Tuesday, August 9, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsShamliईख के खेत में चल रही अवैध शस्त्र फैक्ट्री का भंडाफोड़

ईख के खेत में चल रही अवैध शस्त्र फैक्ट्री का भंडाफोड़

- Advertisement -
  • बने व अधबने तमंचे कारतूस के साथ एक आरोपी गिरफ्तार

जनवाणी  संवाददाता  | 

कांधला: गुरुवार की शाम को मुखबिर ने पुलिस को सूचना दी कि कस्बे के छोटी नहर पटरी स्थित एक ईंख के खेत में तमंचा फैक्ट्री चल रही है। मुखबिर की सूचना पर थाना प्रभारी निरीक्षक प्रशांत कपिल ने पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचकर ईंख के खेत से बड़ी मात्रा में बने और अधबने तमंचे कारतूस और तमंचे बनाने के उपकरण बरामद किए है।

पुलिस ने मौके से तमंचा बना रहे एक आरोपी को भी गिरफ्तार किया है। सीओ कैराना जितेंद्र कुमार ने बताया कि कस्बे के मोहल्ला रायजाद्गान निवासी कल्लू पुत्र लाला जोगी कस्बे के छोटी नहर स्थित ईंख के खेत में अवैध तमंचा बनाने की कार्य कर रहा था।

पुलिस ने तमंचा बनाने की फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया है। पुलिस ने मौके से आठ तमंचे 315 बोर, एक तमंचा 12 बोर, एक पोनिया बंदूक 315 बोर, 12 तमंचे अधबने, एक कारतूस 315 बोर, 12 नाल, एक वेल्डिंग मशीन, एक पैकेट वेल्डिंग रॉड, एक रेल पटरी, तीन हथोड़ी छोटी बड़ी, एक सरिया, 7 पेंचकस छोटे बड़े, एक ड्रिल मशीन, 5 प्लास, एक ग्रांडर कटर सहित भारी मात्रा में तमंचे बनाने के उपकरण बरामद किए हैं। पुलिस ने मामला दर्ज कर पकड़े गए आरोपी कल्लू पुत्र लाला जोगी को जेल भेज दिया है।

पहले भी चार बार जा चुका है जेल

अवैध तमंचा फैक्ट्री चलाने वाला कल्लू पुत्र लाला जोगी मूल रूप से जनपद मुजफ्फरनगर के बुढ़ाना कोतवाली क्षेत्र के गांव जोला का निवासी है। वर्ष 2013 के दंगे के बाद कल्लू पुत्र लाला जोगी कस्बे के मोहल्ला रायजाद्गान में आकर रहने लगा था।

कस्बे में आने के बाद से ही कल्लू अवैध तमंचे बनाने का कार्य करने लगा था। जिसके चलते पुलिस ने कल्लू को चार बार अवैध तमंचा फैक्ट्री में गिरफ्तार कर जेल भेजा था।

जेल से आने के बाद कल्लू फिर से अवैध तमंचा बनाने के कार्य में लग गया था। जिसको पुलिस ने अवैध तमंचा फैक्ट्री के साथ गिरफ्तार कर जेल भेजा है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments