ने गरीब और किसान की कमर तोड़ दी है और अमीरों की मदद की है। अपने भाषण के अंत में प्रियंका गांधी ने आंदोलन में जिन किसानों मौत हुई उनके लिए दो मिनट का मौन भी रखवाया।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments