Saturday, April 13, 2024
HomeUttar Pradesh NewsMeerutझारखंड और बिहार आर्मी पुलिस भी रहेगी सुरक्षा व्यवस्था में

झारखंड और बिहार आर्मी पुलिस भी रहेगी सुरक्षा व्यवस्था में

- Advertisement -
  • विक्टोरिया पार्क में बसों का जमावड़ा, 22 हजार अर्द्धसैन्य बल के जवान पहुंचे

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: विधानसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान के लिये तैयारियां पूरी हो गई है। 2962 बूथों पर होने वाले मतदान के लिये 22 हजार अर्द्ध्रसैन्य बल तैनात किये हैं। इनमें बिहार और झारखंड से भी पुलिस फोर्स आया है। वहीं, विक्टोरिया पार्क में बसों का जमावड़ा लगा रहा। पहले चरण के सात विधानसभा सीटों के लिये होने वाले मतदान के लिये कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है।

05 10

जनपद में 1962 पोलिंग सेंटरों में 2962 बूथों पर मतदान किया जाएगा। इसके लिये सीआरपीएफ, बीएसएफ, आईटीबीएफ, झारखंड पुलिस, बिहार आर्मी पुलिस, पीएसी के अलावा स्थानीय पुलिस लगाई जा रही है। हर मतदान केन्द्र पर कड़ी निगाहेबानी एसपी सिटी विनीत भटनागर ने बताया कि अर्द्धसैन्य बल शहर में आ गया है और कल उसकी तैनाती भी हो जाएगी। बूथों पर गड़बड़ी फैलाने की कोशिश करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। वहीं, पूरे दिन विक्टोरिया पार्क में स्कूलों की बसें, रोडवेज और प्राइवेट बसों को अधिग्रहित करके लाया गया और उनको खड़ा कर दिया।

हर दो घंटे में मिलेगा मतदान प्रतिशत

जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी के. बालाजी ने बताया कि सफल चुनाव के लिये जिला निर्वाचन कार्यालय के आदेश द्वारा पोलिंग पार्टियां नौ फरवरी 2022 को अपने आवंटित पोलिंग स्टेशन पहुंचने तथा 10 फरवरी 2022 की सायं वापस आने की रिपोर्ट एवं दिनांक 10 फरवरी 2022 को प्रत्यके 02-02 घंटे में मतदान का प्रतिशत प्राप्त करने के लिए सीपी तिवारी, सचिव, मेरठ विकास प्राधिकरण/नोडल अधिकारी, जिला निर्वाचन शिकायत प्रकोष्ठ/कंट्रोल रूम मेरठ की अध्यक्षता में कलक्टेÑट में स्थित जिला निर्वाचन कन्ट्रोल रूम/शिकायत प्रकोष्ठ में उपस्थित रहकर विधान सभावार किसी भी प्रकार की सूचना प्राप्त करने के लिए 43-सिवालखास के लिए मोती लाल व्यास, परियोजना निदेशक, 7017300812, 44-सरधना के लिए अजीत सिंह, जिला प्रोबेशन अधिकारी, मेरठ, 7518024005, 46-किठौर के लिए पंखुरी जैन, जिला समाज कल्याण अधिकारी (विकास), मेरठ, 8447216635, 47-मेरठ कैंट के लिए सुशील कुमार, बाल विकास अधिकारी दौराल/प्रभारी जिला कार्यक्रम अधिकारी, 7037676370, 48-मेरठ शहर के लिए जावेद खान, परियोजना अधिकारी, नेडा, मेरठ 9415609062, 49-मेरठ दक्षिण के लिए प्रदीप सिंह, सहायक निबंधक सहकारिता, मेरठ 9528371384 को सह नोडल अधिकारी नामित कर तैनात किया गया है।

06 9

ईवीएम के लिए सुल्तान अशरफ सिद्दीकी, अपर जिलाधिकारी (भूमि अध्याप्ति), 9454416683 एवं पीपी अत्री, प्रधानाचार्य, आईटीआई साकेत मेरठ 8077725066 को नामित किया गया है एवं ईबीए की समस्त सूचना दूरभाष 0121-2666740 पर प्राप्त होंगी। कन्ट्रोल रूम/शिकायत प्रकोष्ठ को किसी भी प्रकार की सूचना दूरभाष नंबर 0121-2666710, 0121-2666720, 0121-2666730, 0121-2666740 या टोल फ्री नम्बर 1950 पर दी जा सकती है। दूरभाष हेल्पलाइन नम्बरों की सेवा 24 घंटे उपलब्ध रहेगी। उन्होेने निर्देशित किया कि सभी अधिकारी अपनी-अपनी विधानसभाओं से सम्बन्धित पोलिंग पार्टियों के प्रस्थान एवं वापसी होने की सूचना व 10 फरवरी 2022 को प्रत्येक 02 घंटे के अन्तराल पर मतदान प्रतिशत की सूचना संकलित करेंगे।

प्रत्याशियों के प्रचार का शोर थमा, कल मतदान

जिले की सभी सात विधानसभा सीटों पर मंगलवार को प्रचार का शोर थम गया है। 10 फरवरी को सभी सीटों पर पहले चरण में वोटिंग होगी। प्रचार का शोर करने के साथ ही शहर में जाम की समस्या से भी जनता को निजात मिली है। गौरतलब है कि जिले की सभी सात सीटों पर कुल 81 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं।

मंगलवार को रोड शो और रैलियों के चलते शहर से लेकर देहात तक प्रत्याशियों ने अपने समर्थन में खूब भीड़ जुटाई और वोटरों से अपने पक्ष में मतदान का आह्वान किया है। विधानसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान के लिये बुधवार की शाम पांच बजे प्रचार खत्म हो गया। इसके बाद राजनीतिक दलों ने घर-घर जाकर जनसंपर्क करना शुरू कर दिया। वहीं, दोपहर बाद प्रत्याशियों द्वारा निकाले गए रोड शो के कारण पूरे शहर में यातायात व्यवस्था ठप रही।

15 जनवरी से शुरू हुई चुनावी प्रक्र्रिया 10 फरवरी को मतदान के साथ समाप्त होगी। इसके बाद 10 मार्च को मतगणना कर चुनाव परिणाम घोषित किया जाएगा। मंगलवार सुबह से ही राजनीतिक पार्टियों के प्रत्याशी जनसंपर्क में लग गए थे। दोपहर बाद भाजपा प्रत्याशी कमल दत्त शर्मा, दक्षिण प्रत्याशी डा. सोेमेन्द्र तोमर, रालोद प्रत्याशी मनीषा अहलावत, कैंट भाजपा प्रत्याशी अमित अग्रवाल, कांग्रेस प्रत्याशी रंजन शर्मा, हस्तिनापुर भाजपा प्रत्याशी दिनेश खटीक ने जमकर प्रचार किया। शाम पांच बजे से पहले गाड़ियों में सवार होकर प्रत्याशियों ने अपने-अपने विधानसभा क्षेत्रों में रोड शो निकाला।

रोड शो में समर्थकों और कार्यकर्ताओं की जमकर भीड़ उमड़ी। रोड शो के कारण शहर की तमाम सड़कों पर यातायात बाधित हो गया। शाम पांच बजे के बाद पार्टी कार्यालयों में बैठकों का दौर शुरू हो गया। इसके बाद देर रात तक प्रत्याशी घर घर घूमकर वोट देने की अपील करते रहे।

चुनाव प्रचार और रोड शो ने जाम किया पूरा शहर

विधानसभा चुनाव के प्रथम चरण के प्रचार का मंगलवार को अंतिम दिन था। जिसके चलते सभी प्रत्याशियों ने अपने पक्ष में वोट करने के लिए ताबड़तोड़ जनसंपर्क किया और रोड शो निकाला। प्रत्याशियों के रोड शो और जनसंपर्क से पूरा शहर जाम हो गया। नेता हाथ हिलाकर लोगों से वोट की अपील करते रहे और लोग जाम से निकलने का रास्ता खोजते रहे।
जाम से हलकान हुए लोग

विधानसभा प्रत्याशी रोड शो के माध्यम से अपने पक्ष में वोट मांग रहे थे, वहीं लोग मुसीबत में भी फंसे थे। जहां से रोड शो निकला, वहां लंबे जाम की समस्या से लोगों को जूझना पड़ा। हापुड़ अड्डा से लिसाड़ी रोड पर सबसे पहले कांग्रेस प्रत्याशी का रोड शो निकला, जिससे इस मार्ग पर वाहनों की कतार लग गई। जैसे ही कांग्रेस प्रत्याशी का रोड शो समाप्त हुआ, वहीं भाजपा प्रत्याशी कमलदत्त शर्मा का रोड शो आ गया।

फिर से इस मार्ग पर जाम लग गया। काफी लंबा जाम लोगों के लिए परेशानी का सबब बन गया। इसी तरह कैंट और दक्षिण विधानसभाओं में भी प्रत्याशियों ने रोड शो निकाला। जिस कारण दिल्ली रोड, बागपत रोड, कंकरखेड़ा रोड, गढ़ रोड, मवाना रोड, रोहटा रोड और हापुड़ रोड समेत शहर के भीतरी इलाके में भी दिनभर जाम लगा रहा।

लोगों ने खोजे अन्य रास्ते

शहर के मुख्य मार्गों पर जाम लगा होने के कारण छोटे वाहन चालकों ने अन्य रास्तों को चुना, लेकिन उन रास्तों पर भी प्रत्याशियों के समर्थक जनसंपर्क करते हुए मिलें। जिस कारण गली-मोहल्लों में भी जाम की स्थिति बनीं रही। जहां प्रचार के अंतिम दिन प्रत्याशियों ने अपने पक्ष में वोट करने के लिए पूरा जोर लगाया, वहीं वाहन चालकों को भी पूरा दिन जाम से जूझना पड़ा। प्रत्याशियों के रोड शो के चलते ट्रैफिक पुलिस भी बेबस दिखाई दी।

बाजारों में भी दिनभर रही भीड़

शहर के मुख्य बाजारों में भी दिनभर भीड़ जुटी रही। प्रत्याशियों के समर्थक जहां डोर-टू-डोर जनसंपर्क करने में जुटे थे, वहीं उनके समर्थक बाजारों में भी व्यापारियों को अपने पक्ष में वोट करने के लिए संपर्क कर रहे थे। हालात ऐसे थे कि प्रत्याशी के समर्थक मिलकर जाते थे तो दूसरे प्रत्याशी के समर्थक आ जाते थे। इसी कारण बाजारों में भी दिनभर जाम की स्थिति बनीं रही।

मतदान के दिन इंसास से ड्यूटी देंगे होमगार्ड

विधानसभा चुनाव को देखते हुए शहर में अर्द्धसैनिक बल के साथ होमगार्ड के जवानों ने भी मोर्चा संभाल लिया है। शांतिपूर्ण तरीके से मतदान कराने के लिए 12 जिलों से सात हजार होमगार्ड मेरठ आ चुके हैं। वह अर्द्धसैनिक बल के साथ मिलकर इंसास रायफल के साथ ड्यूटी करेंगे। जिला होमगार्ड कमांडेंट राजेंद्र सिंह ने बताया कि पुलिस-प्रशासन ने प्रदेश स्तर से 10 हजार होमगार्ड जवानों की मांग की थी।

सोमवार को हरदोई, शाहजहांपुर, बदायूं, लखीमपुर खीरी, मिर्जापुर, बरेली, कानपुर, लखनऊ, सीतापुर, प्रतापगढ़ समेत 12 जिलों से सात हजार के करीब होमगार्डों ने पुलिस लाइन में आमद दर्ज कराई। इससे पहले रविवार देर रात पुलिस लाइन में अर्द्धसैनिक बल भी आ चुके हैं। जिला होमगार्ड कमाडेंट ने बताया कि इस बार चुनाव ड्यूटी में कई होमगार्ड जवान इंसास राइफल के साथ ड्यूटी करते हुए नजर आएंगे। उन्होंने बताया कि मेरठ में 100 होमगार्डों को इंसास चलाने की ट्रेनिंग भी दी जा चुकी है।

20 मार्च तक जनपद मे लागू रहेगी धारा-144

जिला मजिस्ट्रेट के. बालाजी ने बताया कि आगामी विधानसभा सामान्य निर्वाचन 2022 एवं वर्तमान में कोरोना वायरस संक्रमण के दृष्टिगत एवं आगामी माह/दिनों में गुरु गोबिंद सिंह जयंती/गणतंत्र दिवस, वसंत पंचमी, मोहम्मद हजरत अली का जन्म दिवस, महाशिवरात्रि, होलिका दहन, होली आदि पर्व के अतिरिक्त लोक सेवा आयोग उत्तर प्रदेश द्वारा आयोजित की जाने वाली प्रतियोगी परीक्षायें एवं विभिन्न आयोगों तथा महाविद्यालयों की परीक्षाओं के दृष्टिगत अवांछनीय तत्वों द्वारा कानून व्यवस्था के विपरीत कार्य करते हुये जनपद मेरठ की शांति एवं कानून व्यवस्था पर प्रतिकूल प्रभाव डाले जा सकने के दृष्टिगत जनपद में दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 सात फरवरी 2022 की प्रात: छह बजे से प्रभावी होकर 20 मार्च 2022 की मध्यरात्रि 12 बजे तक जनपद के सभी 31 थाना क्षेत्रों में जिसमें महिला थाना सम्मिलित है लागू रहेगी।

शराब के ठेके गुरुवार शाम तक बंद

शांतिपूर्वक मतदान कराने के लिए प्रशासन ने मंगलवार शाम से गुरुवार शाम तक 48 घंटों के लिए पूरे जिले में शराब के ठेके बंद रखने केआदेश दिये हैं। चुनाव प्रचार समाप्त होने के साथ ही पूरे जिले की सभी सरकारी शराब की दुकानों को 10 फरवरी शाम पांच बजे तक बंद रखने के आदेश हुए हैं। इसको लेकर मंगलवार को शराब की दुकानों पर शराब खरीदने वालों की भीड़ उमड़ पड़ी। लोगों ने लाइनों में लगकर पहले के मुकाबले दोगुनी मात्रा में शराब खरीदी। कई जगहों पर शराब खरीदने वालों की आपस में झड़प भी होती मिली। गौरतलब है कि मतदान के दौरान किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए शासन स्तर पर इस तरह के कदम उठाए जाते हैं।

नियुक्त किये विशेष व्यय प्रेक्षक

जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी के. बालाजी ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग नई दिल्ली द्वारा राज्य के लिए बीआर बाला कृष्णन (आईआरएस, रिटायर्ड) को विशेष व्यय प्रेक्षक नियुक्त किया गया है, जिनका सीयूजी मोबाइल नंबर 9454421568 है। उन्होने बताया कि विधानसभा सामान्य निर्वाचन 2022 के लिए निर्वाचन व्यय अनुवीक्षण से संबंधित किसी भी प्रकार की शिकायत अथवा सूचना विशेष व्यय प्रेक्षक को उनके सीयूजी नंबर पर दी जा सकती है।

10 फरवरी को रहेगा सार्वजनिक अवकाश

जिला जज रजत सिंह जैन ने मंगलवार को अपने आदेश जारी कर 10 फरवरी को जिले में होने वाले विधानसभा चुनाव को देखते हुए सार्वजनिक अवकाश घोषित किया है। वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी का कार्य देख रहे मुकेश कुमार ने बताया कि 10 फरवरी को जिला मेरठ में विधानसभा चुनाव है जिसके कारण वादकारियों व अधिवक्ताओं व सभी को कचहरी आने में परेशानी होगी। जिसको देखते हुए जिला जज रजत सिंह जैन ने 10 फरवरी को मतदान होने के कारण सार्वजनिक अवकाश घोषित कर दिया है।

जनपद में 1540 बूथों पर होगी वेबकास्टिंग

जिला निर्वाचन अधिकारी के. बालाजी ने विधानसभा सामान्य निर्वाचन 2022 की तैयारियों पर प्रकाश डालते हुये बताया कि जनपद मेरठ में कुल 2625849 मतदाता है। जिसमें से 1428672 पुरुष मतदाता, 1196954 महिला मतदाता व 218 अन्य मतदाता है। जनपद में 2962 मतदेय स्थल (बूथ) है तथा 1172 मतदान केन्द्र है।

सातों विधानसभा में मिलाकर कुल 80 प्रत्याशी है। 1540 बूथो पर वेबकास्टिंग की व्यवस्था की गयी है। निर्वाचन को संपन्न कराने के लिए 283 सेक्टर मजिस्ट्रेट, 27 जोनल मजिस्टेÑट तथा 39 स्टेटिक मजिस्टेÑट बनाये गये हैं। जनपद में 409 क्रिटिकल मतदान केन्द्र है। जनपद में प्रत्येक विधानसभा में 01-01 बूथ को पिंक बूथ (महिलाओं द्वारा संचालित) बनाया गया है तथा प्रत्येक विधानसभा में 01-01 बूथ को मॉडल बूथ भी बनाया गया है।

बसपा कैंट विधानसभा प्रत्याशी और उसके समर्थकों पर मुकदमा दर्ज

कैंट विधानसभा क्षेत्र से बसपा प्रत्याशी अमित शर्मा और उसके 100 से 150 समर्थकों पर पुलिस ने बिना अनुमति रोड शो निकालने को लेकर मुकदमा दर्ज कर लिया है। कंकरखेड़ा पुलिस ने बताया कि मंगलवार शाम करीब चार बजे बसपा प्रत्याशी अमित शर्मा अपने 100 से 150 समर्थकों के साथ बिना अनुमति के रोड शो निकाल रहे थे।

जब वह कंकरखेड़ा से सरधना फ्लाईओवर के बीच जा रहे थे। तब कस्बा चौकी इंचार्ज प्रमोद कुमार ने उन्हें रोककर रोड शो की अनुमति दिखाने की मांग की। जिस पर वह अनुमति नहीं दिखाया पाए। आदर्श आचार संहिता के आदेश और निर्देश का उल्लंघन मानते हुए कंकरखेड़ा पुलिस ने धारा 188/171जी, 269/ 270 में अमित शर्मा और उसके समर्थकों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कर लिया है।

रेलवे रोड पुलिस ने अर्द्धसैनिक बल के साथ निकाला मार्च

विधानसभा चुनाव के मद्देनजर मंगलवार को थाना रेलवे रोड पुलिस ने अर्द्धसैनिक बल के साथ संवदेनशील और अतिसंवेदनशील क्षेत्रों में मार्च निकाला। यह मार्च थाना क्षेत्र में करीब दो घंटे तक निकाला गया। इस दौरान पुलिस टीम ने राहगीरों को कोरोना गाइडलाइन का पालन करने और मतदान में बढ़-चढ़कर भाग लेने के लिए जागरूक किया।

मंगलवार दोपहर में अर्द्धसैनिक बल और रेलवे रोड पुलिस ने थाने से मार्च शुरू किया। मार्च के लिए कमांडिंग आफिसर थाना प्रभारी रहे। मार्च थाने से शुरू होकर दिल्ली रोड, बागपत रोड, ईदगाह चौराहा, मछेरान, भूसा मंडी में निकाला गया।

अपराधियों को दी चेतावनी

अर्द्धसैनिक बल और पुलिस मार्च के दौरान उन अपरािधयों के घर पर भी पहुंची जो हिस्ट्रीशीटर हैं या जिन्हें जिलाबदर किया गया है। ऐसे अपराधियों के परिजनों को सख्त लहजे में चेतावनी दी गई। साथ ही किसी भी तरह की संदिग्ध गतिविधियों में शामिल होने पर सख्त कार्रवाई की बात कही। हालांकि उनके परिजनों ने शिकायत नहीं होने देने का आश्वासन दिया है।

पोलिंग बूथों का निरीक्षण

मार्च के दौरान तमाम अतिसंवेदनशील और संवेदनशील क्षेत्रों में बने पोलिंग बूथों का भी पुलिस ने निरीक्षण किया। इस दौरान सुरक्षा से जुड़ी तमाम तकनीकि बातों का निरीक्षण किया गया। यह सुनिश्चित करने का प्रयास किया गया कि मतदान के दौरान किसी प्रकार की गड़बड़ी न होने पाए। साथ ही आसपास के लोगों को बगैर किसी खौफ के मतदान करने के लिए प्रेरित किया और बताया कि पुलिस प्रशासन ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए हुए हैं।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
2
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments