Friday, January 27, 2023
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeNational Newsआईआरसीटीसी ने जारी किया सस्ता टूर पैकेज, मात्र 3500 में करें मां...

आईआरसीटीसी ने जारी किया सस्ता टूर पैकेज, मात्र 3500 में करें मां वैष्णों देवी का दर्शन

- Advertisement -

नमस्कार, दैनिक जनवाणी डॉट कॉम वेबसाइट पर आपका अभिनंदन स्वागत है। मां वैष्णों देवी के दर्शन करने लिए अमूमन बहुत खर्चा आता है, लेकिन आईआरसीटीसी यानि भारतीय रेलवे खानपान एवं पर्यटन निगम ने देवी भक्तों के लिए सस्ता टूर पैकेज बनाया है। अब माता वैष्णों देवी का दर्शन करना जहां बेहद आसान हुआ तो वहीं काफी सस्ता भी हो गया है। तो आइये जानते हैं पैकेज सहित पूरी जानकारी।

मां वैष्णों देवी के भक्तों के लिए खुशखबरी है, क्योंकि आईआरसीटीसी ने भक्तों के लिए सिर्फ 3500 रुपए में टूर पैकेज की घोषणा की है। जिसमें यात्रा के साथ अन्य कई सुविधाएं भी श्रद्धालुओं को दी जाएंगी। यदि आप भी मां वैष्णों देवी के चरणों में हाजरी लगाना चाहते हैं तो बहुत ही कम खर्च में आपकी ये इच्छा पूरी हो जाएगी। आपको बता दें कि आईआरसीटीसी ये यात्रा श्री शक्ति एक्सप्रेस से पूरी कराएंगे। यात्रा में आपको तीन दिन लगेंगे।

आपको बता दें कि यह यात्रा रोजाना दिल्ली से शुरू होती है। सभी भक्तगण अगले दिन कटरा पहुंचते हैं। साथ ही दर्शन करने के बाद सीधे वापसी की जाती है। यात्रा की बुकिंग खुली हुई है। आप आईआरसीटीसी की वेबसाइट पर जाकर अपनी सीट बुक कर सकते हैं। यात्रा के दौरान सुरक्षा की पूरी गारंटी आईआरसीटीसी की रहती है। यही नहीं सुबह का नाश्ता भी आईआरसीटीसी की ओर से रहेगा।

टूर पैकेज की अन्य जानकारी

टूर पैकेज का नाम श्री शक्ति फुल डे दर्शन रखा गया है। भक्तों को श्री शक्ति एक्सप्रेस के थर्ड एसी कोच में यात्रा कराई जाएगी। साथ ही सुबह का नाश्ता दिया जाएगा। कटरा में ठहरने के लिए IRCTC का गेस्ट हाउस मिलेगा। यदि कुछ भक्तगण दोपहर और रात का खाना भी लेना चाहते हैं तो उसके लिए अलग से पैसे देने होंगे। बुकिंग के लिए आईआरसीटीसी की वेबसाइट पर जाकर बुक कर सकते हैं। यही नहीं आप दिल्ली रेलवे स्टेशन से ऑफलाइन टूर पकेज भी ले सकते हैं।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
2
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments