Thursday, April 25, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsShamliभारत के चिंतक और समाज सुधारक थे महर्षि दयानंद सरस्वती

भारत के चिंतक और समाज सुधारक थे महर्षि दयानंद सरस्वती

- Advertisement -

जनवाणी संवाददाता  |

शामली: सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलिज शामली में महर्षि दयानंद सरस्वती जयंती समारोह आयोजित किया गया जिसमें महर्षि दयानंद के जीवन पर प्रकाश डाला गया।

शनिवार को विद्यालय में कार्यक्रम का शुभारम्भ मां सरस्वती वंदना और महर्षि दयानंद सरस्वती के चित्र के सम्मुख पुष्पार्चन कर किया गया। मुख्य अतिथि वैदिक इंटर कॉलेज सिसौली के प्रधानाचार्य राजेन्द्र आर्य ने कहा महर्षि दयानंद आधुनिक भारत के चिंतक, समाज सुधारक तथा आर्य समाज के संस्थापक थे। उन्होंने वेदों के प्रचार और आर्यावृत को स्वतंत्रता दिलाने के लिए जीवन पर्यन्त कार्य किया।

वह भारतीय जनमानस में सकारात्मक ऊर्जा का संचार करते थे। उनका वेदों में गहरा विश्वास था। उन्होंने मूर्ति पूजा व कर्मकाडों का जोरदार खंडन किया। आज के परिवेश में उनके अनुयायी वैदिक धर्म की दृढ़ता के लिए प्रतिबद्ध होकर कार्य करते हुए दृष्टिगत होते है। ऐसे महापुरूष के विचार सदैव सजीव रहेंगे। कार्यक्रम में संस्था के प्रधानाचार्य आनंद प्रसाद शर्मा ने आगंतुकों का आभार व्यक्त करते हुए दयानंद सरस्वती के जीवन दर्शन पर विस्तार से प्रकाश डाला। कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रधानाचार्य आनंद प्रसाद शर्मा और संचालन सोमदत्त आर्य ने किया।

इस मौके पर उप प्रधानाचार्य मलूक चंद, आचार्य मोहर सिंह, प्रीतम सिंह, नीटू कश्यप, अंकित भार्गव, ब्रजपाल सिंह, मधुबन शर्मा, पुष्पेन्द्र शर्मा, परितोष शर्मा, योगेंद्र सैनी, सुभाष चंद, अशोक कुमार, प्रदीप कुमार, अरविंद कुमार, अक्षय पुंडीर आदि मौजूद रहे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments